पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

मानव की आधात्मिक धरोहर है नारी

एक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

शहर के नूतन विद्या मन्दिर में शनिवार को अन्तर्राष्ट्रीय महिला दिवस के उप लक्ष में नारी शक्ति एवं परिष्कृत समाज विषय पर व्याख्यान का आयोजन सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण जयपुर के निर्देशन एवं तालुका विधिक सेवा समिति शाहपुरा अध्यक्ष अपर जिला एवं सैशन न्यायाधीश अश्विनी कुमार यादव के मार्गदर्शन में हुआ।

मुख्य वक्ता ब्रह्मकुमारी दीदी सुलभा ने कहा कि मनुष्य के सर्वांगीण विकास की समस्त संपदा नारी शक्ति है जो मानव की आध्यात्मिक धरोहर की प्रतीक है। नगरपालिका चेयरमैन रजनी पारीक ने कहा कि महिला का सम्पूर्ण अस्तित्व ही शक्ति सम्पन्न है और समाज का केन्द्र बिन्दु है। महिला शिक्षा से ही महिला सशक्तिकरण की प्राप्ति सम्भव है। प्रधानाचार्य अनिता टेलर ने कहा कि बालिका शिक्षा को बढ़ाव देकर जनसंख्या वृद्धि, गरीबी, शोषण, भ्रष्टाचार, लिंगभेद जैसी ज्वलन्त समस्याओं से मुकाबला किया जा सकता है। उन्होंनें महिलाओं के लिए विधिक सेवा प्राधिकरण द्वारा चलाई जा रही विभिन्न योजनाओं के लिए प्रसन्नता जताई। अधिवक्ता अंजु सिंह परमार ने उपस्थित छात्राओं को महिला अधिकारों एवं महिलाओं की कल्याणकारी योजनाओं के सम्बन्ध में राल सा जयपुर के निर्देशानुसार 3 मार्च से 8 मार्च तक आयोजित किए जा रहे महिला दिवस के कार्यक्रमों की जानकारी दी। इस अवसर पर डॉ. अनिता चौधरी, ललिता माथुर, पुष्पा शर्मा, पार्षद किरण शर्मा, मनीषा अग्रवाल, ममता खटाणा, पूर्व पार्षद उषा अग्रवाल, अभिभावक सीमा शर्मा, तरूण लता यादव, चेतना शर्मा, सोनाक्षी अग्रवाल, किरण अग्रवाल आदि ने भी विचार व्यक्त किए।

निदेशक विश्वनाथ वर्मा व प्रधानाचार्य चंद्रशेखर सैनी ने आभार जताया। एकेडमिक डायरेक्टर ओमप्रकाश कपूरिया, एकेडमिक मैनेजर आनन्द चौधरी, छात्र-छात्रा, शिक्षक, अभिभावक मौजूद थे। संयोजन रामस्वरूप रावत
सरे एवं मंच संचालन श्रुति टीलावत ने किया।

शाहपुरा|नूतन विद्या मंदिर में अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस पर कार्यक्रम को संबोधित करते प्रधानाचार्य अनिता टेलर।
खबरें और भी हैं...