ग्रंथ ज्ञान / सुखी वैवाहिक जीवन के लिए ध्यान रखनी चाहिए श्रीमद् भागवत की ये बातें

Dainik Bhaskar

Jun 09, 2019, 07:10 PM IST



Shrimad Bhagwat :These Things of Should be Kept in Mind For a Happy Married Life
X
Shrimad Bhagwat :These Things of Should be Kept in Mind For a Happy Married Life

जीवन मंत्र डेस्क. पति -पत्नी में छोटे-छोटे झगड़े आम बात हैं, ये जरूरी भी होते हैं रिश्ते की ताजगी के लिए। कभी-कभी ये छोटी- छोटी बातें ही बड़ा रूप भी ले लेती हैं और गृहस्थी नर्क लगने लगती है। वैवाहिक जीवन में आपसी तालमेल बहुत जरूरी होता है। इसके लिए श्रीमद् भागवत की ये तीन बातें ध्यान रखना जरूरी है।

 

1. एक-दूसरे के प्रति सम्मान

2. आपसी विश्वास

3. एक दूसरे के प्रति निष्ठा ।

 

  • इन तीनों में से एक बात की भी अनदेखी हुई तो गृहस्थी बिखरने में देर नहीं लगती। इस बात को श्रीमद् भागवत में दी गई राजा ययाति की कथा से समझ सकते हैं।

 

  • इस कहानी से समझें

राजा ययाति बड़े प्रतापी थे। उनका विवाह दैत्य गुरु शुक्राचार्य की बेटी देवयानी से हुआ था। विवाह पूर्व शुक्राचार्य ने ययाति से वचन लिया था कि वो कभी भी देवयानी के अलावा किसी अन्य स्त्री से संबंध नहीं रखेंगे। जब देवयानी गर्भवती हुईं तो शर्मिष्ठा को उससे ईर्ष्या होने लगी। शर्मिष्ठा, राजा ययाति के महल के पीछे कुटिया में रहती थी। उसने ययाति को अपने रूप जाल में फांस लिया था। एक दिन देवयानी को ये बात पता चल गई। इस पर शुक्राचार्य ने ययाति के भ्रष्ट आचरण की बात सुनकर उसे श्राप दे दिया कि वो युवा अवस्था में ही वृद्ध हो जाए। ययाति ने अपने किए की क्षमा मांगी, लेकिन राजा के वैवाहि क जीवन का सुख, विश्वास और सम्मान, खत्म हो चुका था। इसलिए हमेशा इन तीनों बातों का ध्यान रखना चाहिए।

COMMENT