• Home
  • Rajasthan
  • Udaipur
  • शिपिंग इंडस्ट्री, पर्यटन और मिनरल माइनिंग की संभावनाएं : डेमेट्रियस
--Advertisement--

शिपिंग इंडस्ट्री, पर्यटन और मिनरल माइनिंग की संभावनाएं : डेमेट्रियस

उदयपुर | उदयपुर चैम्बर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री (यूसीसीआई) भवन में सोमवार को साईप्रस के हाई कमिश्नर डॉ. डेमेट्रियस...

Danik Bhaskar | Apr 17, 2018, 03:05 AM IST
उदयपुर | उदयपुर चैम्बर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री (यूसीसीआई) भवन में सोमवार को साईप्रस के हाई कमिश्नर डॉ. डेमेट्रियस थिओफिलेक्टाउ के साथ एक परिचर्चात्मक बैठक हुई। डॉ. डेमेट्रियस ने यूसीसीआई के सदस्य उद्यमियों और व्यवसायियों को सं‍बोधित करते हुए दोनों देशों के बीच औद्योगिक सहयोग और व्यापार को बढ़ावा देने की संभावनाओं पर विचार व्यक्त किए। डॉ. डेमेट्रियस ने बताया कि साईप्रस पूर्वी भूमध्य सागर में स्थित एक द्वीपीय देश है। मात्र 8 लाख की आबादी वाला यह देश यूरोपियन यूनियन का छोटा लेकिन उन्नत अर्थव्यवस्थाओं में एक महत्त्वपूर्ण देश है। शिपिंग इंडस्ट्री में साईप्रस को यूरोप में तीसरा एवं विश्व का पांचवां स्थान प्राप्त है। ऐसे में यहां शिपिंग इंडस्ट्री के अलावा पर्यटन, मिनरल उत्खनन, नवीनीकरण उर्जा, बैकिंग एवं वित्त, शिक्षा आदि क्षेत्र में व्यापक संभावनाएं है। यूसीसीआई अध्यक्ष हंसराज चौधरी ने साइप्रस हाई कमिश्नर डॉ. डेमेट्रियस को पर्यटन और मिनरल माइनिंग-प्रोसेसिंग को लेकर उदयपुर संभाग की विस्तृत जानकारी दी। पूर्व अध्यक्ष पीएस तलेसरा ने इलेक्ट्रॉनिक्स एवं टेक्नोलॉजी के क्षेत्र में सहयोग बढ़ाए जाने का सुझाव दिया। प्रबंध अध्ययन संकाय की प्रोफेसर डॉ. मीरा माथुर ने उच्च शिक्षा के क्षेत्र में सहयोग पर डॉ. डेमेट्रियस से चर्चा की। पूर्व अध्यक्ष वीपी राठी ने कहा कि इंजीनियरिंग के क्षेत्र में साईप्रस से सहयोग एवं मार्गदर्शन प्राप्त किया जा सकता है।

पुस्तकें भेंट कर साइप्रस आने के लिए किया आमंत्रित

डॉ. डेमेट्रियस ने अध्यक्ष हंसराज चौधरी को साईप्रस के विगत दस हजार वर्षों के प्राचीन इतिहास की पुस्तक भेंट की और यूसीसीआई के प्रतिनिधिमण्डल को दोनों देशों के बीच व्यापार बढ़ाने के उद्देश्य से साईप्रस यात्रा के लिए आमंत्रित किया। कार्यक्रम में यूसीसीआई वरिष्ठ उपाध्यक्ष आशीष छाबड़ा, कार्यकारिणी सदस्या हसीना चक्कीवाला, मानद कोषाध्यक्ष जतिन नागौरी, मानद महासचिव अनिल मिश्रा, पवन तलेसरा, सहित यूसीसीआई सदस्य उद्यमी शामिल हुए।