किसान के घर बचा था 11 महीने का राशन, साल का आखिरी महीना बिना राशन कैसे गुजरेगा इस बात से था परेशान, लेकिन उसकी बहु को पता चला तो बिना किसी परेशानी के पूरे साल राशन की कमी नहीं आने दी / किसान के घर बचा था 11 महीने का राशन, साल का आखिरी महीना बिना राशन कैसे गुजरेगा इस बात से था परेशान, लेकिन उसकी बहु को पता चला तो बिना किसी परेशानी के पूरे साल राशन की कमी नहीं आने दी

Dainikbhaskar.com

Jan 10, 2019, 05:21 PM IST

संयम और समझदारी से काम लें तो किसी भी परेशानी से पा सकते है छुटकारा

motivational story for sharing and life learning how to handle problems

रिलिजन डेस्क. एक पुरानी कहानी (Story) है। किसी गांव में एक किसान था। एक बार फसल कम होने की वजह से परेशान था। घर में राशन 11 महीने चल सके उतना ही था, बाकी एक महीने का राशन कैसे आएगा, कहां से इसका इंतजाम होगा, यह चिंता उसे बार-बार सता रही थी। किसान की बहु ने यह ध्यान दिया कि पिताजी किसी बात को लेकर परेशान हैं। बहु ने किसान से पूछा कि क्या बात है पिताजी। आप इतना परेशान क्यों हैं। तब किसान ने अपनी चिंता का कारण बहु को बताया कि इस साल फसल कम होने कि वजह से 11 महीने चल सके उतना ही राशन है, बाकी एक महीना कैसे गुजरेगा यही सोच रहा हूं।

किसान की यह बात सुनकर बहु ने थोड़ा सोचकर कहा पिताजी, आप चिंता ना करें, बेफिक्र हो जाएं। उसका इंतजाम हो जाएगा। ग्यारह महीने बीत गए, अब बारहवां महीना भी आराम से बीत गया। किसान सोच में पड़ गया कि घर में अनाज तो 11 महीने चले उतना ही था, तो ये 12वां महीना आराम से कैसे गुजरा। किसान ने अपनी बहु को बुलवाकर पूछा - बेटी, 11 महीने का राशन 12वें महीने तक कैसे चला। यह चमत्कार कैसे हुआ।

तब बहु ने जवाब दिया कि पिताजी, राशन तो ग्यारह महीने चले उतना ही था, लेकिन जिस दिन आपने अपनी चिंता का कारण बताया। उसी दिन से रसोई के लिए जो भी अनाज निकालती उसी में से एक-दो मुट्ठी हर रोज वापस कोठी में डाल देती। बस उसी की वजह से यह बारहवें महीने का इंतजाम हो गया और बिना तकलीफ़ के 12 महीने आराम से गुजर गए। किसान ने यह बात सुनी तो दंग सा रह गया और अपनी पुत्रवधू की बचत समझदारी की अक्लमंदी पर गर्व करने लगा।

लाइफ मैनेजमेंट: अगर आपको ये पता है कि भविष्य में कोई परेशानी आपको अचानक घेर सकती है, तो उसके लिए समय रहते ही तैयारी करना समझदारी है। इससे ये भी संभावना बनती है कि शायद आप भविष्य की परेशानियों को पहले ही सुलझा लें। यदि समझदारी और संयम से काम लिया जाए तो किसी भी मुसीबत से आसानी से बाहर निकला जा सकता है।

X
motivational story for sharing and life learning how to handle problems
COMMENT