• Hindi News
  • Rajasthan
  • Udaipur
  • Udaipur News rajasthan news among the offenses like rape and murder alwar is the highest in the state bharatpur second udaipur at number three jaisalmer is the coolest

रेप-मर्डर जैसे अपराधाें में प्रदेश में अलवर अव्वल, भरतपुर दूसरे तो उदयपुर तीसरे नंबर पर, जैसलमेर सबसे शांत

Bhaskar News Network

May 18, 2019, 10:41 AM IST

Udaipur News - दुष्कर्म के हर साल औसत 264, हत्या के 109, लूट के 50 और चोरी के 2885 दर्ज केसाें के साथ अलवर प्रदेश में अपराधाें के मामले में...

Udaipur News - rajasthan news among the offenses like rape and murder alwar is the highest in the state bharatpur second udaipur at number three jaisalmer is the coolest
दुष्कर्म के हर साल औसत 264, हत्या के 109, लूट के 50 और चोरी के 2885 दर्ज केसाें के साथ अलवर प्रदेश में अपराधाें के मामले में अव्वल है। स्टेट क्राइम ब्यूरो के तीन साल के अांकड़ाें के अाैसत के हिसाब से हर साल औसतन 216 रेप अाैर हत्या के 93 मामलों के साथ भरतपुर दूसरे और दुष्कर्म के 201 अाैर हत्या के 89 दर्ज अपराधों के साथ उदयपुर तीसरे नंबर पर है। 5 या ज्यादा लोगों द्वारा मिलकर अपराध करने के दौरान लगाई जाने वाली आईपीसी की दंगारोधी धारा 147 के अपराधों के मामले में हर साल औसत 91 सहित कुल 272 अपराधों के साथ उदयपुर इस लिस्ट में सबसे ऊपर है। इस वर्ष चोरी के मामलों में जयपुर ईस्ट 3238 केस के साथ आगे रहा। साल 2014 में अलवर में सबसे ज्यादा रेप के 299 मामले, हत्या के 104, चोरी के 3189, 2015 में दुष्कर्म के 254, हत्या के 112 मामले दर्ज हुए। साल 2016 में 239 रेप और 111 हत्याओं के केस अलवर में दर्ज हुए। इन तीन वर्षों के अपराध डाटा में क्रमश: 107, 100 और 65 के साथ उदयपुर सबसे ज्यादा दंगा पीड़ित क्षेत्र रहा है। हालांकि हर साल ये आंकड़ा घटता गया। 2014 ऐसा साल रहा जब उदयपुर हत्या के प्रयास 126 और लूट के 124 मामलों में भी पुलिस के बांटे हुए इन 42 जिलों में सबसे ऊपर रहा। प्रदेश के 33 जिलों के हिसाब से देखा जाए तो जयपुर में प्रत्येक अपराध दूसरे जिलों की तुलना में 3 से 5 गुना तक ज्यादा है। पुलिस ने प्रदेश को अपने हिसाब से 42 जिलों में बांट रखा है। इनमें जयपुर के नार्थ, साऊथ, ईस्ट, वेस्ट और रूरल हैं तो जोधपुर के ईस्ट, वेस्ट और रूरल हैं। इनके साथ में जीआरपी अजमेर और जोधपुर को भी जोड़ा गया है। 2016 से इसमें जयपुर मेट्रो, एसओजी, एसएसबी और सीसीपीएस को जोड़ने पर अब ये संख्या 46 हो गई है। पुलिस अपराध का विवरण इसी तरह बांटती, देखती और समझती है। अलवर गैंग रेप कांड के बाद से वहां 2 एसपी बैठाने की घोषणा की गई।

स्टेट क्राइम ब्यूरो के तीन साल के आंकड़ों के आधार पर प्रदेश में अपराधों का एनालिसिस

साल दर साल कुछ अपराध बढ़े तो कुछ घटे

अलवर के बाद साल 2014 में उदयपुर में रेप के 229, भरतपुर में 219 केस हुए। हत्या के भरतपुर में 99 और उदयपुर में 90 केस दर्ज हुए। जबकि चौथे नंबर पर प्रतापगढ़ में 202 दुष्कर्म केस दर्ज हुए। 2015 में उदयपुर में रेप के 191 और हत्या के 88 मामले हुए। लिस्ट में दूसरे नंबर पर भरतपुर में दुष्कर्म के 244 और हत्या के 86 प्रकरण दर्ज हुए। वर्ष 2016 में भरतपुर में रेप के 186 और हत्या के 92, वहीं उदयपुर में तीसरे नंबर पर 185 दुष्कर्म और 88 हत्या केस सामने आए।

2017-2019 तक लगभग दोगुने दुष्कर्म केस

प्रदेश में साल 2017 में हत्या के 411, 2018 में 479 और अप्रैल 2019 तक 490 केस दर्ज हुए हैं। दुष्कर्म के 2017 में जहां 960 केस हुए थे। 2018 में 1312 और 2019 तक लगभग दुगने होकर 1509 केस पहुंच चुके हैं।

कौनसे अपराध में कौनसा जिला आगे (2014 से 2016)

जिला रेप हत्या लूट डकैती चोरी

1.अलवर 792 327 152 80 8655

औसत 264 109 50 27 2885

2.भरतपुर 649 277 75 5 4224

औसत 216 93 25 2 1408

3.उदयपुर 605 266 282 8 2558

औसत 201 89 94 3 852

उदयपुर में 2017 में कम हुअा क्राइम : 2017 में हत्या के 74, दुष्कर्म के 154, डकैती के 1, लूट के 84, अपहरण के 254, चोरी के 836 केस दर्ज हुए। जो 2016 के मुकाबले कम रहे। इस वर्ष 6899 केस दर्ज हुए।

ज्योग्राफिकल आधार पर होते हैं अपराध : रिटायर्ड एएसपी

वैसे तो अपराध ज्योग्राफिकल कंडिशन पर काम करते हैं। अपराध को पहले रोक पाना पूरी तरह संभव नहीं है, लेकिन निरोधात्मक कार्रवाई, प्रो एक्टिव पुलिसिंग और आदतन अपराधियों पर नकेल से कुछ हद तक कमी संभव है। -सुरेश चंद्र पंड्या, रिटायर्ड एएसपी

उदयपुर में रेप के 201, हत्या के 89 केस सालाना औसत

जैसलमेर में सबसे कम अपराध, दूसरे नंबर पर कई दावेदार

हत्या और दुष्कर्म जैसे गंभीर अपराधों में जैसलमेर सबसे शांत जिला रहा है। वर्ष 2014 में दुष्कर्म के 10 और हत्या के 12, 2015 में क्रमश: 9 और 11, साल 2016 में दुष्कर्म के 10 और हत्या के केवल 8 मुकदमे दर्ज हुए। इन दोनों कैटेगरी के सबसे कम अपराधों में 2014 में दुष्कर्म में जोधपुर ईस्ट 25, जयपुर नॉर्थ में 16 हत्या के केस दर्ज हुए। 2015 में रेप के दूसरे सबसे कम अपराधों वाला जिला जालोर 29 रहा। हत्या के मामले में जोधपुर ईस्ट 14 केस के साथ नंबर 2 रहा। 2016 में फिर से तस्वीर बदली और सबसे कम दुष्कर्म के 27 केस जोधपुर ईस्ट में हुए। हत्याओं का सबसे कम आंकड़ा 15 का कोटा सिटी का रहा।

X
Udaipur News - rajasthan news among the offenses like rape and murder alwar is the highest in the state bharatpur second udaipur at number three jaisalmer is the coolest
COMMENT

किस पार्टी को मिलेंगी कितनी सीटें? अंदाज़ा लगाएँ और इनाम जीतें

  • पार्टी
  • 2019
  • 2014
336
60
147
  • Total
  • 0/543
  • 543
कॉन्टेस्ट में पार्टिसिपेट करने के लिए अपनी डिटेल्स भरें

पार्टिसिपेट करने के लिए धन्यवाद

Total count should be

543