• Home
  • Rajasthan
  • Udaipur
  • Udaipur - इच्छा की कमी नहीं, जागरूकता की कमी से नहीं करते हैं अंगदान, अस्पताल-संस्थान करें जागरूक
--Advertisement--

इच्छा की कमी नहीं, जागरूकता की कमी से नहीं करते हैं अंगदान, अस्पताल-संस्थान करें जागरूक

दैनिक भास्कर, हिंदुस्तान जिंक और मोहन फाउंडे’शन जयपुर सिटीजन फोरम नवजीवन समूह के अंगदान महादान अभियान के तहत...

Danik Bhaskar | Sep 11, 2018, 07:21 AM IST
दैनिक भास्कर, हिंदुस्तान जिंक और मोहन फाउंडे’शन जयपुर सिटीजन फोरम नवजीवन समूह के अंगदान महादान अभियान के तहत सोमवार को गीतांजलि मेडिकल कॉलेज हॉस्पिटल के ऑडिटोरियम में जागरुकता कार्यक्रम हुआ। इसमें डॉक्टरों और नर्सिंग स्टाफ के साथ आमजन ने हिस्सा लिया और लोगों को अंगदान करने के लिए जागरूक करने का संकल्प लिया। कार्यक्रम में डॉक्टरों को ब्रेन डेथ सर्टिफिकेशन के साथ अंगदान प्रत्यारोपण की जानकारी दी गई। हिंदुस्तान जिंक के सीईओ डॉ. किशोर पुजारी ने बताया कि भारत में अंगदान करने वालों की संख्या सिर्फ 8 प्रतिशत है जबकि स्पेन में 34 प्रतिशत से अधिक लोग अंगदान करते हैं। भारत में इनकी संख्या कम होने का कारण इच्छा नहीं होना नहीं, बल्कि जागरुकता की कमी है। देश के विभिन्न मीडिया संस्थान, हॉस्पिटल लोगों को जागरूक करने में सहयोग कर सकते हैं।

जागरूकता के साथ अस्पतालों में सुविधाएं भी बढ़ानी होगी : पल्लवी

मोहन फाउंडे’शन जयपुर सिटीजन फोरम नवजीवन समूह की पल्लवी कुमार ने कहा कि अंगदान को लेकर लोगों को जागरूक करने के साथ अस्पतालों में भी सुविधाएं बढ़ाने की जरूरत है। अस्पतालों में तुरंत ब्रेन डेथ की जानकारी मिल जाए, ऐसी सुविधाएं हो। डॉ. संजय गांधी कार्डिक सर्जन, डॉ. गुल’शन मुखिया नेफ्रोलॉजिस्ट, डॉ. चेतन महाजन नेफ्रोलॉजिस्ट, राजीव पण्डया जीएम ह्यूमन रिसोर्स, डॉ. हिवानी ‘शर्मा, भावना जगवानी, हिंदुस्तान जिंक के डॉ. प्रकाश भंडारी ने कहा कि दैनिक भास्कर, हिन्दुस्तान जिंक अंगदान मुहिम को जन जन तक पहुंचाकर बड़ा काम कर रहा है। इस मुहिम को अंजाम तक पहुंचाने के लिए सरकार के साथ सरकारी व निजी संस्थानों को भी आगे आना होगा।