• Hindi News
  • Reet 2021
  • Videography Will Be Done During Paper Distribution, Toll Free For Buses Full Of Candidates; Decision Will Be Taken At District Level On Internet Shutdown

REET में इंटरनेट बंद का फैसला कलेक्टर लेंगे:अभ्यर्थियों से भरी बस टोल फ्री होगी, एडमिट कार्ड दिखाने पर जयपुर मेट्रो और लो फ्लोर बसों में भी नहीं लगेगा किराया

जयपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा। - Dainik Bhaskar
शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा।

राजस्थान में 26 सितंबर को होने जा रहे REET को शांतिपूर्ण कराने के क्रम में शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा ने कहा कि परीक्षा के दिन इंटरनेट बंद रखने का फैसला जिले के नोडल अधिकारी (कलेक्टर) ले सकेंगे। स्थानीय परिस्थिति के आधार पर पुलिस और प्रशासन को फैसला लेने की छूट दी गई है। गृह विभाग ने एडवाइजरी जारी कर कहा है कि नकल रोकने के लिए संभागीय आयुक्त अपने स्तर पर 26 सितम्बर को इंटरनेट बन्द करने का आदेश दे सकते हैं। रविवार को 31 हजार पदों के लिए दो पारियों में 25 लाख से ज्यादा अभ्यर्थी परीक्षा देंगे। मेट्रो और लो फ्लोर बसों में भी अभ्यर्थियों से किराया नहीं वसूला जाएगा।

एडमिट कार्ड साथ रखना जरूरी

शिक्षा मंत्री ने बताया कि राजस्थान में REET अभ्यर्थियों से भरी बसों को टोल फ्री कर दिया गया है। ताकि उन्हें नाके पर अतिरिक्त वक्त न लगे। REET के मद्देनजर राजस्थान में शिक्षा विभाग के सभी कार्यालयों को अवकाश के बावजूद 25 और 26 सितंबर को खोला जाएगा, ताकि परीक्षा के दौरान अभ्यर्थियों को किसी भी तरह की समस्या का सामना न करना पड़े। जयपुर मेट्रो के सीएमडी ने बताया कि राजस्थान सरकार के आदेश के मुताबिक, सभी कैंडिडेट के लिए 25 और 26 सितम्बर को जयपुर मेट्रो में यात्रा फ्री रहेगी। परीक्षा का एडमिट कार्ड स्टूडेंट्स को साथ रखना होगा। बड़ी चौपड़ से मानसरोवर मेट्रो स्टेशन तक पहली मेट्रो सुबह 5.20 से सुबह 6.20 बजे तक हर 15 मिनट पर चलेगी। सुबह 6.20 से रात 9.20 बजे तक हर 10 मिनट के गैप पर, जबकि रात 9.20 बजे से आखिरी मेट्रो 11.59 बजे तक हर 15 मिनट के गैप पर मिलेगी।

जिला स्तर पर होगा इंटरनेट बंद रखने पर फैसला

शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा ने बताया कि प्रदेश के निजी स्कूलों में जहां सेंटर बनाए गए हैं, वहां के सीसीटीवी कैमरे कवर कर दिए जाएंगे। राजस्थान में पिछले कुछ वक्त से निजी स्कूलों में सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं। इनमें अभिभावक घर बैठे अपने बच्चों को पढ़ता देख सकते हैं। ऐसे में परीक्षा के दौरान निजी स्कूलों के कैमरे कवर किए जाएंगे। ताकि परीक्षा केंद्र से REET पेपर आउट न हो। पिछले दिनों शिक्षा मंत्री के इसी फैसले को लेकर सोशल मीडिया पर विवाद हो गया था। इसको लेकर अब शिक्षा मंत्री ने सफाई पेश की है। राजस्थान में REET के लिए जिला स्तर पर नोडल अधिकारी नियुक्त किए गए हैं, जो अपने जिले में परिवहन से लेकर अभ्यर्थियों के भोजन तक की व्यवस्था देखेंगे।

REET अभ्यर्थियों को बड़ी राहत:राजस्थान रोडवेज की बसों में 20 से 30 सितंबर तक निशुल्क यात्रा कर सकेंगे अभ्यर्थी, राज्य सरकार ने जारी किया आदेश

REET की तैयारियों में जुटा जयपुर प्रशासन:सड़कों पर तैनात होंगे 10 हजार पुलिसकर्मी, ड्रोन से होगी चप्पे-चप्पे की निगरानी, पांच अस्थायी बस स्टैंड बनाए गए

निजी बसों में भी फ्री यात्रा कर सकेंगे REET अभ्यर्थी:छात्रों को आईडी-एडमिट कार्ड साथ रखना होगा, सेंटर तक पेपर पहुंचने की वीडियोग्राफी; गड़बड़ी पर अधिकारी-कर्मचारी होंगे बर्खास्त

खबरें और भी हैं...