प्रेरक प्रसंग : पति-पत्नी झगड़ रहे थे और जोर-जोर से चिल्ला रहे थे, ये देखकर संत ने अपने शिष्यों से पूछा कि गुस्से में लोग चिल्लाते क्यों हैं? / प्रेरक प्रसंग : पति-पत्नी झगड़ रहे थे और जोर-जोर से चिल्ला रहे थे, ये देखकर संत ने अपने शिष्यों से पूछा कि गुस्से में लोग चिल्लाते क्यों हैं?

dainikbhaskar.com

Jan 14, 2019, 05:59 PM IST

क्रोध में चिल्लाना पड़ता है, लेकिन प्रेम में बिना बोले भी पति-पत्नी समझ लेते हैं मन की बात

motivational story for wife and husband, inspirational story for married life

रिलिजन डेस्क। एक संत अपने शिष्यों के साथ कहीं जा रहे थे। रास्ते में उन्होंने देखा कि पति-पत्नी बात करते-करते एक दूसरे पर गुस्सा हो गए और जोर-जोर से चिल्लाने लगे। संत ने देखकर अपने शिष्यों से पूछा, क्रोध में लोग एक-दूसरे पर चिल्लाते क्यों हैं?

> सभी शिष्य कुछ देर सोचते रहे, इसके बाद एक ने जवाब दिया कि हम क्रोध में शांति खो देते हैं। इस कारण जोर-जोर से चिल्लाते हैं।

> इसके बाद गुरु ने कहा, लेकिन जब दूसरा व्यक्ति हमारे सामने ही खड़ा है तो चिल्लाने की क्या जरूरत है? जो कहना है हम धीमी आवाज में भी बोल सकते हैं।

> कुछ और शिष्यों ने भी उत्तर देने की कोशिश की, लेकिन सभी संतुष्ट नहीं हुए।

> इसके बाद संत ने शिष्यों को समझाया कि जब दो लोग आपस में नाराज होते हैं तो उनके दिल एक-दूसरे से बहुत दूर हो जाते हैं। इस अवस्था में वे एक-दूसरे को बिना जोर से बोले सुन नहीं सकते।

> लोग जितना ज्यादा गुस्से में होंगे, उनके बीच की दूरी उतनी ही अधिक हो जाएगी और उन्हें उतनी ही तेजी से चिल्लाना पड़ेगा।

> संत आगे कहा कि जब पति-पत्नी या दो लोग प्रेम में होते हैं, तब वे चिल्लाते नहीं हैं, बल्कि धीरे-धीरे बात करते हैं, क्योंकि उनके दिल करीब होते हैं। उनके बीच दूरी नहीं होती है।

> संत ने अपने शिष्यों को बताया कि जब पति-पत्नी एक-दूसरे को बहुत ज्यादा प्रेम करते हैं तो वे बोलते भी नहीं, वे सिर्फ एक-दूसरे की तरफ देखते हैं और सामने वाले की बात समझ जाते हैं।

X
motivational story for wife and husband, inspirational story for married life
COMMENT