विज्ञापन

हीरों का व्यापारी कर रहा था ट्रेन में सफर, एक चोर चुराना चाहता था उसके हीरे, व्यापारी ने एक उपाय सोचा और चोर से बचा लिए अपने हीरे / हीरों का व्यापारी कर रहा था ट्रेन में सफर, एक चोर चुराना चाहता था उसके हीरे, व्यापारी ने एक उपाय सोचा और चोर से बचा लिए अपने हीरे

Dainik Bhaskar

Dec 08, 2018, 05:00 PM IST

जो चीज हमारे पास होती है, उसे भी हम दूसरे लोगों के पास ढूंढते हैं

Life Management, Motivational Story, Hindi Stories, Inspiration Story
  • comment

रिलिजन डेस्क। किसी शहर में एक हीरों का व्यापारी रहता था। वह बिजनेस करने दूसरे शहरों में भी जाता था। एक दिन एक ठग को इस बात का पता चल गया। उसने व्यापारी के हीरे चोरी करने की सोची। जिस ट्रेन से व्यापारी दूसरे शहर जा रहा था, वह ठग भी उसी ट्रेन में बैठ गया।
रात हुई तो ठग ने सोचा कि देर रात जब सेठ गहरी नींद में सोएगा, तब मैं चुपके से हीरे चुरा लूंगा। ये सोचकर ठग सो गया। ठग की हरकतें देखकर सेठ को उस पर शक हो गया। सेठ ने सोचा कि अगर मैं रात को सोऊंगा तो ये ठग मेरे हीरे चोरी कर लेगा। सेठ ने एक उपाय सोचा।
जब ठग सो रहा था तो सेठ ने चुपके से उसकी जेब में हीरों की पोटली डाल दी। इसके बाद सेठ आराम से अपनी सीट पर जाकर सो गया। रात में जब ठग जागा तो उसने देखा कि सेठ गहरी नींद में है। ठग ने बड़े आराम से सेठ का पूरा सामान देखा, उसे हीरे नहीं मिले।
इसके बाद ठग ने सेठ के कपड़ों की भी तलाशी ली, उसमें भी हीरे नहीं मिले। ठग थक-हार कर बैठ गया। वो समझ नहीं पा रहा था कि आखिर हीरों की पोटली गई कहां? ठग जाकर वापस अपनी सीठ पर सो गया। सुबह जब सेठ की नींद खुली तो उसने ठग की जेब से हीरे निकाल लिए।
कुछ देर बाद वो स्टेशन भी आ गया, जहां सेठ को उतरना था। सेठ के साथ ठग भी उतर गया। ठग अब भी परेशान था कि हीरों की पोटली गई कहां? उसने जाकर पूरी बात सेठ को
सच-सच बता दी। सेठ ने भी उसे रात की घटना बता दी। सेठ की बात सुनकर ठग ने सोचा कि जिसे मैं सेठ के पास ढूंढ रहा था, वो हीरे तो मेरी अपनी जेब में ही थे।

लाइफ मैनेजमेंट
हमारी लाइफ भी इस कहानी जैसी ही है। जो हमें चाहिए होता है वो चीज हम दूसरों के पास ढूंढते हैं। हमारे जीवन में भी खुश होने के बहुत सारे छोटे-छोटे कारण होते हैं, लेकिन हम उसे दूसरों के पास ढूंढने की कोशिश करते हैं। हम जान ही नहीं पाते कि हमारी खुशियां हमारे कितने पास हैं। इसलिए हमें दूसरों की जेब में हाथ डालने से पहले अपनी जेब भी टटोल लेनी चाहिए।

X
Life Management, Motivational Story, Hindi Stories, Inspiration Story
COMMENT
Astrology

Recommended

Click to listen..
विज्ञापन

किस पार्टी को मिलेंगी कितनी सीटें? अंदाज़ा लगाएँ और इनाम जीतें

  • पार्टी
  • 2019
  • 2014
336
60
147
  • Total
  • 0/543
  • 543
कॉन्टेस्ट में पार्टिसिपेट करने के लिए अपनी डिटेल्स भरें

पार्टिसिपेट करने के लिए धन्यवाद

Total count should be

543
विज्ञापन