--Advertisement--

चुनावी गुणाभाग में बीता दिन,अब परिणाम पर नजर

Zila News News - कार्यालय संवाददाता|शाहपुरा/अमरसर हमेशा की तरह सुबह 7 बजे उठे और दैनिक क्रियाओं से निवृत होकर पूजा पाठ किया। सुबह...

Dainik Bhaskar

Dec 09, 2018, 05:01 AM IST
Shahpura News - the days passed in the election fold now the result is eye
कार्यालय संवाददाता|शाहपुरा/अमरसर

हमेशा की तरह सुबह 7 बजे उठे और दैनिक क्रियाओं से निवृत होकर पूजा पाठ किया। सुबह करीब 11 बजे तक अपने निवास स्थान हनुमंत निवास बाग में बने चुनावी कार्यालय में पहुंचे। जहां पर कार्यकर्ताओं से करीब दो से तीन घंटे तक मुलाकात की। इस दौरान भाजपा प्रत्याशी राव राजेंद्र सिंह ने कार्यकर्ताओं से 7 दिसंबर को हुए मतदान के बारे में फीडबैक लिया। उन्होंने बताया कि विधानसभा क्षेत्र काफी लंबा था, लेकिन प्रचार प्रसार के लिए समय भी मिला था और उन्होंने विधानसभा क्षेत्र के प्रत्येक बूथ के गांव ढाणियों में मतदाताओं तक पहुंचे है। वर्ष 2013 के चुनाव और इस चुनाव में काफी बदलाव आया है। पहले जहां गांव ढाणियों में प्रत्याशियों के पोस्टर, बैनर आदि लगाते थे, वो चीज इस बार निर्वाचन आयोग की सख्ती के कारण गायब रही। इस चुनाव में सोशल मीडिया का प्रचार का सबसे बड़ा माध्यम बना रहा। उन्होंने बताया कि क्षेत्र के विकास के मुद्दों के बजाय चुनाव में जातिवाद छाया रहा। उन्होंने शाहपुरा को जिला बनाने की प्राथमिकता बताई, सहित पेयजल सहित अन्य कई समस्याओं का समाधान करवाने की जनता से चुनावों में वादे किए। शाहपुरा विधानसभा का कुल मतदान प्रतिशत 82.63 फीसदी रहा है। यहां पर कुल 217 पोलिंग बूथ थे। इनमें से खेजरोली के ऊंटगुढ़ा में सर्वाधिक 96.64 फीसदी एवं करीरी बूथ पर सबसे कम 55.32 फीसदी मतदान हुआ है। कई जगह तो मशीनों में तकनीकी खराबी होने की वजह से भी मतदान कम हो पाया है।

भाजपा प्रत्याशी डॉ.फूलचंद भिंडा ने परिवार के संग बिताए फुर्सत के क्षण

भाजपा प्रत्याशी डॉ.फूलचंद भिंडा ने मतदान समाप्त होने के बाद कार्यकर्ताओं से फीडबैक लेकर थोड़ी देर टीवी पर समाचार सुनने के बाद रात्रि को जल्दी ही सो गए। शनिवार सुबह करीब 8 बजे उठे। उठते ही रोजाना की तरह मॉर्निंगवाक किया। इसके बाद चुनाव में परिवार को समय नहीं देने के कारण करीब 4 घंटे परिवार के सदस्यों के साथ बताएं। उन्होंने अपनी पोती लक्षिता, देवांशी, भदोही, तारा, लखन को गोद में खिलाया। उन्होंने बताया कि चुनाव के चलते वे जहां पहले रोज अपनी पोती को खिलाते थे, लेकिन चुनाव के चलते करीब 15 दिन से समय नहीं दे पा रहे थे। इसके बाद उन्होंने प|ी के द्वारा बनाए गए आलू के पराठे व हलवा के साथ नाश्ता किया। इसके बाद कार्यकर्ताओं से ग्रामवार फीडबैक लिया। उन्होंने बताया कि वर्तमान में चुनाव में विकास के मुद्दे गौण हो गए हैं और जातिगत समीकरण हावी हो गए हैं। फीडबैक लेने के बाद उनके गांव जगतपुरा में बालक की मौत हो जाने पर वहां बैठने के लिए चले गए।

कांग्रेस प्रत्याशी इंद्राज गुर्जर एक घंटा देरी से उठे

विराटनगर के कांग्रेस प्रत्याशी इंद्राज गुर्जर चुनावी थकान होने के कारण दूसरे दिन शनिवार को प्रतिदिन से एक घंटा देरी से उठे। सुबह 9 बजे उठने के बाद पूजा अर्चना की। बाद में कार्यकर्ताओं से मोबाइल पर फीडबैक लिया और कई कार्यकर्ताओं से मिलकर जीत के समीकरण पर चर्चा की। उन्होंने बताया कि पहले की तुलना में अब मतदाता काफी जागरूक हो चुका है। पहले जहां जीत हार की सियासी समीकरण आसानी से पता लगा लिया जाता था, लेकिन अब वे काफी मुश्किल है, दोपहर बाद तीये की बैठक में चले गए। शाम को उनसे कई कार्यकर्ता मिलने के लिए आए उनसे भी फीडबैक लेकर चुनावी चर्चा की।

शाहपुरा| अपने निवास स्थान हनुमन्त निवास बाग स्थित चुनावी कार्यालय में कार्यकर्ताओं से चर्चा करते भाजपा प्रत्याशी राव राजेन्द्र सिंह।

अजीतगढ़| कस्बे में चुनाव के बाद कार्यकर्ताओं और समर्थकों के साथ चर्चा करते पूर्व विधानसभा अध्यक्ष दीपेंद्र सिंह शेखावत।

विराटनगर। चुनावों के बाद फुर्सत के क्षणों में परिवार के साथ भाजपा प्रत्याशी डॉ. फूलचंद भिंडा।

कांग्रेस प्रत्याशी मनीष यादव थकान के कारण देरी से उठे

शाहपुरा विधानसभा के कांग्रेस प्रत्याशी मनीष यादव चुनावी थकान की वजह से अपने निवास स्थान बिलांदरपुर में सुबह 8 बजे उठे और चाय पानी पी। इस दौरान कार्यकर्ता एकत्रित होना शुरू हो गए। मनीष यादव ने कार्यकर्ताओं से ग्राम वार फीडबैक लिया। कार्यकर्ताओं से मिले फीडबैक के अनुसार कांग्रेस प्रत्याशी मनीष यादव अपनी जीत के प्रति आश्वस्त नजर आए। कार्यकर्ताओं से फीडबैक लेने के बाद वह क्षेत्र में ग्राम हनुतपुरा, चौकी का बड़, अमरसर सहित कई गांवो में दौरे पर निकल गए। कार्यकर्ताओं का सहयोग करने के लिए व आम जनता का समर्थन करने के लिए आभार जताया। मनीष यादव ने बताया कि वर्ष 2013 में उन्होंने निर्दलीय प्रत्याशी के बतौर चुनाव लड़ा था जिसके अनुभव का लाभ इस चुनाव में मिला। 5 साल में वह क्षेत्र में सभी कार्यकर्ताओं से तथा आम जनता से जुड़े रहे जिसका लाभ चुनाव में मिला तथा कार्यकर्ताओं ने पार्टी की जीत के लिए जी तोड़ मेहनत की। टिकट मिलने के बाद करीब 18 दिन प्रचार के लिए मिले। शाहपुरा विधानसभा क्षेत्र की लगभग हर ग्राम पंचायत में वह हर ढाणी तक जनसंपर्क के लिए पहुंचे जहां जनता का अपार समर्थन मिला।

चुनाव प्रचार के दौरान अमरसरवाटी क्षेत्र में सरकारी कॉलेज व गौशाला खुलवाने की मांग लोगों ने प्रमुखता से उठाई। मनीष यादव ने बताया कि कार्यकर्ताओं द्वारा दिन-रात जी तोड़ मेहनत उनके लिए सबसे मजबूत ताकत रही। जिसके बल पर उनका आत्मबल बड़ा क्षेत्र की जनता का भी काफी स्नेह व समर्थन मिला। मनीष यादव ने बताया कि पिछली बार उनको जिन बूथों में अच्छे मत मिले थे इस बार इन बूथों में रिकॉर्ड तोड़ मतदान हुआ है जिसका सीधा लाभ निश्चित तौर पर उनको मिलेगा। कार्यकर्ताओं से मिले फीडबैक के अनुसार व प्रदेश में कांग्रेस के पक्ष में चली लहर का लाभ उन्हें मिलेगा।

अमरसर| बिलांदरपुर स्थित अपने आवास पर कार्यकर्ताओं व मतदाताओं से फीडबैक लेते कांग्रेस प्रत्याशी मनीष यादव

शाहपुरा| चुनाव के बाद सियासी गणित उलझते लोग।

शाहपुरा|निर्दलीय प्रत्याशी आलोक बेनीवाल चाय की चुस्की के साथ थकान मिटाते हुए।

निर्दलीय प्रत्याशी आलोक बेनीवाल से पूर्व राज्यपाल डॉ.कमला बेनीवाल ने लिया मतदान का फीडबैक

शाहपुरा विधानसभा के कांग्रेस के बागी निर्दलीय प्रत्याशी आलोक बेनीवाल चुनाव में थकान की वजह से सुबह 11बजे देरी से उठे । उठते ही फ्रेश होने के बाद स्नान कर पूजा अर्चना के बाद समाचार पत्र में शाहपुरा विधानसभा क्षेत्र में मतदान के बारे में जानकारी प्राप्त की। इस दौरान पूर्व राज्यपाल डॉ कमला ने अपने पुत्र आलोक बेनीवाल से चुनाव के दौरान हुए मतदान के बारे में ग्रामवार फीडबैक लिया। बेनीवाल ने बताया कि उन्होंने जनता के मानस का सम्मान करते हुए निर्दलीय प्रत्याशी के बतौर चुनाव लड़ा है मतदान शांतिपूर्वक संपन्न होने पर सभी मतदाताओं का आभार जताया। निर्दलीय प्रत्याशी आलोक बेनीवाल ने बताया कि वर्ष 2013 के चुनाव से अब इस चुनाव में अपेक्षाकृत कार्यकर्ताओं व जनता का अधिक सहयोग रहा तथा कार्यकर्ताओं ने दिल से मेहनत की। आलोक बेनीवाल ने बताया कि 10 वर्ष से 2 बार चुनाव हारने के बाद भी वह क्षैत्र की जनता से जुड़े रहे तथा जनता के दुख दर्द में भाग लेते रहे।

आलोक बेनीवाल ने बताया कि करीब 20 दिन वह चुनाव प्रचार में दिन रात क्षैत्र में सेवा लगे रहे। जिसका लाभ मिला वह जनता ने रिकॉर्ड तोड़ मतदान किया। आलोक बेनीवाल ने बताया कि पिछली बार वर्ष 2013 में जिन मुद्दों में कम मतदान हुआ था। उन बूथो में भी अब की बार रिकॉर्ड तोड़ मतदान हुआ है तथा जिन बूथो से उनको बढ़त मिली थी उन बूथो में मतदान रिकॉर्ड तोड़ रहा है जिसका लाभ मिलेगा।

Shahpura News - the days passed in the election fold now the result is eye
Shahpura News - the days passed in the election fold now the result is eye
Shahpura News - the days passed in the election fold now the result is eye
Shahpura News - the days passed in the election fold now the result is eye
Shahpura News - the days passed in the election fold now the result is eye
X
Shahpura News - the days passed in the election fold now the result is eye
Shahpura News - the days passed in the election fold now the result is eye
Shahpura News - the days passed in the election fold now the result is eye
Shahpura News - the days passed in the election fold now the result is eye
Shahpura News - the days passed in the election fold now the result is eye
Shahpura News - the days passed in the election fold now the result is eye
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..