• Hindi News
  • Religion
  • Dharam
  • Makar Sankranti 2020 will be Celebrated 15 January with 2 Shubh Yoga in Uttarayan Makar Sankranti Rashifal 2020

पर्व / 15 जनवरी को 2 शुभ योग में मनेगी मकर संक्रांति, 9 राशियों के लिए शुभ है सूर्य का उत्तरायण

Makar Sankranti 2020 will be Celebrated 15 January with 2 Shubh Yoga in Uttarayan Makar Sankranti Rashifal 2020
X
Makar Sankranti 2020 will be Celebrated 15 January with 2 Shubh Yoga in Uttarayan Makar Sankranti Rashifal 2020

वर्धमान और बुधदित्य योग में पुण्यकाल होने से तीर्थ स्नान, दान और हवन करना फलदायी

Dainik Bhaskar

Jan 03, 2020, 03:24 PM IST

जीवन मंत्र डेस्क. मकर संक्रांति का पर्व हिंदू कैलेंडर के अनुसार इस बार 14 नहीं 15 जनवरी बुधवार को मनाया जाएगा। ज्योतिषाचार्य पं प्रफुल्ल भट्ट के अनुसार 14 जनवरी की देर रात 2 बजकर 21 मिनट पर सूर्य मकर राशि में प्रवेश करेगा। इस कारण सूर्योदय व्यापिनी तिथि में यह त्योहार 15 जनवरी को मनेगा। सूर्य के मकर राशि में प्रवेश को ही मकर संक्रांति कहते हैं। इस साल मकर संक्रांति पर सूर्य और बुध एक साथ होने से बुधादित्य योग बना रहे हैं। इसके अलावा उत्तराफाल्गुनी नक्षत्र होने से वर्धमान नाम का एक शुभ योग और बन रहा है।  

  • पं भट्ट के अनुसार साल में 12 संक्रांति होती है, लेकिन मकर संक्रांति का विशेष महत्व है। क्योंकि इस दिन से सूर्य उत्तरायण हो जाते हैं। जब सूर्य मकर से मिथुन राशि तक भ्रमण करता है तब उत्तरायण रहता है इसके बाद कर्क से धनु राशि तक सूर्य के रहने पर दक्षिणायन होता है। मकर संक्रांति से देवताओं के दिन और दैत्यों की रात शुरू हो जाती है। इस वजह से विवाह, गृह प्रवेश, यज्ञोपवीत, मूर्ति प्रतिष्ठा करने जैसे शुभ कार्य संक्रांति के बाद शुरू हो जाते हैं। 

दान का महत्व 

15 जनवरी 2020 को विशेष पुण्यकाल 8 बजकर 14 मिनट से सूर्यास्त तक रहेगा। पुण्य काल के समय में तीर्थ स्नान, दान, जाप, हवन, तुलादान, गौदान, स्वर्ण दान का विशेष महत्व है। गरीबों को कम्बल, ब्राह्मणों को खिचड़ी एवं तिल गुड़ का पात्र भरकर दान करने से शुभ फल की प्राप्ति होती है। स्नान के पूर्व शरीर पर तिल का उबटन लगाकर स्नान करने से आरोग्य की वृद्धि होती है । 

संक्रांति का फल

पं भट्ट के अनुसार मकर संक्रांति पर्व, उत्तराफाल्गुनी नक्षत्र में माघ मास के कृष्ण पक्ष की पंचमी पर होने वाली संक्रांति के बीच मनेगा। इस कारण यह सर्व सुख प्रदान करने वाली है। इसका वाहन गर्दभ होने से निर्माण की गतिविधियों में बढ़ोतरी, अपवाहन मेष होने से प्रजा में आततायियों का आतंक बढ़ेगा और दंड की प्रबलता बढ़ेगी। पांडुर वस्त्र धारण करने से महंगाई में वृद्धि होगी। वैष्णवों को कष्ट, केतकी पुष्प के कारण शिव आराधना करने से सुख की प्राप्ति होगी। 

12 राशियों पर संक्रांति का प्रभाव 

मेष राशि वालों को धन लाभ होने के योग हैं, वृष राशि वालों को कार्यसिद्धि से फायदा होगा, मिथुन राशि वालों को विजय मिलेगी, कर्क राशि के लिए आर्थिक हानि का समय, सिंह राशि वालों को शुभ समाचार मिल सकता है, कन्या राशि वालों को आत्मसंतोष होगा, तुला राशि वालों को धन लाभ, वृश्चिक राशि के लोग कलह और विवाद के कारण परेशान हो सकते हैं, धनु राशि वाले लोगों के ज्ञान में वृद्धि होगी, मकर राशि वालों का यश और कीर्ति बढ़ेगी, कुंभ राशि वालों को सम्मान मिलेगा और मीन राशि वाले भय ग्रस्त रह सकते हैं।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना