• Home
  • Rajasthan
  • Udaipur
  • रमजान जुमे से, आखिरी रोजा भी जुमे को, 42 पार गर्मी में भूखे-प्यासे इबादत को सलाम
--Advertisement--

रमजान जुमे से, आखिरी रोजा भी जुमे को, 42 पार गर्मी में भूखे-प्यासे इबादत को सलाम

बरकत और रहमत के माह रमजान का आगाज मुबारक जुमा के साथ होगा। शहर का तापमान 42 डिग्री पार है और अकीदतमंद 30 दिन तक 15 घंटे तक...

Danik Bhaskar | May 18, 2018, 07:40 AM IST
बरकत और रहमत के माह रमजान का आगाज मुबारक जुमा के साथ होगा। शहर का तापमान 42 डिग्री पार है और अकीदतमंद 30 दिन तक 15 घंटे तक भूखे-प्यासे रहकर इबादत करेंगे। पहले जुमे पर शहर की सभी मस्जिदों में ज्यादा भीड़ रहेगी। इसे देखते हुए इंतेजामिया कमेटियों ने नमाजियों के लिए खास इंतजामात कर लिए हैं।

शहर की मस्जिदों के इमाम और आलिम माह-ए-रमजान की अहमियत, सवाब और दीनी पहलुओं पर तकरीर करेंगे। अंजुमन तालीमुल इस्लाम के सदर मोहम्मद खलील ने बताया कि सभी मस्जिदों में दोपहर 1.10 बजे तकरीर और करीब 1.30 बजे खुतबा होगा। इसके बाद जुमे की नमाज अदा की जाएगी। मौलाना जुलकरनैन ने बताया कि इससे पहले गुरुवार रात को तरावीह की नमाज पढ़ी गई। बच्चों से लेकर बुजुर्ग नमाजियों तक उत्साह दिखा। कुछ मस्जिदों में कुरआन से तो कुछ में सूरतों से भी तरावीह पढ़ाई गई।

उदयपुर. चेतक सर्किल स्थित पलटन मस्जिद में गुरुवार शाम तरावीह की नमाज पढ़ते अकीदतमंद।

43 मस्जिदों में कमेटियों ने किए इफ्तार के इंतजाम

पहला रोजा सेहरी के समय सुबह 4.19 से इफ्तार के समय शाम 7.13 बजे बाद तक रखा जाएगा। इसे खजूर खाकर और पानी पीकर खोलेंगे। शनिवार सुबह 4:18 बजे सेहरी और शाम 7:14 बजे इफ्तारी हो सकेगी। अंजुमन सचिव मोहम्मद रिजवान ने बताया कि पलटन, धोली बावड़ी, मल्ला तलाई, आयड़ सहित सभी 43 मस्जिदों में इंतजामिया कमेटियों ने इफ्तार के बंदोबस्त किए हैं। रमजान में रोजे रखकर इबादत करने का दौर 30 दिन यानी करीब 30 मई तक चलेगा। इन दिनों मस्जिदों में सुबह 4.45 से 5.15 के बीच फजर की नमाज, दोपहर 1.30 से 2.15 तक जोहर की नमाज, शाम 5.30 से 6 बजे तक असर की नमाज, सूर्यास्त के तुरंत बाद मगरिब की नमाज और रात 9 से 10.30 बजे तक ईशा की नमाज के बाद तराबी की विशेष नमाज भी अदा की जाएगी।

डॉक्टर की नसीहत- तेज गर्मी में रोजेदार ऐसे रख सकते हैं सेहत का खयाल

आरएनटी मेडिकल कॉलेज के मेडिसिन विभागाध्यक्ष डॉ. आर.एल. मीणा व डॉ. महेश दवे ने रोजेदारों को गर्मी की तपिश में भी स्वस्थ रहने के लिए खान-पान पर खास ध्यान देने की जरूरत बताई है। सुबह सेहरी के समय खाना खाने के बाद पेट भर कर पानी, नींबू पानी, लस्सी आदि पीना बेहतर है। धूप में ज्यादा देर न रहें और दिन में ऐसा कोई काम न करें, जिसमें पसीना निकले। शरीर में पानी की कमी हाे सकती है। शाम को इफ्तारी के समय छाछ, लस्सी, नींबू पानी, तरबूज, नारियल पानी, जूस, दही आदि का इस्तेमाल ज्यादा से ज्यादा करें। तली और तेज मसालेदार खाद्य सामग्री का उपयोग कम से कम करें।