10 दिन में नालों की सफाई कराए निगम, ट्रांसफार्मर तार दुरुस्त करें, जर्जर भवन मालिकों को चेतावनी दें

Udaipur News - जिला प्रशासन ने मानसून से पहले ही बाढ़ और अतिवृष्टि से बचाव के लिए जिले के आला अधिकारियों को अलर्ट कर दिया है।...

Bhaskar News Network

Jun 14, 2019, 11:15 AM IST
Udaipur News - rajasthan news correction of drains in 10 days repair transformer wire warn shabby building owners
जिला प्रशासन ने मानसून से पहले ही बाढ़ और अतिवृष्टि से बचाव के लिए जिले के आला अधिकारियों को अलर्ट कर दिया है। कलेक्टर आनंदी ने विभिन्न विभागीय अधिकारियों को आदेश जारी संभावित बाढ़ से बचाव की पूरी तैयारी सप्ताह भर में करने के लिए पाबंद किया है। नगर विकास प्रन्यास, नगर निगम, नगर पालिका बोर्ड को नालों की सफाई 10 दिन करानी होगी। 15 जून से नियंत्रण कक्ष स्थापित किए जाएंगे, जो 24 घंटे चलेंगे। नाविकों और गोताखोरों की टीम मय फायर ब्रिगेड जैसे संसाधनों के उपलब्ध रहेगी। उपखंड अधिकारियों और तहसीलदारों को जलभराव क्षेत्रों का चिन्हीकरण और वहां के निवासियों को आपात स्थिति में स्थानांतरित करने के लिए आश्रय स्थलों के निर्धारण करने, गांव के पटवारी, एएनएम और एक-एक व्यक्ति के नाम मय फोन नंबर तैयार कर भिजवाने के आदेश दिए हैं। जर्जर व गिरने योग्य मकानों को चिन्हित कर मकान मालिक को लिखित चेतावनी जारी करने और जरूरत होने पर सीआरपीसी नियम 133 के तहत कार्रवाई करने को कहा गया है। पिकनिक स्पॉट्स पर चेतावनी बोर्ड, सुरक्षा गार्ड लगवाने और पानी में बहने, बिजली गिरने आदि से कोई जनहानि होती है तो उसकी सूचना तुरंत जिला आपदा प्रबंधन केंद्र को भिजवाने के निर्देश दिए।

सप्ताहभर में बांधों की मरम्मत-रखरखाव का काम करना होगा

कलेक्टर ने जल संसाधन विभाग को वार्निंग सिस्टम के संचालन के परीक्षण करने, विभिन्न तालाब, एनिकट व अन्य जल संग्रहण ढांचों का निरीक्षण एक सप्ताह में कर सुरक्षा की आवश्यक तैयारियां सुनिश्चित करने, सुदृढीकरण, बांधों के गेट आदि की आइलिंग-ग्रीसिंग करने, बांधों पर वायरलेस सेट स्थापित करने, जलाशयों के भराव, बहाव क्षेत्रों के आस-पास चेतावनी सूचक बोर्ड लगाने, कलेक्टर की अनुमति के बिना अधिकारियों-कर्मचारियों का अवकाश स्वीकृत नहीं देने, बांधों व तालाबों के जल स्तर पर निगरानी, गेट खोलने की पूर्व सूचना नियंत्रण कक्ष को देने के निर्देश दिए हैं।

जिला परिषद सीईओ के चेताया- जर्जर स्कूल-दफ्तारों का उपयोग नहीं होने दें

कलक्टर ने जिला परिषद के सीईओ कमर चौधरी को निर्देश दिए हैं कि जल संसाधन विभाग ग्रामीण विकास एवं पंचायतीराज को हस्तांतरित छोटे तालाबों के रखरखाव, मरम्मत व सुरक्षा संबंधी उपाय सुनिश्चित करें। जर्जर और गिरने योग्य विद्यालय भवन और राजकीय भवनों का उपयोग नहीं किया जाए। ग्रामीण क्षेत्रों में मृत पशुओं के तत्काल निस्तारण हेतु व्यवस्थाएं सुनिश्चित करने हेतु संबंधित एजेंसियों को पाबंद करने के भी निर्देश दिए गये।

रसद विभाग खाने के पैकेट और चिकित्सा विभाग जीवन रक्षक दवाओं का इंतजाम रखे

कलेक्टर ने रसद विभाग को मानसून अवधि में नियंत्रण कक्ष स्थापित करने, उचित मूल्य की दुकानों पर खाद्यान्न की पर्याप्त उपलब्धता सुनिश्चित करवाने, आपात स्थिति में प्रभावित परिवारों को भोजन पैकेट वितरित करने के लिए भोजन की दरें पहले से ही निर्धारित करने के लिए कहा है। चिकित्सा विभाग को जीवन रक्षक दवाइयों की उपलब्धता सुनिश्चित करने, मोबाइल चिकित्सा दल तैयार रखने मौसमी बीमारियों से बचाव के पुख्ता इंतजाम करने आदि के निर्देश दिए हैं।

बिजली निगम जमीन पर पड़े ट्रांसफॉर्मर को जल्द से जल्द हटवाए वरना कार्रवाई

बिजली निगम को बिजली की लाइनों के रखरखाव, क्षतिग्रस्त खंभों की मरम्मत, आपात स्थिति में विद्युत व्यवस्था सुचारु बनाए रखने, जमीन पर पड़े ट्रांसफॉर्मर को डीपी पर रखने के निर्देश दिए हैं। लोक निर्माण विभाग को पुलियाओं, सड़कों के सुदृढ़ीकरण, वैकल्पिक मार्गों की व्यवस्था, प्रत्येक एईएन हेडक्वार्टर पर मिट्टी, रेत के 500 कट्टे भरवाकर रखने, पुलियाओं पर चेतावनी बोर्ड लगाने, उच्चतम जल प्रवाह सीमा के अंकन करने के निर्देश दिए हैं। पीएचईडी को वर्षाकाल में शुद्ध पेयजल उपलब्ध करवाने के लिए पाबंद किया गया है।

X
Udaipur News - rajasthan news correction of drains in 10 days repair transformer wire warn shabby building owners
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना