• Hindi News
  • Rajasthan
  • Udaipur
  • Udaipur News rajasthan news truth the spark of truth thrown in mewar had to be applied to the right to information act
विज्ञापन

सत्य : मेवाड़ में छिड़ी सत्य की चिंगारी, लागू करना पड़ा सूचना का अधिकार अधिनियम

Bhaskar News Network

Apr 17, 2019, 10:35 AM IST

Udaipur News - चना का अधिकार अधिनियम यानी वाे सत्य जिसे सबकाे जानने का अधिकार है। इस अांदाेलन की चिंगारी राजसमंद के छाेटे से...

Udaipur News - rajasthan news truth the spark of truth thrown in mewar had to be applied to the right to information act
  • comment
चना का अधिकार अधिनियम यानी वाे सत्य जिसे सबकाे जानने का अधिकार है। इस अांदाेलन की चिंगारी राजसमंद के छाेटे से कस्बे भीम से 1994 में उठी थी। मजदूर किसान शक्ति संगठन के बैनर तले निखिल डे, अरुणा रॉय, शंकर सिंह आदि के नेतृत्व में 1994 में मजदूरों का हक हड़पने वालों के खिलाफ बुलंद की गई थी। जावर में 1995 और जयपुर में 1996 में धरना दिया। सत्य की इस लड़ाइर् में इन्हें लंबा संघर्ष करना पड़ा। इसके बाद सरकार को झुकना पड़ा अाैर सूचना का अधिकार अधिनियम 2005 लागू किया। ये अाज अाम नागरिकाें का मजबूत हथियार है जाे उन्हें सच जानने का अधिकार देता है।

जैन धर्म के पांच सिद्धांत हैं...भास्कर उन किरदाराें काे पाठकाें के सामने लाया है जिन्हाेंने इन सिद्धांताें काे अपने जीवन का ध्येय बनाया। पढ़िए इनकी प्रेरणादायक कहानियां...

अहिंसा : 17 साल से अमेरिका के जिम, प|ी-बेटी के साथ बेजुबान जानवरों की सेवा में जुटे



मेरिका के 76 वर्षीय प्रोफेसर जिम अपनी प|ी एरिका और बेटी क्लेयर के साथ 17 साल उदयपुर में रह कर बेजुबान पशुओं-जानवरों की सेवा कर रहे हैं। यहां वर्ष 2000 में उनके सामने एक श्वान का बच्चा सड़क हादसे में मर गया था। उसकी जान नहीं बचा सकने का उन्हें मलाल रहा। वर्ष 2002 में बड़ी गांव में निशुल्क उपचार केंद्र एनिमल एड नामक संस्था खोली। इनकी 70 सदस्यीय टीम 75 हजार से ज्यादा कुत्तों, गधों, कबूतरों, तोतों सहित अन्य बेजुबानों काे नई जिंदगी दे चुके हैं। यहां हर समय 500 से ज्यादा जानवर, पशु और पक्षी रहते हैं। इनका उद्देश्य लोगों में अहिंसा अाैर प्रेम की अलख जगाना है।

उदयपुर

अपरिग्रह : मेवाड़ के प्रधान अमरचंद बड़वा ने राष्ट्र सेवा में अपना सब कुछ त्यागा

मे

वाड़ के प्रधान (प्रधानमंत्री) ठाकुर अमरचंद बड़वा अपरिग्रह के अमर उदाहरण हैं। इतिहासकार डॉ. श्रीकृष्ण जुगनू व अन्य बताते हैं कि उदयपुर पर जब सिंधिया ने आक्रमण किया और मराठा ताक में थे। वे महाराणा के सबसे विश्वस्त थे। प्रत्येक फैसला बड़वा में हाथ में छोड़ते थे। बड़वा ने निष्काम सेवा की, लेकिन दासी ने उन पर आरोप लगा दिए। जबकि वे कालाबाजारी का अनाज निकलवा कर जनता तक पहुंचवा रहे थे। तनख्वाह तक नहीं ली अाैर अपने पास कुछ नहीं रखा। यहां तक कि अपनी जमा पूंजी कपड़े तक भी महलों में भिजवा दिए। अपनी निष्ठा पर कभी आंच नहीं आने दी।

