महावीर जयंती आज / दान के 35 करोड़ रुपए से शीतलधाम में बन रहा है देश का पहला 108 फीट ऊंचा समवशरण मंदिर, एक साथ विराजेंगे सभी तीर्थकर



india first 108 feet tall samvasharan temple building invidisha
X
india first 108 feet tall samvasharan temple building invidisha

  • समवशरण के अंदर नहीं रहेगा कोई स्तंभ
  • 18 बीघा क्षेत्र में विकसित हो रहा है पूरा मंदिर परिसर
  • 7 साल से चल रहा निर्माण 2020 तक पूरा होगा
     

Dainik Bhaskar

Apr 17, 2019, 05:32 PM IST

रिलिजन डेस्क. जैन समाज के 10वें तीर्थंकर भगवान शीतलनाथ की गर्भ, जन्म, तप और ज्ञान कल्याणक की सिद्ध भूमि शीतलधाम में करीब 35 करोड़ रुपए की लागत से देश का पहला 108 फीट ऊंचा समवशरण मंदिर बन रहा है। साल 2012 से इसका निर्माण कार्यराजस्थान के सेंड स्टोन को तराशकर करवाया जा रहा है। साल 2020 तक इसका निर्माण कार्य पूरा हो जाएगा। इस समवशरण में एक साथ सभी 24 तीर्थंकरों के अलावा भगवान का पूरा दरबार रहेगा। इस समवशरण के अंदर कोई भी स्तंभ नहीं रहेगा। पत्थरों में किसी प्रकार का जोड़ नहीं लगेगा।

इसमें सीमेंट, गारे, सरिया और किसी अन्य सामग्री का इस्तेमाल भी नहीं किया गया है। शीतलधाम की 18 बीघा जमीन में पूरा मंदिर परिसर विकसित किया जा रहा है। विदिशा से भोपाल के बीच ट्रेन से जाने वाले लोगों को मंदिर का निर्माण अभी से आकर्षित करने लगा है। साल 2008 अप्रैल में आचार्यश्री विद्यासागर महाराज ने इसका शिलान्यास किया था। समाज के लोग दान की राशि एकत्रित कर मंदिर का निर्माण करवा रहे हैं।
 

समवशरण मंदिर गोलाई के रूप में होगा। हाल के बीचों-बीच समवशरण की मुक्ति वेदी होगी जिस पर चारों दिशाओं में श्रीजी की प्रतिमा विराजमान होगी। इसके चारों ओर त्रिकाल चौबीसी की 72 जिन प्रतिमाएं विराजमान होंगी। जैन समाज की संस्कृति एवं इतिहास को सुरक्षित करने के लिए इस विशाल मंदिर का निर्माण किया जा रहा है।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना