विज्ञापन

विष्णु पुराण / गर्भवती महिला और बुजुर्गों सहित इन 5 लोगों को खाने खिलाने के बाद ही परिवार के मुखिया को करना चाहिए भोजन

Dainik Bhaskar

Dec 06, 2018, 01:47 PM IST


life management tips according to vishnu puran
X
life management tips according to vishnu puran
  • comment

रिलिजन डेस्क. हिंदू घर्म ने भोजन करने को लेकर कुछ नियमों का पालन करने की बात कही गई है। विष्णु पुराण में भी भोजन से संबंधित अनेक बातें बताई गई हैं। उसके अनुसार स्वयं भोजन करने से पहले हमें नीचे बताए गए 5 लोगों को पहले भोजन करवाना चाहिए। जो व्यक्ति ऐसा न करते हुए स्वयं पहले भोजन कर लेता है वह पाप करता है। 

आईए जानें ये 5 लोग कौन-से हैं

  1. श्लोक

    ततः स्ववासिनीदुः खिगर्भिणीवृद्धबालकान्।
    भोजयेत्संस्कृतान्नेन प्रथमं चरमं गृही।।


    भावार्थ - गृहस्थ पुरुष को अपने 1. घर में रहने वाली विवाहिता कन्या, 2. घर आए दुखी मनुष्य, 3. गर्भवती स्त्री, 4. बच्चों 5. वृद्ध को भोजन करवाने के बाद ही स्वयं भोजन करना चाहिए।

  2. विवाहित पुत्री


    विवाह के बाद लड़की अपने पिता के घर आए तो अतिथि समझ कर उसे पहले प्रेम से भोजन करवाना चाहिए। यही शिष्टाचार है।

  3. दुखी मनुष्य

    कोई दुखी मनुष्य आपके घर भोजन के लिए आए तो उसे निराश न करें। स्वयं भोजन करने से पहले उसे भोजन करवाना चाहिए।

  4. गर्भवती स्त्री

    गर्भवती स्त्री को गर्भ में पल रहे शिशु के लिए अतिरिक्त पोषण की आवश्यकता होती है। इसलिए पहले उसे भोजन करवाना चाहिए।

  5. बच्चे

    बड़े लोग तो भूख पर नियंत्रण कर लेते हैं, लेकिन छोटे बच्चे ऐसा नहीं कर पाते। इसलिए पहले उन्हें ही भोजन करवाना चाहिए।

  6. वृद्ध

    वृद्ध सम्मानीय होते हैं। इन्हें किसी भी तरह की परेशानी न हो इसके लिए स्वयं भोजन करने से पहले इन्हें भोजन करवाएं।

COMMENT
Astrology

Recommended

Click to listen..
विज्ञापन
विज्ञापन