बुधवार 17 अप्रैल, 2019|2

अचौर्य : कभी थे हिस्ट्रीशीटर, 26 केस दर्ज थे, अब लाला जगा रहे नशा मुक्ति की अलख

दी

वानशाह कॉलोनी, पटेल सर्कल निवासी 33 वर्षीय जावेद उर्फ लाला ने रैना पहल फाउंडेशन के तहत पिछले तीन साल से शहर में नशामुक्ति की पहल छेड़ रखी है। करीब 100 परिवारों के मुखियाओं को स्मेक, अफीम, गांजा, शराब जैसे नशे से मुक्ति भी दिलवा चुके हैं। हैरानीजनक बात यह है कि कभी सूरजपाेल थाने के हिस्ट्रीशीटर रहे लाला इससे पहले खुद नशे के कारोबार में लिप्त बताए जाते थे। इन पर लूट, जानलेवा हमले जैसे करीब 26 केस दर्ज थे। लाला का कहना है कि इस दुनिया काे अच्छार्इ से ही जीता जा सकता है। दूसरे का दिल दुखाना अाैर कुमार्ग पर चलना सबसे बड़ा पाप है।

ब्रह्मचर्य : गवरी मंचन करने वाले पात्र 40 दिन तक रखते हैं शील और संयम का व्रत

ब्र

ह्मचर्य जीवन की राह पर जैन मुनि-साध्वियां तो अग्रसर रहते ही हैं। वहीं मेवाड़ के लोकनृत्य गवरी के कलाकार भी प्रतिवर्ष ठंडी राखी से 40 दिन तक ब्रह्मचर्य जीवन जीने के लिए अपने-अपने घरों से दूर रहते हैं। डॉ. श्रीकृष्ण जुगनू बताते हैं कि गवरी नृत्य लेने वाले प्रमुख मांझी पात्र के कलाकार संयमित जीवन जीने के लिए घरों से दूर मंदिरों में ही रहते हैं। गांव-गांव गवरी का मंचन करते हैं। अादिवासियाें के इस लाेक नृत्य का उद्देश्य जीवन में संयम अाैर शील का महत्व बताना है। इस व्रत के दाैरान वे तामसिक चीजाें का परित्याग कर सात्विक जीवन जीते हैं।

Udaipur News - rajasthan news truth the spark of truth thrown in mewar had to be applied to the right to information act
  • comment
Udaipur News - rajasthan news truth the spark of truth thrown in mewar had to be applied to the right to information act
  • comment
Udaipur News - rajasthan news truth the spark of truth thrown in mewar had to be applied to the right to information act
  • comment
Udaipur News - rajasthan news truth the spark of truth thrown in mewar had to be applied to the right to information act
  • comment
Udaipur News - rajasthan news truth the spark of truth thrown in mewar had to be applied to the right to information act
  • comment
X
Udaipur News - rajasthan news truth the spark of truth thrown in mewar had to be applied to the right to information act
Udaipur News - rajasthan news truth the spark of truth thrown in mewar had to be applied to the right to information act
Udaipur News - rajasthan news truth the spark of truth thrown in mewar had to be applied to the right to information act
Udaipur News - rajasthan news truth the spark of truth thrown in mewar had to be applied to the right to information act
Udaipur News - rajasthan news truth the spark of truth thrown in mewar had to be applied to the right to information act
Udaipur News - rajasthan news truth the spark of truth thrown in mewar had to be applied to the right to information act
COMMENT
Astrology

Recommended

Click to listen..
विज्ञापन

किस पार्टी को मिलेंगी कितनी सीटें? अंदाज़ा लगाएँ और इनाम जीतें

  • पार्टी
  • 2019
  • 2014
336
60
147
  • Total
  • 0/543
  • 543
कॉन्टेस्ट में पार्टिसिपेट करने के लिए अपनी डिटेल्स भरें

पार्टिसिपेट करने के लिए धन्यवाद

Total count should be

543
विज्ञापन