दीपावली / पूजन के लिए चौकी पर महालक्ष्मी और गणेशजी की मूर्तियां इस प्रकार रखें कि उनका मुख पूर्व या पश्चिम दिशा में रहे



poojan vidhi of laxmi pooja at diwali
X
poojan vidhi of laxmi pooja at diwali

Dainik Bhaskar

Nov 05, 2018, 06:43 PM IST

रिलिजन डेस्क. बुधवार, 7 नवंबर दिवाली है। इस दिन पूजा के लिए मां लक्ष्मी किस प्रकार स्थापित करना है? इस बात का विशेष ध्यान रखना चाहिए। मां लक्ष्मी की चौकी विधि-विधान से सजाई जानी चाहिए। उज्जैन के ज्योतिषाचार्य पं. मनीष शर्मा के अनुसार जो भी भक्त मां लक्ष्मी की पूजा के लिए विधिवत व्यवस्था करते हैं, उनकी पूजा जल्दी सफल हो सकती है।

यहां जानिए लक्ष्मी पूजन की खास बातें...

  1. दिवाली पूजन के लिए चौकी पर लक्ष्मी व गणेश की मूर्तियां इस प्रकार रखें कि उनका मुख पूर्व या पश्चिम में रहे।

     

    • लक्ष्मीजी, गणेशजी के दाहिनी ओर स्थापित करें। कलश को लक्ष्मीजी के पास चावल पर रखें।
    • नारियल को लाल वस्त्र में इस प्रकार लपेटे कि नारियल का आगे का भाग दिखाई दे और इसे कलश पर रखें। यह कलश वरुणदेव का प्रतीक है।
    • कलश स्थापित करने के बाद दो बड़े दीपक रखें। एक दीपक घी का व दूसरा दीपक तेल का लगाएं। एक दीपक चौकी के दाहिनी ओर रखें एवं दूसरा मूर्तियों के चरणों में। इसके अतिरिक्त एक दीपक गणेशजी के पास रखें।

  2. लक्ष्मी की कृपा के लिए कैसे सजाएं छोटी चौकी?

    दिवाली पर लक्ष्मी पूजन के समय एक चौकी पर मां लक्ष्मी और श्रीगणेश आदि प्रतिमाएं स्थापित की जाती हैं। इसके अतिरिक्त एक छोटी चौकी भी बनाई जाती है। इस चौकी को भी विधि-विधान से सजाना चाहिए। छोटी चौकी को कैसे सजाना चाहिए, जानिए-

     

    • लक्ष्मी व गणेश व अन्य देवी-देवताओं की मूर्तियों वाली चौकी के सामने छोटी चौकी रखकर उस पर लाल वस्त्र बिछाएं। फिर कलश की ओर एक मुट्ठी चावल से लाल वस्त्र पर नवग्रह की प्रतीक नौ ढेरियां तीन लाइनों में बनाएं। इसे आप चित्र में (1) चिह्न से देख सकते हैं।
    • गणेशजी की ओर चावल की सोलह ढेरियां बनाएं। यह सोलह ढेरियां मातृका (2) की प्रतीक है। जैसा कि चित्र में चिन्ह (2) पर दिखाया गया है। नवग्रह व सोलह मातृका के बीच में स्वस्तिक (3) का चिन्ह बनाएं। इसके बीच में सुपारी (4) रखें व चारों कोनों पर चावल की ढेरी रखें।
    • लक्ष्मीजी की ओर श्री का चिन्ह (5) बनाएं। गणेशजी की ओर त्रिशूल (6) बनाएं। एक चावल की ढेरी (7) लगाएं जो कि ब्रह्माजी की प्रतीक है। सबसे नीचे चावल की नौ ढेरियां बनाएं (8) जो मातृक की प्रतीक है।
    • सबसे ऊपर ऊँ (9) का चिन्ह बनाएं। इन सबके साथ ही व्यापारियों को कलम, दवात, बहीखाते और सिक्कों की थैली भी रखना चाहिए।
    • इस प्रकार मां लक्ष्मी की चौकी सजाने पूजा जल्दी सफल हो सकती है।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना