कांग्रेस में निरंतर सक्रियता और बैठकों पर जोर

2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
उदयपुर | पुनर्गठन/सीमांकन/नवसर्जन प्रक्रिया को लेकर शनिवार काे उदयपुर देहात जिला कांग्रेस कमेटी की बैठक हुई। देहात जिला अध्यक्ष लालसिंह झाला ने कहा कि कई पंचायतें हैं जिसको पूर्व में पुनर्गठन के समय अलग-थलग सीमांकन कर बनाया गया है। पंचायतों के कई गांव पहाडों के दोनों छोर पर बसे हैं जिससे वहां की जनता को पंचायत कार्यालय तक पहुंचने में समस्याओ का सामना करना पड़ता है। ऐसी पंचायतों को पुनर्गठन के समय पास की पंचायतों में मिलाने का प्रस्ताव भी डाला जाए। कई पंचायत समितियों के मुख्यालय के पास की पंचायतों का विलय करवाने का प्रस्ताव भी बनाएं। प्रस्ताव जल्द से जल्द बनवा कर जिला कांग्रेस कमेटी तक पहुंचाया जाए। झाला ने कहा कि 1 जुलाई को सभी ब्लाॅक कांग्रेस कमेटियों की बैठक होगी अाैर इस पर स्थानीय स्तर पर चर्चा कर प्रस्ताव तैयार किए जाएंगे। देहात कांग्रेस प्रवक्ता टीटू सुथार ने बताया कि पूर्व जिला प्रमुख छगनलाल जैन, पूर्व जिलाध्यक्ष ख्यालीलाल सुहालका, पूर्व उप जिला प्रमुख श्यामलाल चाैधरी, रामलाल गाडरी ने पुनर्गठन के प्रस्तावों के बारे में बताया। पूर्व देहात जिलाध्यक्ष ख्याली लाल सुहालका ने कहा पंचायत समिति स्तर पर मीटिंग हाेनी चाहिए। भूमि विकास बैंक के पूर्व अध्यक्ष मथुरेश नागदा ने कहा कि ब्लाॅक अध्यक्ष, विधायक प्रत्याशी अाैर स्थानीय कार्यकर्ता मिलकर ही सही सीमांकन की जानकारी दे सकते हैं।

खबरें और भी हैं...