ग्रह स्थिति / धनु राशि में वक्री से मार्गी हुआ शनि, बदल जाएगा सभी 12 राशियों पर शनि का असर



shani ka rashifal, shani in dhanu rashi, margi shani, Saturn in Sagittarius, shani transit
X
shani ka rashifal, shani in dhanu rashi, margi shani, Saturn in Sagittarius, shani transit

 

  • शनि की वजह से मेष, सिंह राशि को मिलेगा लाभ, बाकी राशियों के लिए बढ़ सकती हैं परेशानियां

Dainik Bhaskar

Sep 18, 2019, 06:41 PM IST

जीवन मंत्र डेस्क। बुधवार, 18 सितंबर की रात शनि वक्री से मार्गी हो गया है। शनि धनु राशि में स्थित है। मार्गी होना यानी सीधा चलना। उज्जैन के ज्योतिषाचार्य पं. मनीष शर्मा के अनुसार अब सभी 12 राशियों के लिए शनि का असर बदल जाएगा। धनु राशि में शनि मार्गी होने से मेष, कर्क, सिंह, तुला, वृश्चिक, कुंभ और मीन राशि के लोगों को लाभ मिलेगा। जबकि कुछ लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। शनि के अशुभ असर से बचने के लिए हर शनिवार तेल का दान करना चाहिए। हनुमान चालीसा का पाठ करें। जानिए सभी 12 राशियों पर शनि का कैसा असर रहेगा...

  1. मेष- नवम शनि सभी प्रकार से अनुकूल है। परिश्रम का फल प्राप्त होगा और क्रेडिट भी मिलेगा। अधिकारी प्रशंसा करेंगे। समय का सदुपयोग करने में सफल होंगे। साथी कर्मचारी आपकी बात मानेंगे। योजनाएं सफल होंगी। प्रतिष्ठित लोगों से संपर्क बढ़ेगा। नई जिम्मेदारी प्राप्त हो सकती है। श्रीदुर्गाजी को वस्त्र अर्पण करें एवं प्रसाद चढ़ाएं।
  2. वृषभ- अष्टम शनि मार्गी होने से लोहे का कार्य करने वालों को नुकसान हो सकता है। इसके अलावा तेल और खनिज का कार्य करने वालों को भी संभलकर रहना होगा। नसों में खिंचाव एवं रक्त संबंधी समस्या हो सकती है। परिवार में मेलजोल कम होगा। हनुमानजी की सेवा करने से लाभ होगा।
  3. मिथुन- सप्तम शनि और उसकी पूर्ण दृष्टि से विवादित मामलों में पक्ष कमजोर हो सकता है। यह समय सतर्क रहने का है। लेन-देन में सावधानी रखें और किसी को उधार न दें। परिवार से भी असहयोग रह सकता है। योजनाओं में बदलाव करना पड़ सकता है। गणेशजी को घी और सिंदूर चढ़ाएं।
  4. कर्क- षष्ठम शनि से राशि को लाभ मिलेगा और अटके कार्यों में गति आएगी। दोस्तों से सहयोग प्राप्त होगा। सरकारी कार्यों में विलंब दूर होगा। राजनीतिज्ञों के लिए शनि फायदा बढ़ाने वाला हो सकता है। श्रीराम-सीता का दर्शन-पूजन रोज करें।
  5. सिंह- पंचम शनि से कोई हानि होने की संभावना नहीं है। योग्यता का पूर्ण उपयोग कर पाएंगे और लक्ष्य साधने में सफल होंगे। परिवार में मांगलिक कार्य होंगे और नए वाहन की प्राप्ति संभव है। दोस्तों से सहयोग प्राप्त होगा। योजनाएं सफल होंगी। हनुमानजी को तेल का दीपक लगाएं।
  6. कन्या- शनि की पूर्ण दशम दृष्टि राशि पर है और राशि से चतुर्थ है। शनि का ढय्या है। इसलिए किसी का सहयोग कर पर नुकसान हो सकता है। नई विद्याएं जानने की इच्छा रहेगी। मित्रों से असहयोग और आय में उठाव रहेगा। नौकरी में नई जिम्मेदारी मिल सकती है। श्रीहनुमानजी को चमेली का तेल मिश्रित सिंदूर चढ़ाएं।
  7. तुला- राशि से तृतीय शनि रहेगा। मेहमानों का आगमन होगा और नए वस्त्र-आभूषणों की प्राप्ति हो सकती है। आधुनिक सुख सुविधाओं की प्राप्ति होगी। काम-काज व्यवस्थित रहेगा। समाज में प्रतिष्ठा बढ़ेगी। कार्यों में आ रही बाधाएं खत्म होंगी। समय शुभ रहेगा। श्रीगणेशजी को लाल फूल और प्रसाद अर्पण करें।
  8. वृश्चिक- उतरती हुई शनि की साढ़ेसाती और शनि का मार्गी होना लाभदायक रहेगा। पिछले नुकसान को पूरा करने में शनि सहायक होगा। स्वास्थ्य में लाभ होगा एवं क्रोध पर भी नियंत्रण बनेगा। लोन संबंधी समस्याओं का हल निकलेगा। विरोधी नियंत्रण में रहेंगे। नवीन वाहन प्राप्त होने के योग है। शनिवार को पीपल में घी का दीपक लगाएं।
  9. धनु- शनि का गोचर राशि में ही है। शनि की साढ़ेसाती भी है। कार्य करने की शैली कमजोर पड़ सकती है। विरोधी हावी होने का प्रयास करेंगे। क्रोध पर नियंत्रण रखकर अच्छे समय का इंतजार करें। स्वास्थ्य के प्रति भी सचेत रहना होगा। पैर में चोट लगने का भय है। शनिवार को पीपल के पास घी का दीपक जलाएं। हनुमानजी का पूजन करें।
  10. मकर- द्वादश शनि और शनि की साढ़ेसाती है। पराक्रम पर असर पड़ रहा है। नौकरी में कम सम्मान मिलेगा और शरीर में पीड़ा रहेगी। नई परेशानियां खड़ी हो सकती हैं। संयम से कार्य करें और विवादों से दूर रहने का प्रयास करें। रक्त और हड्डी से संबंधी समस्याएं रहेंगी। गुरुदेव का पूजन करें।
  11. कुंभ- राशि स्वामी शनि अभी अपनी तीसरी पूर्ण दृष्टि से कृपा बनाए हुए है। किसी प्रकार का कोई परेशानी आने की संभावना नहीं है। योग्यता के अनुसार आय होगी और सम्मान प्राप्त होगा। किसी नए व्यवसाय से जुड़ने का मन बनेगा और सोच सकारात्मक रहेगी। मित्रों से मदद प्राप्त होगी। श्रीगणेशजी को लड्डू का भोग लगाएं।
  12. मीन- राशि से दशम शनि कुछ बड़ा कार्य करवाने का इच्छुक है। योग्यता के अनुसार बड़ी सफलता प्राप्त होगी और साथियों से ज्यादा तरक्की करने का मौका प्राप्त होगा। आय की स्थिति भी बेहतरीन रहने की संभावना है। श्रीहनुमानजकी सेवा करें और किसी गरीब को भोजन कराएं।
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना