तीर्थ दर्शन / प्रयागराज में है भीष्म पितामाह का मंदिर, तीरों की शैया पर लेटी है मूर्ति



bhishma ashtami on 13th february
X
bhishma ashtami on 13th february

Dainik Bhaskar

Feb 13, 2019, 06:29 PM IST

रिलिजलन डेस्क. भीष्म पितामाह महाभारत के प्रमुख योद्धाओं में से थे। वे अपने बल और बुद्धि के लिए जाने जाते हैं। देवी गंगा और शांतनु के पुत्र ने अपनों के भले के लिए कभी विवाह न करने की प्रतिज्ञा ली थी। उनकी इस प्रतिज्ञा पर ही उन्हें अपने पिता द्वारा 'इच्छामृत्यु' का वरदान मिला था।  इस योद्धा का भारत में एक ही मंदिर है जो कि उत्तर प्रदेश के प्रयागराज में स्थित है। प्रयागराज शहर ना सिर्फ तहजीब और सभ्यता के लिए जाना जाता है बल्कि यहां मौजूद बहुत सारे छोटे-बड़े मंदिरों के लिए भी जाना जाता है। इन्हीं मंदिरों में से एक है ये भीष्म पितामह का मंदिर। जो यहां के लोगों में काफी प्रसिद्ध है।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना