• Hindi News
  • Rajasthan
  • Udaipur
  • Udaipur - the chemicals used in the minutes were made from fake ghee packed in brand compartments and used to supply half the price in the city
--Advertisement--

केमिकल से मिनटों में तैयार करते थे नकली घी, ब्रांड के डिब्बों में पैक कर शहर में आधे दाम पर करते थे सप्लाई

प्रतापनगर थाना पुलिस ने नकली घी बनाने की फैक्ट्री पर छापा मारा और 15-15 किलो के 42 नकली घी से भरे टीन बरामद किए। वैशाली...

Dainik Bhaskar

Nov 11, 2018, 09:35 AM IST
Udaipur - the chemicals used in the minutes were made from fake ghee packed in brand compartments and used to supply half the price in the city
प्रतापनगर थाना पुलिस ने नकली घी बनाने की फैक्ट्री पर छापा मारा और 15-15 किलो के 42 नकली घी से भरे टीन बरामद किए। वैशाली नगर के पंकज पुत्र विनोद कुमार गुप्ता और तेल बाजार धानमंडी के शिवम पुत्र भेरूलाल नैणवा को गिरफ्तार किया। थानाधिकारी हनवंत सिंह ने बताया कि सूचना मिली थी कि नेशनल हाइवे-76 पर अल्टो कार आरजे 27 सीए 2646 में बैठे पंकज और शिवम नकली घी की सप्लाई करने वाले हैं। मौके पर पहुंच कार से दोनों को गिरफ्तार किया और तलाशी ली तो कार से 13 नकली घी के डिब्बे मिले। पूछताछ में पंकज की फैक्ट्री ढिकली स्थित शिव शक्ति फूड कंपनी से घी लेना बताया। तलाशी के दौरान 28 टीन वनस्पति घी और 28 टीन रिफाइंड तेल के डिब्बों के साथ अलग-अलग प्रकार की मशीनें बरामद कीं। इसके अलावा 29 नकली घी के टीन भी बरामद हुए।

बाजार में 400 रुपए किलो भाव, मंशापूर्ण महादेव व्रत के दिन 180 रुपए प्रति किलो में बेचने का था प्लान

कार्रवाई में बरामद नकली घी और गिरफ्तार आरोपी।

पुलिस कर रही पड़ताल- शहर की किन दुकानों में होती थी सप्लाई

मौके पर खाद्य सुरक्षा अधिकारी अनिल भारद्वाज को बुलाया गया। जांच में नकली घी होना बताया। दोनों से पूछताछ की जा रही है कि अब तक कहां-कहां और कितने डिब्बों की सप्लाई की गई है। पुलिस ने दोनों के खिलाफ आईपीसी धारा 420, 272 ,120 बी के तहत मुकदमा दर्ज किया है। जहां बाजार में घी 350 रुपए प्रति किलो से लेकर 500 रुपए प्रति किलो बिक रहा है वहीं आरोपी 180 रुपए प्रति किलो में बाजार में सप्लाई करने वाले थे। वह भी किसी अन्य ब्रांड के डिब्बों में नकली घी डालकर। आरोपियों ने रविवार को होने वाले मंशापूर्ण महादेव व्रत के दिन शहर सहित ग्रामीण क्षेत्र में भारी मात्रा में सप्लाई करने की प्लानिंग बना रखी थी।

शुरू ही करने वाले थे नई खेप तैयार करना कि आ पहुंची पुलिस की टीम

एसआई गणपत सिंह ने बताया कि वनस्पति घी और रिफाइंड सोयाबीन तेल को मिलाकर उसमें केमिकल डालकर घी बनाते थे। इससे एक बार देखने और सूंघने पर घी जैसी ही खुशबू आती है। छापेमारी के दौरान फैक्ट्री में मशीनें भी लगी हुई थी। थोड़ी ही देर में फिर से नकली घी बनाने का काम शुरू होने वाला था लेकिन उससे पहले पुलिस का छापा पड़ गया। आरोपियों ने पूछताछ में यह भी कहा कि बेकरी सॉफ्टनिंग यानी बेकरी के खाद्य पदार्थ बनाने के लिए काम आने वाला घी भी यहां तैयार करते थे। इसको तैयार करने के लिए यह फैक्ट्री लगाई गई थी जो कि खाद्य विभाग से वैध है।

पिछले माह भी पकड़ा था नकली घी, सरस के स्टीकर लगा बेच रहे थे : सवीना थाना पुलिस ने 10 अक्टूबर को 195 लीटर नकली घी जब्त कर मल्लातलाई क्षेत्र में राता खेत निवासी कमलेश पुत्र शेषमल काे गिरफ्तार किया था। आरोपी घी सप्लाई करने जा रहा था। नाकाबंदी में पुलिस ने कार रुकवाकर तलाशी ली। कार से 13 टिन नकली घी मिला। ये टिन सरस के नाम से थे।

सवीना मंडी से हर माह साढ़े चार लाख लीटर घी की होती सप्लाई : सवीना कृषि उपज मंडी के करीब 30 व्यापारी प्रतिदिन एक हजार टिन देसी घी की सप्लाई करते हैं, जाे डूंगरपुर, बांसवाड़ा, प्रतापगढ़ में जाता है। प्रत्येक टिन में 15 लीटर घी होता है।

तीन साल में 191 नमूने लिए, 26 फेल

वर्ष नमूने फेल

2016 94 10

2017 47 05

2018 50 11

X
Udaipur - the chemicals used in the minutes were made from fake ghee packed in brand compartments and used to supply half the price in the city
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..