--Advertisement--

उदयपुर: 'भारत बंद' के आह्वान पर 30 में 29 छात्रों ने लिया सामूहिक अवकाश; एक छात्रा के लिए स्कूल खुला, टीचर आया और पढ़ाई हुई

एसएमसी अध्यक्ष, वार्डपंच सहित 29 बच्चों के अभिभावकों ने स्कूल पहुंचकर मांगा था सामूहिक अवकाश

Danik Bhaskar | Sep 07, 2018, 06:11 AM IST

फलासिया (उदयपुर). सर्वसमाज की ओर से शुक्रवार को आहूत बंद के बीच राजस्थान के उदयपुर जिले में गोगुंदा पंचायत समिति क्षेत्र में जेलई कला का राजकीय प्राथमिक स्कूल लोगों में चर्चा का केन्द्र रहा। यहां नामांकित कुल 30 में से 29 बच्चों के अवकाश लेने के कारण महज एक छात्रा के लिए स्कूल खोलना पड़ा। संस्था प्रधान के भी अभिभावकों के दबाव में अवकाश लेने पर बालिका को पढ़ाने के लिए एक अध्यापक को भी आधे दिन प्रतिनियुक्ति पर लगाना पड़ा। संस्था प्रधान रमेश शर्मा ने बताया कि गुरुवार सुबह एसएमसी अध्यक्ष चुन्नीलाल सुथार, वार्डपंच मनोहर लाल सहित 29 बच्चों के अभिभावक स्कूल पहुंचे और उन्हें लिखित पत्र सौंपकर बच्चों के अवकाश लेने का आग्रह किया। इधर, संस्था प्रधान शर्मा ने भी आधे दिन का अवकाश लेते हुए प्रार्थना पत्र संबंधित पीईईओ प्रभुदयाल सैनी को पेश कर दिया। पीईईओ की जानकारी में आया कि स्कूल में नामांकित छात्रा लगभग 2 किलोमीटर दूर से पढ़ने के लिए पहुंची है। इस पर हाथों-हाथ एक अन्य शिक्षक कन्हैयालाल मेघवाल को आधे दिन की प्रतिनियुक्ति पर जेलई कला स्कूल में लगाते हुए भेजा, जिन्होंने छात्रा को पढ़ाया।

प्रार्थना पत्र देकर स्वीकृति मांगी थी : संस्था प्रधान ने सूचना दी थी कि अभिभावकों ने बच्चों के सामूहिक अवकाश का प्रार्थना पत्र देने के साथ ही उनको भी आधे दिन अवकाश की अपील की थी। संस्था प्रधान के प्रार्थना पत्र पर छुट्टी स्वीकृत कर दी। हालांकि बाद में एक छात्रा के स्कूल आने की जानकारी पर अन्य शिक्षक को भेजा। -प्रभुदयाल सैनी, पीईईओ, राउमावि समीजा