• Hindi News
  • Rajasthan
  • Udaipur
  • जिंक को वित्तीय वर्ष में 9,276 और चौथी तिमाही में 2,505 करोड़ का शुद्ध लाभ
--Advertisement--

जिंक को वित्तीय वर्ष में 9,276 और चौथी तिमाही में 2,505 करोड़ का शुद्ध लाभ

हिन्दुस्तान जिंक ने वित्तीय वर्ष 2018 की चौथी तिमाही में 2,505 करोड़ रुपए का शुद्ध लाभ हासिल किया, जो कि पिछले साल की समान...

Dainik Bhaskar

May 01, 2018, 07:10 AM IST
हिन्दुस्तान जिंक ने वित्तीय वर्ष 2018 की चौथी तिमाही में 2,505 करोड़ रुपए का शुद्ध लाभ हासिल किया, जो कि पिछले साल की समान अवधि की तुलना में 9 प्रतिशत अधिक है। वहीं कंपनी ने वित्तीय वर्ष के दौरान 9,276 करोड़ रुपए का शुद्ध लाभ अर्जित किया है जो गतवर्ष की तुलना में 12 प्रतिशत की वृद्धि दर्शाता है। हिन्दुस्तान जिंक के निदेशक मंडल ने सोमवार को वित्तीय वर्ष और चौथी तिमाही के परिणाम घोषित किए है। बैठक में निदेशक मंडल ने वित्तीय वर्ष 2018 में शेयरधारकों को 4,068 करोड़ रुपए का अंतरिम लाभांश देने की घोषणा की है, जो 400 प्रतिशत है। वहीं यह 2 रुपए के प्रति इक्विटी शेयर पर 8 रुपए है। वहीं जिंक ने 6,277 करोड़ रुपए का राजस्व अर्जित किया जो गतवर्ष की तुलना में 6 प्रतिशत अधिक है। वित्तीय परिणामों की घोषणा के बाद जिंक के चेयरमैन अग्निवेश अग्रवाल ने बताया कि कंपनी का वर्ष 2018 में भूमिगत खदानों का शानदार प्रदर्शन रहा है , जिसने कई बैंचमार्क स्थापित किए है।

उत्पादन भी बढ़ा

जिंक का वित्तीय वर्ष की चौथी तिमाही में सीसा एवं चांदी धातु का सर्वाधिक उत्पादन हुआ है। चौथी तिमाही में 50,000 टन एकीकृत सीसा धातु का उत्पादन हुआ जो समान तिमाही की तुलना में 9 प्रतिशत अधिक तथा गतवर्ष की तुलना में 11 प्रतिशत अधिक है। वहीं तिमाही में 170 एमटी एकीकृत चांदी का उत्पादन हुआ जो समान अवधि की तुलना में 28 प्रतिशत तथा गतवर्ष की तुलना में 22 प्रतिशत अधिक है। वहीं 206,000 टन एकीकृत जस्ता धातु का उत्पादन हुआ जो गत वर्ष की समान अवधि की तुलना में 4 प्रतिशत अधिक है। कंपनी का वित्तीय वर्ष 2018 में 947,000 टन खनित धातु का उत्पादन हुआ है जो गतवर्ष की तुलना में 4 प्रतिशत अधिक है। कंपनी की योजना अनुसार भूमिगत खदानों में सर्वाधिक अयस्क के फलस्वरूप संभव हुआ है।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..