गुरुनानक जयंती / अच्छे लोगों के साथ अच्छाई फैलती है और बुरे लोगों की वजह से बुराई



guru nanak jayanti 2019 date, 550 prakash parv, guru nanak jayanti 550, kartika purnima 2019
X
guru nanak jayanti 2019 date, 550 prakash parv, guru nanak jayanti 550, kartika purnima 2019

  • एक गांव के बुरे लोगों को गुरुनानक ने दिया आबाद रहने का आशीर्वाद और अच्छे लोगों को दिया था उजड़ जाने का आशीर्वाद

Dainik Bhaskar

Nov 08, 2019, 04:09 PM IST

जीवन मंत्र डेस्क। मंगलवार, 12 नवंबर कार्तिक मास की पूर्णिमा है, इस दिन सिख धर्म के संस्थापक गुरुनानक देव की जयंती है। इस साल 550वीं जयंती मनाई जा रही है। गुरुनानक से जुड़े एक ऐसे प्रेरक प्रसंग प्रसंग प्रचलित हैं, जिनमें सुखी और सफल जीवन के सूत्र छिपे हैं। यहां जानिए एक ऐसा प्रसंग जिसमें गुरुनानक ने बताया है कि अच्छाई और बुराई कैसे फैलती है...

  • प्रचलित प्रसंग के अनुसार गुरुनानक एक गांव से दूसरे गांव भ्रमण कर रहे थे। भ्रमण करते-करते वे एक ऐसे गांव में गए, जहां के लोग बुरे स्वभाव के थे। वे लोग परमात्मा, ज्ञान की बातों पर और पूजा-पाठ में बिल्कुल भी विश्वास नहीं करते थे।
  • गुरुनानक जब इस गांव में पहुंचे तो सभी लोगों ने उन्हें बुरा-भला कहा, अपमान किया, लेकिन नानकदेव शांत रहे। उनके साथ शिष्य भी थे। सभी अपने गुरु को शांत देखकर शांत रहे। अगले दिन जब वे उस गांव से जा रहे थे तब उन्होंने गांव के लोगों को आबाद रहने का आशीर्वाद दिया। सभी शिष्यों के साथ वे उस गांव से आगे बढ़ गए।
  • भ्रमण करते हुए गुरुनानक और शिष्य दूसरे गांव में पहुंच गए, वहां के लोग बहुत ही संस्कारी और धर्म-कर्म में विश्वास रखने वाले थे। उस गांव में नानकदेव और उनके शिष्यों का बहुत सम्मान किया गया। खाने-पीने के लिए पूरी व्यवस्था की। जब नानकदेव उस गांव से विदा हो रहे थे, तब उन्होंने गांव के अच्छे लोगों को उजड़ जाने का आशीर्वाद दिया।
  • ये सुनकर सभी शिष्य हैरान रह गए। वे बोले कि गुरुजी आपने बुरे लोगों को तो आबाद रहने का आशीर्वाद दिया, वो तो ठीक है, लेकिन अच्छे लोगों को उजड़ जाने का आशीर्वाद क्यों दिया?
  • गुरुनानक ने कहा कि बुरे लोग एक ही स्थान पर रहेंगे तो ज्यादा अच्छा रहेगा। बुराई एक जगह सीमित रहेगी। जबकि सज्जन लोग उजड़ेंगे तो जहां भी जाएंगे, वे अपनी अच्छाई फैलाएंगे। ऐसे समाज में संस्कार फैलेंगे और सभी लोग सज्जन बनेंगे। बुरे लोगों की वजह से बुराई फैलती है और अच्छे लोगों के साथ अच्छाई फैलती है। ये सुनकर सभी शिष्य ने गुरुनानक के सामने नतमस्तक हो गए।
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना