रावतभाटा की जजशिप कोटा करो, एडवोकेट्स ने भेजा पत्र

Zila News News - वकीलों को अभी लंबी दूरी तय कर जाना पड़ता है चित्तौड़गढ़ भास्कर न्यूज | रावतभाटा रावतभाटा उपखंड की जजशिप...

Jan 16, 2020, 10:30 AM IST
Rawatbhata News - rajasthan news rawatbhata39s judgeship quota advocates sent letter
वकीलों को अभी लंबी दूरी तय कर जाना पड़ता है चित्तौड़गढ़

भास्कर न्यूज | रावतभाटा

रावतभाटा उपखंड की जजशिप चित्तौड़गढ़ से बदलकर कोटा करने की मांग को लेकर अभिभाषक संघ रावतभाटा ने बार कॉउंसिल ऑफ राजस्थान के सदस्य महेशचंद्र शर्मा को पत्र भेजा है। बार एसोसिएशन अध्यक्ष अनिल शर्मा ने बताया कि रावतभाटा उपखंड चित्तौड़गढ़ जजशिप का सबसे दूरस्थ उपखंड है। इस उपखंड का क्षेत्रफल राजस्थान के कई जिलों संे बड़ा है। यहां की भौगोलिक स्थिति भी विचित्र है। उपखंड के तीन ओर मध्यप्रदेश की सीमाएं सटी हुई हैं। एक ओर कोटा, भीलवाड़ा जिले की सीमाएं सटी हैं। उपखंड में वर्तमान में एक ही न्यायालय एसीजेएम कार्यरत हैं।

क्षेत्र की जनता को अपने सभी मामलों के लिए जिला एवं सत्र न्यायाधीश चित्तौडगढ़ मुख्यालय पर जाना पड़ता है। रावतभाटा उपखंड से चित्तौडगढ़ लगभग 150 किलोमीटर एवं उपखंड के आखरी गांव से 250 किलोमीटर दूर पड़ता है। खर्चा भी अधिक होता है। रावतभाटा की कोटा मुख्यालय से दूरी मात्र 40 किलोमीटर है। आवागमन के कई साधन है। संघ के सदस्यों ने उपखंड में कार्यरत अदालतों की जजशिप चित्तौडगढ़ से बदलकर कोटा में करने की मांग की है। पत्र पर अजीज हुसैन, रईस मंसूरी,जान मोहम्मद, हरनारायण शर्मा, अर्जुनसिंह, शबनम, राहुल जैन, विशाल जादौन,स्टाम्प वेंडर सौरभ कक्कड, संजय जेठा व टाइपिस्ट अब्दुल हसीब खानं, अब्दुल रहमान, सुभम राठौड़ ने हस्ताक्षर किए हैं।

X
Rawatbhata News - rajasthan news rawatbhata39s judgeship quota advocates sent letter
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना