• Hindi News
  • National
  • Jewelery Banned With Mobile, Watch, It Is Mandatory To Reach The Center 30 Minutes Before The Exam; Admit Cards Will Be Issued By September 16

REET की गाइडलाइन जारी:मोबाइल, घड़ी के साथ ज्वेलरी हुई बैन, परीक्षा से 30 मिनट पहले केंद्र पहुंचना जरूरी; 16 सितंबर तक जारी होंगे प्रवेश पत्र

जयपुरएक महीने पहले

राजस्थान में लगभग 3 साल बाद होने जा रही REET की तैयारी में जुटे अभ्यार्थियों का इंतजार अब खत्म होने जा रहा है। 31 हजार से ज्यादा पदों पर आयोजित होने वाली REET 26 सितम्बर को आयोजित होने जा रही है, जिसमें प्रदेशभर के 16 लाख से ज्यादा अभ्यर्थी शामिल होंगे। शिक्षा विभाग ने REET की गाइडलाइन जारी की है। इसका पालन नहीं करने पर अभ्यर्थी को परीक्षा देने से रोका जा सकता है।

ज्वेलरी पहनकर नहीं आएं परीक्षा देने
REET में शामिल होने वाले अभ्यार्थी परीक्षा कक्ष में घड़ी, चेन, अंगूठी, कान के टॉप्स, लॉकेट या किसी भी प्रकार के आभूषण पहनकर नहीं जा सकते है। इन सभी आभूषणों के पहनने पर रोक रहेगी। इसके आलावा पर्स, हैंडबैग या डायरी लाने पर भी रोक है। अगर अभ्यार्थी परीक्षा के दौरान अपने साथ इनमें से कुछ भी लाते हैं। तो उन्हें इसे परीक्षा केंद्र के बाहर रखना होगा और इसकी पूरी जिम्मेदारी भी परीक्षार्थी की ही होगी।

परीक्षा में पारदर्शी पानी की बोतल लाने की छूट
26 सितंबर के दिन अभ्यर्थी परीक्षा केंद्र पर किसी भी प्रकार के इलेक्ट्रॉनिक उपकरण जैसे कि मोबाइल, ब्लूटूथ, कैल्क्यूलेटर भी नहीं ला सकते हैं। ऐसे में अगर इनमें से कोई भी वस्तु अगर अभ्यार्थी के पास मिली। तो उसके खिलाफ अनुचित साधनों की रोकथाम अधिनियम 1992 के तहत कार्रवाई होगी। वहीं, परीक्षा के दौरान अभ्यर्थियों को अपने साथ पानी की पारदर्शी बोतल लेकर आने की अनुमति रहेगी।

दो पारियों में होगी परीक्षा
REET का आयोजन दो पारियों में किया जाएगा। इसमें 16 लाख से ज्यादा अभ्यर्थी शामिल होंगे। इस दौरान कोरोना प्रोटोकॉल के तहत छात्रों की बैठक व्यवस्था की जाएगी। इसमें पहली REET लेवल टू (कक्षा 6 से 8) पहली पारी में सुबह 10 बजे से 12.30 बजे तक होगी और लेवल वन यानी (पहली से 5वीं) तक की परीक्षा दोपहर 2.30 बजे से शाम 6 बजे तक होगी। इस दौरान अभी आरती को परीक्षा शुरू होने से आधा घंटे पहले तक परीक्षा केंद्र पहुंचना होगा। अगर अभ्यार्थी 30 मिनट पहले केंद्र पर नहीं पहुंच पाया तो उसे परीक्षा केंद्र में प्रवेश नहीं दिया जाएगा।

20 सितंबर को बनेगा कंट्रोल रूम
REET से पहले 20 सितंबर से बोर्ड कार्यालय में केंद्रीय कंट्रोल रूम शुरू होगा, जो 22 सितंबर तक सुबह 10 बजे से शाम 6 बजे तक और 23 सितंबर से 27 सितंबर तक सुबह 8 बजे से रात 10 बजे तक कार्यरत रहेगा। कंट्रोल रूम का नंबर 0145-263436 और 01412630437 है। यहां अभ्यर्थी परीक्षा केंद्र से संबंधित अपनी समस्याओं की जानकारी ले सकता है। इसके अलावा जिला कंट्रोल रूम की भी स्थापना होगी।

परीक्षा के दौरान सभी जिला कलेक्टर कार्यालयों और जिला शिक्षा अधिकारी माध्यमिक कार्यालय में 25 सितंबर सुबह 6 बजे से 26 सितंबर को परीक्षा समाप्ति तक और परीक्षा सामग्री संबंधित जिले से अजमेर कार्यालय के लिए रवाना होने तक कार्यरत रहेंगे। वहीं, परीक्षा के एडमिट कार्ड परीक्षा तिथि से 10 से 12 दिन पूर्व जारी होंगे। इसे दिखाकर अभ्यर्थी राजस्थान रोडवेज में फ्री यात्रा कर सकेंगे।

परीक्षा केंद्रों में होगी वीडियोग्राफी
REET परीक्षा के दौरान प्रदेशभर में संवेदनशील और अति संवेदनशील परीक्षा केंद्रों में वीडियोग्राफी करवाई जाएगी, जबकि निजी स्कूलों में बनाए जाने वाले परीक्षा केंद्रों में आधे पर्यवेक्षक सरकारी होंगे और सुपरवाइजर का काम भी सरकारी अधिकारी और कर्मचारी ही करेंगे। इससे परीक्षा में किसी भी तरह की धांधली की संभावना न रहे।

राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड की ओर से जारी निर्देशों के अनुसार ऐसे परीक्षा केंद्र जहां पर इंटरनेट की सुविधा है। उन केंद्रों पर प्रश्न पत्र पहुंचने से कम से कम दो घंटे पहले ही इंटरनेट सुविधा को बंद कर दिया जाएगा। इसके साथ ही परीक्षा वाले दिन परीक्षा केंद्र पर कक्षाओं, कोचिंग या हॉस्टल का संचालन भी नहीं होगा, ताकि किसी भी तरह की धांधली और बेईमानी को रोका जा सके।

इस लिंक पर क्लिक कर हमें भेजें आपके सवाल

ये भी पढ़ें...

REET 2021 साइकोलॉजी टीचिंग मेथड:मॉडल टेस्ट देकर परखें अपने टीचिंग स्किल्स, देखें 'हिन्दी व्याकरण व शिक्षण विधियां' की आंसर की

किसी की शादी अटकी, किसी के लिए REET आखिरी मौका:खुद को साबित करने को तैयार लाखों अभ्यर्थी, घर-परिवार छोड़ तैयारी में जुटे, बोले- अब आगे न बढ़े एग्जाम डेट

REET क्लियर करने का सबसे महत्वपूर्ण टिप्स:आज टीचिंग मेथड से जुड़े सवालों के जवाब पढ़िए, इनको समझ लिया तो 33 हजार शिक्षकों की लिस्ट में हो सकता है आपका नाम

REET 2021 में SST-इतिहास की तैयारी: रटने की बजाय उपन्यास की तरह दिमाग में उतारें हिस्ट्री, क्रोनोलॉजिकल ऑर्डर में करें तैयारी, एक्सपर्ट बनने की जगह सिलेबस के टॉपिक पर करें फोकस

खबरें और भी हैं...