बुद्ध पूर्णिमा / 'सत्य के मार्ग पर चलते हुए कोई दो ही गलतियां कर सकता है......गौतम बुद्ध के 10 संदेश

Dainik Bhaskar

May 18, 2019, 09:08 AM IST


Buddha Purnima: 10 Gautam Buddha Quotes on Life, Peace, Forgiveness, and Truth
X
Buddha Purnima: 10 Gautam Buddha Quotes on Life, Peace, Forgiveness, and Truth

  •  बुद्ध गौतम के इन संदेश से कोई भी व्यक्ति बहुत कुछ सीख सकता है
  •  बुद्ध के इन विचारों से जीवन जीने का नया मकसद मिलता है

नई दिल्ली. बुद्ध पूर्णिमा या वैशाख पूर्णिमा आज 18 मई (शनिवार) को है। इस दिन बौद्ध धर्म के संस्थापक गौतम बुद्ध का जन्म हुआ था। इसलिए बौद्ध धर्म के अनुयायी इस दिन को उनके जन्मोत्सव के रुप में मनाते हैं। बुद्ध गौतम भले ही आज ना हों लेकिन उनके विचार या संदेशों से बहुत कुछ सीखा जा सकता है। बुद्ध के विचार ऐसे हैं कि निराश व्यक्ति भी अगर उनको पढ़े तो उसे जीवन का एक नया मकसद मिल सकता है। 
 

गौतम बुद्ध के संदेश या अनमोल विचार...

  1. 1. एक निष्ठाहीन अर्थात बुरा मित्र किसी जंगली जानवर से ज्यादा खतरनाक होता है, क्योंकि एक जंगली जानवर केवल आपके शरीर को नुकसान पहुंचा सकता है, जबिक एक बुरा दोस्त आपके दिमाग को आघात पहुंचा सकता है....

     

    2. सत्य के मार्ग पर चलते हुए कोई दो ही गलतियां कर सकता है, पूरा रास्ता न तय करना और इसकी शुरुआत ही न करना।

     

    3. जीवन मिलना भाग्य की बात है, मृत्यू होना समय की बात है, पर

    मृत्यू के बाद भी लोगों के दिलों में जीवित रहना, ये कर्मों की बात है।

  2. गौतम बुद्ध के संदेश या अनमोल विचार...

    4. आप चाहें कितनी ही अच्छी-अच्छी किताबें पढ़ लें, कितने भी अच्छे शब्द सुनें, लेकिन जब तक आप उनको आचरण में नहीं लाते, तब तक उसका कोई फायदा नहीं होगा।

     

    5. तीन जीजें ज्यादा देर तक नहीं छिप सकती
     सूरज, चंद्रमा और सत्य...

     

    6. घृणा कभी घृणा करने से कम नहीं होती, बल्कि प्रेम से घटती है यही साश्वत सत्य है।

  3. गौतम बुद्ध के संदेश या अनमोल विचार...

    7. क्रोध में हजारों शब्दों को गलत बोलने से अच्छा है मौन रहना। यह जीवन में शांति लाता है। 

     

    8. तुम अपने क्रोध के लिए दंड नहीं पाओगे, तुम अपने क्रोध द्वारा दंड पाओगे।


    9. अतीत पर ध्यान केन्द्रित मत करो, भविष्य का सपना भी मत देखो, वर्तमान क्षण पर ध्यान केंद्रित करो।

     

     10. मैं कभी नहीं देखता कि क्या किया जा चुका है, मैं हमेशा देखता हूं कि क्या किया जाना बाकी है।

COMMENT