• Hindi News
  • Rajasthan
  • Vijay Nagar
  • 5 दिन पहले केस दर्ज, फिर भी अभद्रता करने वाले नहीं पकड़े डॉक्टरों व नर्सिंगकर्मियों ने 2 घंटे बंद रखा काम, मरीज परेशान
--Advertisement--

5 दिन पहले केस दर्ज, फिर भी अभद्रता करने वाले नहीं पकड़े डॉक्टरों व नर्सिंगकर्मियों ने 2 घंटे बंद रखा काम, मरीज परेशान

Vijay Nagar News - मारपीट व अभद्र व्यवहार के मामले दोषियों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर डॉक्टरों व ब्लॉक के नर्सिंग कर्मचारियों ने...

Dainik Bhaskar

Jun 06, 2018, 06:45 AM IST
5 दिन पहले केस दर्ज, फिर भी अभद्रता करने वाले नहीं पकड़े डॉक्टरों व नर्सिंगकर्मियों ने 2 घंटे बंद रखा काम, मरीज परेशान
मारपीट व अभद्र व्यवहार के मामले दोषियों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर डॉक्टरों व ब्लॉक के नर्सिंग कर्मचारियों ने मंगलवार को ट्रोमासेंटर के सामने धरना-प्रदर्शन किया। दो घंटे ओपीडी का बहिष्कार किया। इससे मरीजों को परेशानी का सामना करना पड़ा। डॉ. सुभाष महर्षि व डॉ. ललित राठी के नेतृत्व में नर्सिंग कर्मचारी सुबह 8 बजे ट्रोमासेंटर के समक्ष एकत्रित हुए। डॉक्टर व नर्सिंग कर्मचारी विरोध स्वरूप काली पट्‌टी बांध कर धरना दिया। डॉ. अमृतलाल, नर्सिंग कर्मचारी अनिल गोदारा, पूर्ण भाटिया व नंदलाल वर्मा ने पुलिस पर आरोप लगाया कि घटना को लेकर थाने में केस दर्ज करवाए 5 दिन हो गए हैं पर दोषियों को गिरफ्तार नहीं किया गया। वे दोषियों की गिरफ्तारी नहीं होने तक विरोधस्वरूप काली पट्‌टी बांध कर काम करेंगे। इस बीच नर्सिंगकर्मियों व डॉक्टरों ने एडीएम की मार्फत कलेक्टर को ज्ञापन भेजा। इसमें दो दिन में दोषियों के खिलाफ कार्रवाई न होने पर ओपीडी का बहिष्कार कर क्रमिक अनशन शुरू करने की चेतावनी दी है। नर्सिंगकर्मियों व डॉक्टरों के ट्रोमासेंटर में धरने के चलते एसडीएम सीता शर्मा सरकारी अस्पताल पहुंची।

डॉक्टरों ने आरोप लगाया कि प्रशासन हमारी मांग की अनदेखा कर कर रहा है। इस बीच सरकारी अस्पताल में इलाज के लिए आए मरीजों ने विधायक राजेंद्र भादू को फोन किया तो उन्होंने फोन रिसीव तक नहीं किया। डॉक्टरों द्वारा 2 घंटे ओपीडी का बहिष्कार करने से जहां मरीज परेशान हुए, वहीं ओपीडी में मरीजों की संख्या घटने लगी है। जानकारी के अनुसार अस्पताल की प्रतिदिन की ओपीडी 850- 900 मरीजों की है।

बिखलते मरीज बोले- हमारा क्या कसूर, एसडीएम ने ट्रोमासेंटर पहुंच देखे हालात

सूरतगढ़. ट्रोमासेंटर पर धरना-प्रदर्शन करते डॉक्टर, नर्सिंगकर्मी व इलाज कराने आए मरीज।

भास्कर संवाददाता|सूरतगढ़

मारपीट व अभद्र व्यवहार के मामले दोषियों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर डॉक्टरों व ब्लॉक के नर्सिंग कर्मचारियों ने मंगलवार को ट्रोमासेंटर के सामने धरना-प्रदर्शन किया। दो घंटे ओपीडी का बहिष्कार किया। इससे मरीजों को परेशानी का सामना करना पड़ा। डॉ. सुभाष महर्षि व डॉ. ललित राठी के नेतृत्व में नर्सिंग कर्मचारी सुबह 8 बजे ट्रोमासेंटर के समक्ष एकत्रित हुए। डॉक्टर व नर्सिंग कर्मचारी विरोध स्वरूप काली पट्‌टी बांध कर धरना दिया। डॉ. अमृतलाल, नर्सिंग कर्मचारी अनिल गोदारा, पूर्ण भाटिया व नंदलाल वर्मा ने पुलिस पर आरोप लगाया कि घटना को लेकर थाने में केस दर्ज करवाए 5 दिन हो गए हैं पर दोषियों को गिरफ्तार नहीं किया गया। वे दोषियों की गिरफ्तारी नहीं होने तक विरोधस्वरूप काली पट्‌टी बांध कर काम करेंगे। इस बीच नर्सिंगकर्मियों व डॉक्टरों ने एडीएम की मार्फत कलेक्टर को ज्ञापन भेजा। इसमें दो दिन में दोषियों के खिलाफ कार्रवाई न होने पर ओपीडी का बहिष्कार कर क्रमिक अनशन शुरू करने की चेतावनी दी है। नर्सिंगकर्मियों व डॉक्टरों के ट्रोमासेंटर में धरने के चलते एसडीएम सीता शर्मा सरकारी अस्पताल पहुंची।

डॉक्टरों ने आरोप लगाया कि प्रशासन हमारी मांग की अनदेखा कर कर रहा है। इस बीच सरकारी अस्पताल में इलाज के लिए आए मरीजों ने विधायक राजेंद्र भादू को फोन किया तो उन्होंने फोन रिसीव तक नहीं किया। डॉक्टरों द्वारा 2 घंटे ओपीडी का बहिष्कार करने से जहां मरीज परेशान हुए, वहीं ओपीडी में मरीजों की संख्या घटने लगी है। जानकारी के अनुसार अस्पताल की प्रतिदिन की ओपीडी 850- 900 मरीजों की है।



5 दिन पहले केस दर्ज, फिर भी अभद्रता करने वाले नहीं पकड़े डॉक्टरों व नर्सिंगकर्मियों ने 2 घंटे बंद रखा काम, मरीज परेशान
X
5 दिन पहले केस दर्ज, फिर भी अभद्रता करने वाले नहीं पकड़े डॉक्टरों व नर्सिंगकर्मियों ने 2 घंटे बंद रखा काम, मरीज परेशान
5 दिन पहले केस दर्ज, फिर भी अभद्रता करने वाले नहीं पकड़े डॉक्टरों व नर्सिंगकर्मियों ने 2 घंटे बंद रखा काम, मरीज परेशान
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..