ज्वालादेवी मंदिर / अकबर और अंग्रेजों ने की थी ज्वाला बुझाने की कोशिश, लेकिन रहे थे नाकाम



jwala devi mandir in himachal pradesh
jwala devi mandir in himachal pradesh
jwala devi mandir in himachal pradesh
jwala devi mandir in himachal pradesh
jwala devi mandir in himachal pradesh
jwala devi mandir in himachal pradesh
jwala devi mandir in himachal pradesh
jwala devi mandir in himachal pradesh
X
jwala devi mandir in himachal pradesh
jwala devi mandir in himachal pradesh
jwala devi mandir in himachal pradesh
jwala devi mandir in himachal pradesh
jwala devi mandir in himachal pradesh
jwala devi mandir in himachal pradesh
jwala devi mandir in himachal pradesh
jwala devi mandir in himachal pradesh

Dainik Bhaskar

Oct 11, 2018, 05:13 PM IST

रिलिजन डेस्क. हिमाचल प्रदेश में कांगड़ा 30 किलोमीटर दूर ज्वाला देवी का प्रसिद्ध मंदिर है। ज्वाला मंदिर को जोता वाली मां का मंदिर और नगरकोट भी कहा जाता है। यह मंदिर माता के अन्य मंदिरों की तुलना में अनोखा है क्योंकि यहां पर किसी मूर्ति की पूजा नहीं होती है बल्कि पृथ्वी के गर्भ से निकल रही नौ ज्वालाओं की पूजा होती है। 51 शक्तिपीठ में से एक इस मंदिर में नवरात्र में इस मंदिर पर भक्तों का तांता लगा रहता है। बादशाह अकबर ने इस ज्वाला को बुझााने की कोशिश की थी लेकिन वो नाकाम रहे थे। वैज्ञानिक भी इस ज्वाला के लगातार जलने का कारण नहीं जान पाए हैं।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना