पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

नवंबर में आएगी देवउठनी एकादशी, तुलसी विवाह और पूर्णिमा, चातुर्मास होंगे समाप्त

9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

जीवन मंत्र डेस्क। 2019 का 11वां माह नवंबर शुरू हो गया है। इस माह में कई विशेष तिथियां आएंगी। हिन्दी पंचांग के अनुसार नवंबर में कार्तिक माह खत्म होगा और अगहन मास की शुरुआत होगी। उज्जैन के ज्योतिषाचार्य पं. मनीष शर्मा के अनुसार जानिए किस तिथि पर कौन से शुभ काम किए जा सकते हैं...

  1. शनिवार, 2 नवंबर को छठ पर्व है। इस दिन पवित्र नदियों में स्नान और सूर्य की विशेष पूजा करने की प्राचीन परंपरा है।
  2. मंगलवार, 5 नवंबर को अक्षय नवमी है। इसे आंवला नवमी भी कहा जाता है। इस तिथि पर पानी में आंवले का रस मिलाकर स्नान करना चाहिए। आंवले के वृक्ष की पूजा करनी चाहिए।
  3. शुक्रवार, 8 नवंबर को देवउठनी एकादशी है। इस दिन भगवान विष्णु विश्राम से जागेंगे और सृष्टि का संचालन संभालेंगे। देवउठनी एकादशी से सभी मांगलिक कर्म शुरू हो जाएंगे। इस दिन तुलसी विवाह करने की भी परंपरा है, तुलसी की पूजा करनी चाहिए।
  4. शनिवार, 9 नवंबर को चातुर्मास खत्म हो जाएंगे।
  5. मंगलवार, 12 नवंबर को कार्तिक माह की पूर्णिमा है। इस दिन नदियों में स्नान और दीपदान करने की परंपरा है। इस तिथि पर कार्तिक माह खत्म हो जाएगा।
  6. बुधवार, 13 नवंबर से नया हिन्दी माह अगहन शुरू हो रहा है।
  7. शुक्रवार, 15 नवंबर को गणेश चतुर्थी व्रत रहेगा। इस तिथि पर गणेशजी के लिए विशेष व्रत किया जाता है।
  8. मंगलवार, 19 नवंबर को कालभैरव अष्टमी है। इस भगवान कालभैरव के लिए विशेष पूजा-पाठ किए जाते हैं।
  9. शुक्रवार, 22 नवंबर को उत्पन्ना एकादशी है। इस दिन भगवान विष्णु के लिए व्रत-उपवास किए जाते हैं। एकादशी पर विष्णुजी के अवतारों की पूजा करने की परंपरा है।
  10. मंगलवार, 26 नवंबर को अगहन मास की अमावस्या तिथि है। इस दिन पितरों के लिए तर्पण, श्राद्ध कर्म करने की परंपरा है।
  11. शनिवार, 30 नवंबर को विनायकी चतुर्थी है। इस दिन गणेशजी के लिए पूजा-पाठ करनी चाहिए।
0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज आपका कोई सपना साकार होने वाला है। इसलिए अपने कार्य पर पूरी तरह ध्यान केंद्रित रखें। कहीं पूंजी निवेश करना फायदेमंद साबित होगा। विद्यार्थियों को प्रतियोगिता संबंधी परीक्षा में उचित परिणाम ह...

और पढ़ें