दिव्यांगता को सामाजिक कलंक मानने की धारणा दूर करें

Zila News News - विश्व दिव्यांग दिवस पर कस्बे में मंगलवार को दिव्यांग सहायता शिविर अायाेजित किया गया। जिसमें मुख्य अतिथि एसडीएम...

Dec 04, 2019, 09:40 AM IST
विश्व दिव्यांग दिवस पर कस्बे में मंगलवार को दिव्यांग सहायता शिविर अायाेजित किया गया। जिसमें मुख्य अतिथि एसडीएम रामवतार बरनाला रहे। अध्यक्षता नगरपालिका चेयरमैन धर्मेंद्र आर्य ने की। विशिष्ट अतिथि नगरपालिका कार्यवाहक ईओ अनुराग शर्मा रहे। कार्यक्रम में दिव्यांगों को तिलक लगा कर स्वागत किया।

जरूरतमंदों को ट्रायसाइकल 8, बैसाखी 2, व्हील चेयर 3, कानों की 8 मशीन बांटी गई। कार्यक्रम में मनीष पंकज को उनके सामाजिक कार्यों में अहम भूमिका निभाने के लिए व लोगों को विभिन्न जानकारियां प्रदान करने के लिए सम्मानित किया गया। कार्यक्रम में एसडीएम ने कहा कि दिव्यांग दिवस मनाने के पीछे दिव्यांगता को सामाजिक कलंक मानने की धारणा से लोगों को दूर करने का प्रयास है। इस दिन को समाज में दिव्यांगों की भूमिका को बढ़ावा देने, उनकी गरीबी को कम करने, उन्हें बराबरी का मौका दिलाने तथा उनके स्वास्थ्य, शिक्षा और सामाजिक प्रतिष्ठा पर ध्यान केंद्रित करने जैसी कोशिशों के लिए भी मनाया जाता है। इस दिन कला प्रदर्शनी, खेल प्रतियोगिताओं तथा विभिन्न कार्यक्रमों से दिव्यांगों के प्रति जागरूकता फैलाने की कोशिश की जाती है।

नगरपालिका चेयरमैन धर्मेंद्र आर्य ने कहा की दिव्यांगजनों से भेदभाव किए जाने पर कानून दो साल तक की कैद और 5 लाख रुपए तक के जुर्माने का प्रावधान करता है। भारतीय कानून में इनके लिए आरक्षण की व्यवस्था भी की गई है। पहले दिव्यांगजनों के लिए 3 प्रतिशत आरक्षण का प्रावधान था, लेकिन अब इसे बढ़ाकर 4 प्रतिशत कर दिया गया है।

संचालन कल्पना गौतम ने किया। इस अवसर पर समाज कल्याण अधिकारी निशांत सिंह, रामशंकर बैरवा, आकाश बैरवा, घनश्याम कुशवाह अाैर बडी संख्या में दिव्यांगजन उपस्थित रहे।

इटावा. शिविर में दिव्यांगों को उपकरण बांटकर सम्मानित करते अतिथि।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना