वास्तु / घर में मंदिर उत्तर-पूर्व दिशा में हो तो बहुत शुभ रहता है, दक्षिण दिशा में मंदिर बनवाने से बचें



vastu tips about temple in home, we should remember these tips about temple
X
vastu tips about temple in home, we should remember these tips about temple

  • मंदिर से जुड़ी 6 बातें ध्यान रखेंगे तो जल्दी सफल हो सकती है पूजा-पाठ

Dainik Bhaskar

Jun 06, 2019, 04:26 PM IST

जीवन मंत्र डेस्क। पूजा-पाठ करने के लिए घर में मंदिर बनाने की परंपरा पुराने समय से ही चली आ रही है। मंदिर के संबंध में शास्त्रों में नियम भी बताए गए हैं। अगर इन नियमों का पालन किया जाता है तो पूजा-पाठ जल्दी सफल हो सकते हैं। उज्जैन ज्योतिषाचार्य और वास्तु विशेषज्ञ पं. मनीष शर्मा के अनुसार जानिए मंदिर से जुड़ी कुछ खास बातें, जिनका ध्यान रखना चाहिए...

मंदिर से जुड़ी ये बातें ध्यान रखें

  1. घर में मंदिर पूर्व या उत्तर दिशा के ईशान कोण (उत्तर-पूर्व) में बनाना चाहिए। वास्तु की मान्यता है कि ईश्वरीय शक्ति ईशान कोण से प्रवेश करती है और नैऋत्य कोण (पश्चिम-दक्षिण) से बाहर निकलती है। अगर ये संभव न हो तो पश्चिम दिशा में बनवा सकते हैं, लेकिन दक्षिण दिशा में मंदिर बनवाने से बचना चाहिए।

  2. पूजा करने वाले व्यक्ति का मुंह पश्चिम दिशा में हो तो शुभ रहता है। इसके लिए मंदिर का द्वार पूर्व दिशा की ओर होना चाहिए। 

  3. घर के मंदिर में प्रतिदिन सुबह और शाम को अगरबत्ती और दीपक जरूर जलाएं। दीपक जलाने से घर के कई वास्तु दोष दूर होते हैं।

  4. शौचालय और पूजा घर पास-पास नहीं होना चाहिए। अगर मंदिर के आसपास बाथरूम है तो दरवाजे हमेशा बंद रखना चाहिए। दरवाजे पर पर्दा भी लगाना चाहिए।

  5. पूजा स्थल के पास थोड़ी जगह खुली भी होना चाहिए, जहां आसानी से बैठकर पूजा की जा सके। पूजा के बाद कुछ देर ध्यान भी करना चाहिए।

  6. मंदिर के आसपास पूजन सामग्री, धार्मिक पुस्तकें, शुभ वस्तुएं रखनी चाहिए। घर का अन्य सामान मंदिर की जगह पर नहीं रखना चाहिए।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना