--Advertisement--

भीलवाड़ा / गुना में 70 लाख रुपए व जेवर चोरी के 2 आरोपी शाहपुरा में गिरफ्तार



31 जुलाई को गुना में हुई चोरी के बाद। पुलिस ने संदिग्ध आरोपी के फुटेज जारी किए। 31 जुलाई को गुना में हुई चोरी के बाद। पुलिस ने संदिग्ध आरोपी के फुटेज जारी किए।
  • गुना के एसपी ने की शाहपुरा पुलिस टीम को सम्मानित करने की घोषणा
Danik Bhaskar | Sep 16, 2018, 10:02 AM IST

शाहपुरा. पुलिस ने गुना (मध्यप्रदेश) से लाखों रुपए की नकदी व जेवर चुराकर फरार हुए 2 बदमाशों को शनिवार को पिकअप व बाइक सहित गिरफ्तार किया। थानाधिकारी अजय कांत शर्मा ने बताया कि संदिग्ध लगने पर दो व्यक्तियों को लोगों ने आमली बंगला के पास पकड़कर सूचना दी। पूछताछ में इन्होंने अपना नाम मुकेश उर्फ कालू बागरिया और रामस्वरूप बागरिया बताया। इन्होंने अपने चार साथियों के साथ 31 जुलाई को मध्यप्रदेश के गुना की दलवी कॉलोनी में अरविंद गुप्ता के मकान में चोरी करना कबूल किया। 

 

कांग्रेस नेता के घर हुई थी चोरी

 

अरविंद कांग्रेस के नेता व पूर्व पार्षद बताए जाते हैं। वे सिविल ठेकेदार हैं। वहां से करीब 70 लाख रुपए की नकद और 400 ग्राम सोने के जेवर लूटे थे। नकदी इतनी थी कि हड़बड़ाहट में करीब 4.50 लाख रुपए के नोट तो चोरों से घर में और काफी दूर तक रास्ते में बिखर गए थे। चुराई हुई नकदी इन्होंने आपस में बांट ली थी। दोनों बदमाशों की गिरफ्तारी की सूचना गुना कोतवाली व एसपी को भी दी गई। 

 

दस हजार रुपए का इनाम घोषित था

 

गुना में चोरी के बाद वहां की पुलिस ने आरोपियों की गिरफ्तारी पर दस हजार रुपए का इनाम घोषित किया था। यह इनाम अब शाहपुरा थाने की टीम को मिलेगा। गुना के एसपी निमिष अग्रवाल ने शाहपुरा थानाधिकारी अजय कांत शर्मा, हैड कांस्टेबल मुकेश कुमार, हैड कांस्टेबल जगदीश प्रसाद, कांस्टेबल गोपाललाल व कांस्टेबल राजेंद्र कुमार को सम्मानित करने की घोषणा की है।

 

सीआईडी टीम ने माना था अंतरराज्यीय गिरोह का हाथ 

 

गुना में 31 जुलाई को दिनदहाड़े चोरी की वारदात की जांच करने भोपाल से सीआईडी की टीम भी पहुंची थी। अरविंद गुप्ता के घर के बाहर सीसीटीवी कैमरों में चार संदिग्ध नजर आए हैं। सीआईडी ने माना था कि वारदात को किसी अंतरराज्यीय गैंग ने अंजाम दिया है। गैंग में छह सदस्य हो सकते हैं। 

--Advertisement--