• Hindi News
  • Rajasthan
  • Sangod education level in government schools in front of kota got in class 5 in 21st position

5वीं कक्षा में कोटा को मिला प्रदेश में 21वां स्थान सरकारी स्कूलों में एजुकेशन का स्तर सामने आया / 5वीं कक्षा में कोटा को मिला प्रदेश में 21वां स्थान सरकारी स्कूलों में एजुकेशन का स्तर सामने आया

Zila News News - नेशनल काउंसिल ऑफ एजुकेशन रिसर्च एंड ट्रेनिंग की ओर से कराए गए सर्वे में कोटा जिले के सरकारी स्कूलों में दी जा रही...

Bhaskar News Network

Nov 11, 2018, 09:02 AM IST
Sangod - education level in government schools in front of kota got in class 5 in 21st position
नेशनल काउंसिल ऑफ एजुकेशन रिसर्च एंड ट्रेनिंग की ओर से कराए गए सर्वे में कोटा जिले के सरकारी स्कूलों में दी जा रही एजुकेशन का स्तर सामने आ गया।

सर्वे में सरकारी स्कूलों में तीसरी, पांचवीं और आठवीं क्लास के स्टूडेंट्स को मिल रही शिक्षा की गुणवत्ता परखी गई। हालत यह रही कि पांचवीं कक्षा में कोटा को प्रदेश के 33 जिलों में 21वां स्थान मिला। आठवीं क्लास में कोटा को 14वीं और तीसरी क्लास में 12वीं रैंक मिल पाई। तीसरी व पांचवीं कक्षा में झूंझुनू और आठवीं में नागौर पहले स्थान पर रहा।

शिक्षा विभाग अब कोटा के शिक्षकों के लिए सब्जेक्ट एक्सपर्ट की ऑनलाइन क्लास लगवाएगा। इसमें जयपुर के एक्सपर्ट तीन-तीन घंटे तक उनकी क्लास लेंगे। प्रारंभिक शिक्षा की ये कक्षाएं 13 आैर 15 नवंबर को सैटेलाइट के माध्यम से नोडल स्कूलों में ब्लॉक वाइज होगी। इनमें 783 स्कूलों के दो-दो सब्जेक्ट शिक्षक को ट्रेनिंग दी जाएगी।

कोटा में 155 स्कूलाें में किया गया था सर्वे, अब ट्रेनिंग होगी

विभाग की ओर से कोटा के 155 सरकारी स्कूलों में सर्वे कराया गया था। इसमें कक्षा तीन और पांचवीं में हिंदी, पर्यावरण और गणित, कक्षा आठवीं में हिंदी, विज्ञान, गणित एवं सामाजिक विज्ञान को शामिल किया था। राज्य सरकार की ओर से जारी आंकड़ों के अनुसार वर्ष 2015-16 में एक स्टूडेंट की प्रारंभिक शिक्षा पर औसतन 17582 रुपए खर्च किए जाते थे। वहीं 2016-17 में यह राशि 14919 और 2017-18 में अनुमानित 13754 रुपए प्रति स्टूडेंट हो गई। डॉ. रणवीरसिंह चौधरी, सीबीईओ सांगोद एवं एजुकेशन एक्सपर्ट ने बताया कि नेशनल अचीवमेंट सर्वे के बाद जिले में प्राइमरी एजुकेशन में गुणात्मक सुधार के प्रयास हुए हैं। अब 13 और 15 नवंबर को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से शिक्षकों की तीन-तीन घंटे की सब्जेक्ट एक्सपर्ट द्वारा ट्रेनिंग होगी। इसमें 13 नवम्बर को कक्षा एक से पांचवीं तक गणित और अंग्रेजी और 15 नवम्बर को हिंदी व पर्यावरण सब्जेक्ट के करीब 1500 से अधिक शिक्षक भाग लेंगे।

X
Sangod - education level in government schools in front of kota got in class 5 in 21st position
COMMENT