पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

ग्रहों न्यायाधीश शनिदेव है मकर और कुंभ के स्वामी, हर शनिवार की जाती है इनकी विशेष पूजा

एक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
  • शनि कर्म प्रधान देवता हैं, हम जैसा कर्म करते हैं, वैसा ही फल देते हैं शनिदेव

जीवन मंत्र डेस्क। ज्योतिष में सूर्य, चंद्र, मंगल, बुध, गुरु, शुक्र, शनि और राहु-केतु, कुल नौ ग्रह बताए गए हैं। इन नौ ग्रहों में शनिदेव को न्यायाधीश माना गया है। यही ग्रह हमारे कर्मों का फल प्रदान करता है। शनि सूर्यदेव के पुत्र हैं और मकर-कुंभ राशि के स्वामी हैं। उज्जैन के ज्योतिषाचार्य पं. मनीष शर्मा के अनुसार शनिवार का कारक ग्रह शनि है। इसीलिए इस दिन शनिदेव की पूजा की जाती है। यहां जानिए शनिदेव से जुड़ी खास बातें...

0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव - आज पिछली कुछ कमियों से सीख लेकर अपनी दिनचर्या में और बेहतर सुधार लाने की कोशिश करेंगे। जिसमें आप सफल भी होंगे। और इस तरह की कोशिश से लोगों के साथ संबंधों में आश्चर्यजनक सुधार आएगा। नेगेटिव-...

और पढ़ें