उदयपुर / मादा पैंथर काे ट्रैंकुलाइज कर मारी गोली, दावा किया- लोगों पर लगातार हमला कर रही थी



female panther was tranquilized and shot
X
female panther was tranquilized and shot

  • जिसे आदमखाेर घोषित किया, पाेस्टमार्टम में खाली मिला उसका पेट, कई दिन से भूखी थी
  • बड़ा सवाल यह भी है कि ट्रैंकुलाइज करने के बाद मादा पैंथर को मारने की क्या जरूरत पड़ी

Dainik Bhaskar

Aug 15, 2019, 01:48 AM IST

टीडी (उदयपुर). उदयपुर में वन विभाग की टीम ने बुधवार दाेपहर टीडी के उपलाखेड़ा क्षेत्र में करीब 10 साल की मादा पैंथर काे ट्रैंकुलाइज करने के बाद गन शाॅट से मार गिराया है। बड़ा सवाल यह है कि आखिर मादा पैंथर को क्यों मार डाला गया। मामले में विभाग के अिधकारियों का दावा है कि यह वहीं मादा पैंथर है जो लगातार लोगों पर हमला कर रही थी। लोग दहशत में थे। इसलिए इसे मारा गया।

 

मादा पैंथर की माैत के बाद उसका पाेस्टमार्टम किया गया। पाेस्टमार्टम में पेट पूरा खाली मिला जिससे सामने आया कि वह कई दिनाें से भूखी थी। देर रात पैंथर का सीसारमा के पास वन क्षेत्र में अंतिम संस्कार किया है। इधर सीसीएफ खेरवा ने कहा कि मानव जीवन के लिए घातक हाेने के कारण मुख्य वन्यजीव प्रतिपालक अरिंदम ताेमर ने शूट के आदेश दिए थे। इसके बाद भी प्राथमिकता थी कि उसकाे पकड़ा जाए।

 

डीएफओ अजय चित्ताैड़ा ने बताया कि मादा पैंथर करीब 10 वर्ष की थी। पहले ट्रैंकुलाइज किया फिर उसकाे गन शाॅट से मारा गया। उपलाखेड़ा निवासी शांतिलाल बुधवार सुबह 8 बजे बाइक से जावर माइंस जा रहा था। तभी मादा पैंथर बाइक के पीछे भागा। शांतिलाल चिल्लाया। इस पर ग्रामीणों ने पैंथर काे भगाया, तो वह पहाड़ी की ओर भागा। ग्रामीणाें ने इसकी सूचना वन विभाग काे दी। वन विभाग की टीम माैके पर पहुंची और पहाड़ी में तलाश शुरू की। पहाड़ी पर एक गुफा में पैंथर दिखाई दिया। बाहर निकालने के लिए टायर जलाया गया। जैसे ही पैंथर बाहर आया शूटर ने शूट कर दिया।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना