इटावा में 4 लापरवाह कर्मचारियों को थमाए नोटिस, कंट्रोल रूम भी स्थापित

Zila News News - क्षेत्र में कोराेना वायरस को लेकर प्रशासन ने सतर्कता बरतने के साथ ही लापरवाही बरतने वाले कर्मचारियों को कारण...

Mar 25, 2020, 07:57 AM IST

क्षेत्र में कोराेना वायरस को लेकर प्रशासन ने सतर्कता बरतने के साथ ही लापरवाही बरतने वाले कर्मचारियों को कारण बताओ नोटिस जारी किए हैं। एसडीएम रामावतार बरनाला ने बताया कि लापरवाही बरतने वाले कर्मियों पर सख्ती से कार्रवाई की जा रही है।

उन्होंने बताया कि कैथूदा पटवारी इमरान खान, कानूनगो शिवप्रसाद वर्मा व रामपुरिया धाबाई पीएचसी प्रभारी दुष्यंत चौधरी, खातौली सीएचसी एएनएम रितु तिवारी को कार्य के प्रति लापरवाही बरतने पर 17 सीसी के नोटिस दिए गए। उन्होंने बताया कि कर्मचारी सतर्क रहें और मुख्यालय पर रहने के निर्देश दिए हैं। एसडीएम बरनाला ने बताया कि क्षेत्र में कोरोना को लेकर कोई भी जानकारी मिले तो उसके लिए कंट्रोल रूम स्थापित किए गए हैं। जहां पर लोग किसी प्रकार की जानकारी दे सकते हैं। उन्होंने बताया कि पंचायत स्तर पर सभी राजीव गांधी केंद्रों को कंट्रोल रूम बनाया है। मुख्य नियंत्रण कंट्रोल रूम इटावा एसडीएम कार्यालय में स्थापित किया है। इसके अलावा ग्रामीण क्षेत्र का कंट्रोल रूम पंचायत समिति में व इटावा नगर का नगरपालिका में स्थापित किया है। उन्होंने कहा कि यह आपदा है इसमें सभी सहयोग करें। वहीं कलेक्टर ओपी कसेरा ने ब्लाॅक के अधिकारियों की वीसी लेकर लॉकडाउन को सख्ती से लागू करने के निर्देश दिए, ताकि लाेग घराें पर ही रहे। उन्होंने जो गांव व नगर सील किए है, उन पर सख्ती से पालना कराने के निर्देश दिए। इसके अलावा उन्होंने चिकित्सा व्यवस्था सहित अन्य व्यवस्था को लेकर जानकारी दी। इसमें एसडीएम रामावतार बरनाला, डीएसपी सुरेंद्र शर्मा, बीडीओ गोपाल मीना, ईओ जितेंद्रसिंह पारस, एसएचओ मुकेश मीना, अयाना एसएचओ राजेन्द्र मीणा, खाताैली एसएचओ सुरेंद्र कुंतल सहित कई अधिकारी मौजूद रहे। वहीं कोरोना वायरस संक्रमण से बचाव के लिए सरकार की ओर से किए गए लाॅकडाउन का असर मंगलवार को पुलिस की ओर से की गई सख्ती के बाद नजर आया। मंगलवार सुबह से ही नगर के सभी चौराहों पर पुलिस के जवान तैनात रहे जो लोग बिना वजह पैदल व वाहनों से नगर में घूम रहे थे। उनको रोककर उनसे पूछताछ की व बिना वजह बाजार में निकले लोगों पर सख्ती बरतते हुए वापस अपने घर भेजा। मंगलवार को भी नगर सहित उपखंड क्षेत्र में सभी कस्बों के बाजार बंद रहे। लोग घरों से बाहर नहीं निकले। कस्बे में दोपहर 12 से 4 बजे तक किराना, दूध, सब्जी आदि आवश्यक वस्तुओं की दुकानें खुली। लोगों ने आवश्यक सब्जियां व किराने की वस्तुओं की खरीददारी की। एसडीएम रामावतार मीणा, डीएसपी सुरेंद्र शर्मा, बीडीओ गोपाललाल मीणा, ईओ जितेंद्रसिंह, थानाधिकारी मुकेश मीणा लगातार क्षेत्र में व्यवस्थाओं का जायजा लेते रहे।

सांगाेद में भी एक पारी में खुलेगा अस्पताल: सांगोद. सरकार ने सरकारी अस्पतालाें का समय बदल दिया है अाैर एक ही पारी में खाेलने के निर्देश दिए है। इसके तहत अब कस्बे में सीएचसी भी बुधवार से सुबह नौ से तीन बजे तक खुलेगी। शासन उपसचिव संजय कुमार ने विश्व स्वास्थ्य संगठन और संयुक्त राष्ट्र द्वारा कोरोना वायरस संक्रमण को महामारी घोषित करने के साथ प्रदेश में चल रही स्थिति को देखते हुए मंगलवार को यह आदेश जारी किए है। चिकित्सा प्रभारी आरसी पारेता ने बताया कि मंगलवार को श्यामपुरा व कुराड़ियाखुद में चिकित्सा टोली भेजकर वहां बाहर से आए लोगों के स्वास्थ्य की जांच की गई। आइसोलेशन में कोई संदिग्ध नहीं पाया गया। उन्होंने बताया कि बुधवार से अस्पताल एक पारी में चलेगा। वहीं इमरजेंसी सेवाएं 24 घंटे चालू रहेगी। अवकाश के दिन समय सुबह 9 से 11 बजे तक रहेगा।

सुल्तानपुर में 51 लोगों की स्क्रीनिंग: सुल्तानपुर. बाहर से लाैट रहे लाेगाेें की कोरोना वायरस काे लेकर चिकित्सा विभाग स्क्रीनिंग कर रहा है। बीसीएमओ डॉ. गिरिराज मीणा ने बताया कि मंगलवार को ब्लॉक में बाहर से आए हुए 51 व्यक्तियों की स्क्रीनिंग की गई है। जिसमें किसी भी व्यक्ति में कोरोना के लक्षण नहीं पाए गए है। इनमें से 13 व्यक्तियों को आइसोलेट कर दिया गया है।

लॉकडाउन में खोली दुकान, मुकदमा दर्ज: सीमल्या. कोरोना वायरस को लेकर सरकार की ओर से घोषित लॉकडाउन की पालना करवाने के लिए पुलिस ने सख्ती बरतनी शुरू कर दी। लॉकडाउन नहीं मानने वालों के खिलाफ पुलिस कार्रवाई कर रही है। थानाधिकारी रामपाल शर्मा ने बताया कि मंगलवार को बरगु गांव निवासी सोनू सेन ने लॉकडाउन के बाद भी उसकी हेयर ड्रेसर की दुकान खोल ली। कटिंग करता पाए जाने पर युवक के खिलाफ प्रकरण दर्ज कर उसे जमानत पर छोड़ा गया। थानाधिकारी ने बताया कि अगर लॉकडाउन का उल्लंघन किया तो उन लोगों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

लॉकडाउन की गंभीरता को नहीं समझ रहे लाेग: गणेशगंज. काेराेना वायरस के संक्रमण काे राेकने के लिए सरकार ने लाॅकडाउन किया है, लेकिन लाेग इसकी महत्ता नहीं समझ रहे हैं। मंगलवार काे भी क्षेत्र में लाेग सरकारी अादेशाें की अवहेलना कर वाहनाें पर घूमते रहे। कुछ लाेग ताे प्रशासन द्वारा तय समय पर अावश्यक सामानाें की खरीददारी करने निकले, लेकिन अन्य लाेग बाजाराें में तफरी करने निकल रहे हैं। कई लोगों को पुलिस ने समझाइश कर वापस घरों को भेजा। प्रशासन ने लोगों से अपील की है कि आवश्यक कार्य होने पर ही बाजारों में निकले। बाकी समय में अपने घरों में ही रहे, ताकि बीमारी से बचा जा सके।

गोदल्याहेड़ी. लॉकडाउन के चलते सन्नाटा पसरा हुआ है। निर्धारित समय पर आवश्यक सामानों की दुकानें खुली। जहां लाेगों ने खरीददारी की। इसके बाद दिन में घूमने वाले लोगों को पुलिस ने घर पर ही रहने के लिए पाबंद कर भेज दिया। वहीं पुलिस तैनात रही।

कैथून में पालिका ने कराया छिड़काव: कैथून. कोरोना वायरस संक्रमण की राेकथाम के लिए नगरपालिका ने कस्बे में सोडियम हाइपरक्लोराइड का छिड़काव करवाया। पालिका अध्यक्ष आईना महक ने बताया कि मंगलवार को भी नगर पालिका की अाेर से सार्वजनिक स्थानों, मेरारेड के दोनों तरफ, बस स्टैंड, पार्क एवं क्षेत्र के सभी वार्डों में पोर्टेबल मशीन व फायर ब्रिगेड से सोडियम हाइपरक्लोराइड का छिडकाव करवाया गया। साथ ही डम्पिंग यार्ड में कीटनाशी का छिडकाव किया गया। इस दौरान पालिका उपाध्यक्ष हरिओम पुरी व पालिका कर्मचारी मौजूद थे। नागरिकों को जागरुक करने के लिए पंफलेट का वितरण किया गया। वहीं दूसरी ओर जाखोड़ा सरपंच हेमलता सैनी ने जाखौड़ा, लाडपुर, कादिहेड़ा गांव में घर-घर जाकर लोगों से कोरोना वायरस से बचाव के लिए सावधानी बरतने की समझाइश की। इस दौरान पर सीडीपीओ जोशना, ग्राम विकास अधिकारी नेहालचंद, पटवारी इरशाद मोहम्मद, पूर्व सरपंच टीकम माली, वार्ड पंच गिरिराज मीना शामिल थे। वहीं काेरोना वायरस के चलते जारी लाॅकडाउन को सफल बनाने के लिए पुलिस पूरा प्रयास कर रही है। इसके तहत कस्बे के सभी रास्तों को सील कर दिया गया। सीआई राजेश सोनी ने बताया कि कस्बे में फालतू लोगों के आवागमन रोकने के लिए व यहां होकर बाहर जाने वाले वाहनों को रोकने के लिए नहर की पुलिया व चन्द्रलोई नदी की पुलिया सहित अन्य सभी छोटे बडे रास्तों पर बेरेकेटिंग लगाकर बंद कर दिया है। अकारण फालतू घूमने वालो को समझाइश कर घरों में रहने को कहा गया है। इतने पर भी नहीं मानने वालों को पुलिस ने लाठियां फटकार के भगाया। वहीं कस्बे में बाहर से आए अब तक 44 लोगों का अपने-अपने घरों में ही 14 दिन तक आइसोलेशन में रहने को पाबंद किया गया है। चिकित्सा प्रभारी डॉ़. विवेक गोयल ने बताया कि सभी 44 लोगों की प्रतिदिन मेडिकल टीम जांच करने जा रही है। पुलिस ने लॉकडाउन के दौरान कस्बे में बेवजह घूमने वाले बाइक सवारों की बाइक जब्त करना शुरु कर दिया है। इसी के तहत मंगलवार को पुलिस ने 10 बाइक जब्त की। सीआई राजेश सोनी ने बताया कि अब कैथून पुलिस लॉकडाउन में बेकार घूमने वालों के खिलाफ वाहन जब्त करने की कार्रवाई करेगी। इन सभी बाइकों को 21 दिन बाद ही छोडा जाएगा।

कनवास. कस्बे में मंगलवार को कोरोना वायरस के प्रकोप के बचाव के लिए जारी लॉकडाउन की पालना के लिए पुलिस को सख्ती बरतनी पड़ी। इससे दिनभर बाजार बंद रहे और सन्नाटा पसरा रहा। दिन में निर्धारित समय के अनुसार किराना, दूध डेयरी व सब्जीमंडी खुली तो लोगों ने आवश्यक खरीददारी की। थानाधिकारी विष्णुसिंह मय जाब्ते के साथ दिनभर कस्बे में गश्त करते रहे। पुलिस ने इधर-उधर अनावश्यक घूमने पर व दोपहिया वाहन चलाने पर भी पाबंद किया गया। आवां चौराहा पर पुलिस ने नाकाबंदी के दौरान वाहन चालकों को रोककर घर पर रहने की सलाह दी।

कोरोना का कहर

कनवास. लॉकडाउन के दौरान वाहन चालकों से समझाइश करते पुलिसकर्मी।

कैथून. नगर में दमकल के जरिए दवा का छिड़काव करवाया गया।

सीमल्या. लॉकडाउन की पालना के लिए मुनादी करवाते जनप्रतिनिधि और अधिकारी।

सुल्तानपुर. बाहर से आए लोगों की स्क्रीनिंग करती चिकित्सा विभाग की टीम।

सांगोद. उजाड़ नदी पुलिया पर आवागमन के साधन रोकते पुलिसकर्मी।

इटावा. वाहन चालकों को रोककर सख्ती दिखाते पुलिसकर्मी।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना