पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • Sultanpur News Rajasthan News If Jhihedi Village Is Separated From Khedli Tanvaran It Will Agitate

जियाहेड़ी गांव को खेड़ली तंवरान से अलग किया तो करेंगे आंदोलन

2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
सुल्तानपुर| ग्राम पंचायत खेड़ली तंवरान के जियाहेड़ी गांव में उपखंड अधिकारी जब्बर सिंह व पंचायत समिति विकास अधिकारी जगदीश प्रसाद मीणा द्वारा जनसुनवाई की गई। कुछ दिन पहले जियाहेड़ी गांव के ग्रामीणों ने खेड़ली तवरान पंचायत से जियाहेड़ी गांव को पुनर्सीमांकन में अलग नहीं करने की मांग को लेकर उच्च अधिकारी को ज्ञापन सौंपकर समस्या से अवगत करवाया था।

वर्तमान समय में गांव खेड़ली तवरान ग्राम पंचायत में सम्मिलित है। जिसे अन्य ग्राम पंचायत में जोड़ने का मामला चल है। जिससे ग्रामीणों में रोष व्याप्त है। ग्रामीणों ने बताया कि 2011 की जनगणना के अनुसार ग्राम पंचायत की कुल जनसंख्या 3681 है जिसमें से जिहाहेडी गांव की जनसंख्या 389 है। ग्रामीणों का कहना है कि अगर उनकी मांग पूरी नहीं की गई तो वह आंदोलन की राह पकड़ेंगे व धरना प्रदर्शन करेंगे। जिसके चलते एसडीएम जब्बर सिंह व पंचायत समिति विकास अधिकारी जगदीश प्रसाद मीणा ने जनसुनवाई की।

इस मौके पर ग्रामीण मनीष गोचर, राजेंद्र वैष्णव, शांतिलाल, भवानी शंकर, बिरधीलाल, मोडू लाल, गिरिराज सहीत ने उपखंड अधिकारी से जियाहैड़ी गॉव को पुन खेडली तवरान पंचायत से जुडे़ रहने की मांग की।

सुल्तानपुर. जियाहेड़ी गांव में जनसुनवाई करते अधिकारी।

उच्चस्तरीय अधिकारी द्वारा जनसुनवाई की कोई सूचना गांव वालों को नहीं दी गई। गिने चुने लोगों से वार्तालाप करके अन्य ग्रामीणों के साथ दोखा किया गया है। हम सभी ग्रामीण गांव को खेडली तवरान पंचायत से ही जोड़ने से मांग करते हैं, क्योकि इसी पंचायत में रहने से विकास हो सकता है और यदि प्रशासन एेसा नहीं करता तो भूख हड़ताल पर बैठा जाएगा। -चेतराम मीणा, पूर्व सरपंच, जियाहेड़ी

हमारा गांव ग्राम पंचायत बूढ़ादीत के निकट पडता है। पहले खेडली तवरान पंचायत से करीब 10-12 किलोमीटर दूर पर पड़ता था। हम सभी ग्रामीणों ने प्रशासन का धन्यवाद व्यक्त किया है, बूढ़ादीत पंचायत से जुड़ने से जियाहेड़ी का विकास तेज गति से होगा। -गजानंद मीणा,स्थानीय ग्रामीण जियाहेड़ी

उपखंड अधिकारी दीगोद के साथ जियाहैड़ी गांव में जनसुनवाई की गई। ग्रामीणों द्वारा जियाहेड़ी को ग्राम पंचायत बूढ़ादीत में पुनर्सीमांकन नहीं करने की मांग को लेकर विरोध दर्ज करवाया गया था। इसके अलावा अन्य ग्रामीणों द्वारा बूढ़ादीत पंचायत में पुनर्सीमांकन में जियाहेड़ी को जोड़ने पर विरोध दर्ज करवाया गया था। ग्रामीणों से जनसुनवाई की गई। प्रशासनिक दृष्टि से क्या उचित हो सकता है व प्रशासनिक व्यवस्थाओ को बनाए रखने के लिए दृष्टिकोण अपनाए जाएं। ग्रामवासियों द्वारा जो जानकारी मिली है, उसकी रिपाेर्ट तैयार कर ली गई है। कोटा कलेक्टर के समक्ष रखी जाएगी। -जगदीश प्रसाद मीणा, विकास अधिकारी पंचायत समिति सुल्तानपुर

खबरें और भी हैं...