उदयपुर

--Advertisement--

सीकर से आया युवक फतहसागर में नहाने कूदा, एनसीसी बोट कीपर ने डूबने से बचाया

घूमने के लिए आए सीकर के युवकों का एक दल बुधवार को फतहसागर पाल पर पहुंचा।

Danik Bhaskar

Jul 05, 2018, 04:43 PM IST

उदयपुर. घूमने के लिए आए सीकर के युवकों का एक दल बुधवार को फतहसागर पाल पर पहुंचा। एक युवक महेश नहाने के लिए झील में कूदा, लेकिन गहराई का अंदाजा नहीं होने से डूबने लगा। दोस्तों के शोर पर वहां मौजूद एनसीसी बोट कीपर लखन यादव ने युवक को बचा लिया, इस दौरान लखन खुद भी चोटिल हो गया।

- लखन यादव ने बताया कि मैं कयाकिंग की कैडेट्स को प्रेक्टिस कराने को लेकर फतहसागर पर मौजूद था। तभी पाल पर मौजूद कुछ युवकों की बचाओ-बचाओ की आवाज सुनी। मैं दौड़ता हुआ युवकों के पास पहुंचा तो वे घबराए हुए थे, युवकों ने बताया कि हमारा दोस्त झील में डूब रहा है।
- पानी में बचने के लिए हाथ-पांव मार रहा युवक अभी तक डूबा नहीं था। इस पर मैं एक क्षण की देरी किए बगैर पानी में कूद गया। इस दौरान पानी में कयाकिंग को लेकर बंधी रस्सी से उलझने से मेरे होंठ पर गंभीर चोट आई और खून निकलने लगा। लेकिन मैंने खुद की चोट पर ध्यान न देते हुए तत्काल उस युवक को पकड़ा और उसे खींच कर पानी के बाहर निकालकर ले अाया। एक पल की देरी हो जाती तो शायद सीकर के ये लड़के यहां से गमभरी और बुरी यादें लेकर जाते। युवक को पानी से निकालने के बाद इन सभी को समझाया।

नहीं था गहराई का अंदाजा

- सीकर निवासी महेश कुमार ने बताया कि वह 13 दोस्तों के साथ उदयपुर घूमने आया था। शाम को राहुल सिंह, विक्रम, जलदीप सहित अन्य दोस्तों के साथ फतहसागर पहुंचा। सैर के बाद सभी पाल पर पहुंचे। महेश ने बताया कि वह नहाने के लिए झील में कूद गया। पानी की गहराई का अंदाजा नहीं होने से वह डूबने लगा। यह देख दोस्तों ने शोर मचा दिया। तब वहीं खड़े एनसीसी बोट कीपर लखन ने मेरी मदद के लिए पानी में कूदे।

Click to listen..