चाणक्य नीति / जहां मूर्खों की पूजा होती है और क्लेश होता है, वहां दुख कभी खत्म नहीं होता



chanakya niti full in hindi, chanakya niti 2019, we should remember this tips for happy life
X
chanakya niti full in hindi, chanakya niti 2019, we should remember this tips for happy life

  • चाणक्य की बातें ध्यान रखेंगे तो बच सकते हैं कई परेशानियों से

Dainik Bhaskar

Jul 30, 2019, 01:24 PM IST

जीवन मंत्र डेस्क। पुराने समय में जब भारत जब खंड-खंड में बंटा हुआ था, तब आचार्य चाणक्य ने भारत को एकजूट किया था। चाणक्य ने एक सामान्य बालक चंद्रगुप्त को अखंड भारत का सम्राट बनाया। चाणक्य ने जीवन को सुखी और सफल बनाने के लिए नीति शास्त्र की रचना की थी। इस शास्त्र में बताई गई बातों का ध्यान रखने पर हम आज भी कई परेशानियों से बच सकते हैं। जानिए ऐसी ही एक चाणक्य नीति...
चाणक्य नीति में लिखा है कि
मूर्खा यत्र न पूज्यन्ते धान्य यत्र सुसंचितम्।
दंपतो: कलहो नास्ति तत्र श्री: स्वयमागता।।

ये चाणक्य नीति ग्रंथ के तीसरे अध्याय का 21वां श्लोक है।

इस नीति श्लोक में चाणक्य कहते हैं कि जिस जगह पर मूर्खों की पूजा नहीं होती है, सिर्फ ज्ञानियों का सम्मान होता है। ज्ञानियों की बातों पर अमल किया जाता है। जहां धन-धान्य पर्याप्त मात्रा में संग्रहित रहते हैं, अन्न का एक दाना भी व्यर्थ नहीं फेंका जाता, जिस घर में पति-पत्नी के बीच वाद-विवाद नहीं होते हैं, सभी प्रेम से रहते हैं, वहां देवी लक्ष्मी स्वयं पधारती हैं। ऐसी जगह पर सुख-समृद्धि सदैव बनी रहती है।
जो लोग मूर्खों की पूजा करते हैं यानी मूर्खों की सेवा करते हैं, जहां धन-धान्य का अपमान किया जाता है, संग्रहण नहीं किया जाता, जिस घर में पति-पत्नी सदैव लड़ते रहते हैं, जहां क्लेश होता रहता है, वहां देवी लक्ष्मी रुकती नहीं है। लक्ष्मी कृपा के बिना इन गलत कामों की वजह से परिवार का धन नष्ट हो सकता है। इसीलिए मूर्ख लोगों की संगत से बचें, थाली में खाना न छोड़ें, परिवार में प्रेम बनाए रखें। तभी जीवन सुखी हो सकता है। अगर इन बातों का ध्यान नहीं रखा तो दुख कभी खत्म नहीं होंगे।

 

DBApp

 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना