--Advertisement--

आचार संहिता काे मुंह चिढ़ा रही हंै लोकार्पण पटि्टकाएं

विधानसभा चुनाव को लेकर राज्य में आदर्श आचार संहिता लगे 36 दिन बीत गए है, लेकिन प्रशासन अभी तक लोकार्पण-शिलान्यास...

Dainik Bhaskar

Nov 11, 2018, 09:40 AM IST
Viratnagar - the code of conduct is teasing the mouthpiece of the booklets
विधानसभा चुनाव को लेकर राज्य में आदर्श आचार संहिता लगे 36 दिन बीत गए है, लेकिन प्रशासन अभी तक लोकार्पण-शिलान्यास कार्यक्रमों के शिलालेख नही ढक पाया है।

कुंडले क्षेत्र में विभिन्न सरकारी भवनों पर लगे यह शिलालेख सरकार और व्यक्ति विशेष की और से करवाए कार्यों व योजनाओं का प्रचार कर ही रहे है। मैड़ क्षेत्र में मतदान केंद्रों सहित आसपास के केंद्रों के बाहर अंदर भी ऐसे शिलालेख लगे है। जो सीधे सीधे उन नेताओं का प्रचार कर रहे है।

ऐसे शिलालेखों से एक दल या व्यक्ति को विशेष फायदा मिल सकता है और मुफ्त में प्रचार हो रहा है। वहीं इन पट्टिकाओं के सामने से रोजाना हजारों लोगों का आना जाना बना हुआ है।

नियम: भारत निर्वाचन आयोग ने नियम बना रखा है कि आचार संहिता लगते ही जिला निर्वाचन अधिकारी सहित अधिकारियों को ऐसे स्थान जहां जनता की आवाजाही ज्यादा रहती है उन सार्वजनिक स्थानों, विभागीय कार्यालयों, मतदान केंद्र तथा आसपास प्रचार प्रसार सामग्री नही होनी चाहिए। उन्हें हटाया जाना चाहिए या फिर ढका जाना चाहिए।

कुंडले क्षेत्र में लगी हुई हैं शिलान्यास पट्टिकाएं

कुंडले क्षेत्र अनेक गांवों सहित मतदान केंद्रों पर नेताओं के शिलान्यास पट्टिकाएं खुले में लगी हुई लोगों को दिखाई दे रही है। जहां ग्राम पंचायत प्रशासन ने अभी तक ढकने का काम तक नही किया है। वहीं स्थानीय पंचायत क्षेत्र के राजकीय अस्पताल में लगी पट्टिका ढंकी जा चुकी है। मैड़ राजकीय श्रीराम वरिष्ठ उपाध्याय संस्कृत विद्यालय में मैन गेट के नीचे मतदान केंद्र पर लगी विधायक के नाम सहित पंचायत विकास कार्यों को लेकर नाम पट्टिका लोगों को खुले में दिखाई दे रही है।

मतदान केंद्रों पर लगे शिलान्यास पट्टिकाओं को ढंकवाया जाएगा


X
Viratnagar - the code of conduct is teasing the mouthpiece of the booklets
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..