• Hindi News
  • Rajasthan
  • Udaipur
  • फ्लाइट पर्सर की ट्रेनिंग नहीं देने पर फीस लौटाने व 8 हजार रुपए जुर्माने का आदेश
--Advertisement--

फ्लाइट पर्सर की ट्रेनिंग नहीं देने पर फीस लौटाने व 8 हजार रुपए जुर्माने का आदेश

उदयपुर| विमानों के पेसेंजर ब्लॉक में रहने वाले फ्लाइट पर्सर की ट्रेनिंग न करा आवेदक से ली फीस वापस न करना जिला...

Dainik Bhaskar

May 02, 2018, 07:00 AM IST
उदयपुर| विमानों के पेसेंजर ब्लॉक में रहने वाले फ्लाइट पर्सर की ट्रेनिंग न करा आवेदक से ली फीस वापस न करना जिला उपभोक्ता मंच ने शहर के सेक्टर 14 में चल रहा जेट एज एविएशन इंस्टीट्यूट की मनमानी माना। मंच ने आशार्थी से फीस के रूप में वसूली राशि लौटाने और 8 हजार रुपए जुर्माना देने का आदेश दिया। जयपुर के झोटवाड़ा निवासी निकेश पुत्र गाेवर्धन लाल बाेहरा ने जिला उपभोक्ता मंच में सेक्टर 14 स्थित द पैराडाइज में चल रहे जेट एज एविएशन इंस्टीट्यूट के निदेशक लोकेंद्र सिंह राठौड़ के खिलाफ दावा दायर कराया। इंस्टीट्यूट ने व्यावसायिक कोर्स कराने का प्रचार कर रखा था, जिसमें फ्लाइट पर्सर कोर्स भी शामिल था। कोर्स करने के बाद जॉब दिलाने की गारंटी भी दी गई थी। निकेश ने उदयपुर अाकर राठौड़ से संपर्क किया था। उसे सिर्फ एक सीट खाली बताई गई। फीस तीन किस्त में जमा करानी थी। पहली किस्त एडमिशन के समय, दूसरी नौकरी ज्वाइन करते समय और तीसरी नौकरी लगने के तीन माह बाद देनी थी। इंस्टीट्यूट डायरेक्टर के कहने पर निकेश ने एडमिशन लेते समय ही पूरी फीस 71 हजार 540 रुपए दे दिए थे। फीस जमा करने के बाद ट्रेनिंग शुरू करने के बादे में कोई दिशा निर्देश नहीं दिए। निकेश ने इंस्टीट्यूट के कई चक्कर लगाए थे। संतोषप्रद जवाब देने के बजाय धमकाकर भगा दिया गया था। तहकीकात करने पर उसे इंस्टीट्यूट की गतिविधियां संदिग्ध होने की जानकारी मिली थी। फीस राशि वसूलने के लिए उपभोक्ता मंच में वाद पेश किया। मंच के अध्यक्ष हिमांशु राय नागौरी, सदस्य भारत भूषण ओझा और अंजना जोशी ने परिवादी निकेश बोहरा से ली गई पूरी राशि साढ़े 71 हजार रुपए, मानसिक कष्ट का हर्जाना 5 हजार रुपए और वाद खर्च 3 हजार रुपए दो माह में देने का आदेश दिया।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..