अालमशाह की कहानियाें में थे सांप्रदायिक भेद खत्म करने वाले पात्र : प्राे. सुधीर

Udaipur News - वरिष्ठ राजनैतिक विश्लेषक अाैर लाेककथाकार मुख्य अतिथि प्राे. वेददान सुधीर ने कहा है कि साहित्यकार आलमशाह खान ने...

Bhaskar News Network

May 18, 2019, 10:40 AM IST
Udaipur News - rajasthan news in the stories of almamshah the characters who ended the communal distinction sudhir
वरिष्ठ राजनैतिक विश्लेषक अाैर लाेककथाकार मुख्य अतिथि प्राे. वेददान सुधीर ने कहा है कि साहित्यकार आलमशाह खान ने अपनी कहानियों अाैर साहित्य के माध्यम से जाे सेक्युलर करेक्टर डवलप किए हैं, वे लिंगभेद के साथ धार्मिक अाैर सांप्रदायिक भेदभाव काे खत्म करते हैं, एेसा लेखक हाेना बहुत मुश्किल है। प्राे. सुधीर ने यह बात शुक्रवार काे आलमशाह खान यादगार समिति अाैर श्रमजीवी काॅलेज के अंग्रेजी विभाग के साझे में हुए संगोष्ठी में कही। वेददान ने कहा कि उनकी कहानियां ठेठ गली कूंचे में पैदा हुए लाेगाें की भाषा अाैर अभिव्यक्ति काैशल काे दर्शाती हैं। उनकी हर कहानी दलिताें-वंचितों की कहानी हैं। इतिहास अाैर संस्कृति के जानकार श्रीकृष्ण जुगनू ने कहा कि साहित्यकार के निधन पर बड़ी मुश्किल से एक काॅलम खबर मिलती है, लेकिन दैनिक भास्कर ने आलमशाह के निधन पर विशेषांक दिया, जिसमें नंद बाबू सहित शहर के वरिष्ठ साहित्यकार ने शब्दांजलि दी। कार्यक्रम में प्राे. आलमशाह खान यादगार समिति के अध्यक्ष आबिद अदीब, प्राे. हेमेन्द्र, प्राे.अरुण चतुर्वेदी, उग्रसेन राव, हिमांशु पंड्या, दुर्गाशंकर पालीवाल अादि मौजूद थे।

आलमशाह का साहित्य अंततः करुणा उत्पन्न करता है : चतुर्वेदी

विशिष्ट अतिथि प्राे. मंजू चतुर्वेदी ने कहा कि उनका साहित्य अंततः करुणा उत्पन्न करता है। उनके पात्र विषमता के लोक में जीते हुए मानवीय संवेदना जगाने वाले हैं। खान साहब के अाने की सूचना पर नंद बाबू पूरी तैयारी के साथ बरामदे में उनके स्वागत के लिए बैठ जाते थे। वे कहते थे कि हिन्दी के बहुत बड़े कहानीकार अा रहे हैं।

बेटी तराना ने पढ़ी पिता की कहानी

बहुचर्चित कहानी परायी प्यास का सफर का वाचन उनकी बेटी डाॅ. तराना परवीन ने किया। सह आचार्य डाॅ. इन्दिरा जैन ने कहानी किराये की कोख, एक गधे की जन्म कुण्डली, सांसों का रेवड आदि पर केन्द्रित आलेख प्रस्तुत किया। डाॅ इन्द्र प्रकाश श्रीमाली अाैर ज्याेति पुंज पंड्या ने भी उनकी कहानियाें की चर्चा की।

X
Udaipur News - rajasthan news in the stories of almamshah the characters who ended the communal distinction sudhir
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना