• Hindi News
  • Religion
  • Jeevan mantra
  • makar sankranti 2020, sun in capricorn, surya ka rashifal, surya ka rashi parivartan, daily rashifal, surya ka makar rashi me pravesh, makar sankranti ka rashifal

राशि परिवर्तन / सूर्य का मकर राशि में प्रवेश; 12 में से 8 राशियों के लिए शुभ रहेगी मकर संक्रांति, हो सकता है लाभ

makar sankranti 2020, sun in capricorn, surya ka rashifal, surya ka rashi parivartan, daily rashifal, surya ka makar rashi me pravesh, makar sankranti ka rashifal
X
makar sankranti 2020, sun in capricorn, surya ka rashifal, surya ka rashi parivartan, daily rashifal, surya ka makar rashi me pravesh, makar sankranti ka rashifal

  • सूर्य की वजह से मेष राशि के लोगों को हो सकता है लाभ, कुंभ राशि के लोग सतर्क रहकर करें काम, मीन राशि के लिए शुभ रहेगा समय

Dainik Bhaskar

Jan 16, 2020, 01:51 PM IST

जीवन मंत्र डेस्क. बुधवार, 15 जनवरी की सुबह से गुरुवार, 13 फरवरी तक सूर्य मकर राशि में रहेगा। जब सूर्य धनु से मकर राशि में प्रवेश करता है, तब मकर संक्रांति मनाई जाती है। सूर्य ने सुबह 8.33 मिनट पर सूर्य श्रवण नक्षत्र के साथ धनु से मकर राशि में प्रवेश किया है। सूर्य के राशि परिवर्तन के समय को लेकर पंचांग भेद भी हैं। उज्जैन के ज्योतिषाचार्य पं. मनीष शर्मा के अनुसार जानिए जानिए सभी 12 राशियों पर सूर्य का कैसा असर होने वाला है...

  • मेष राशि
मकर संक्रांति आपके लिए महत्वपूर्ण है। आपकी साधनाओं को लाभ और सफलता मिल सकती है। कई दिनों से जो कार्य करना चाह रहे थे, वह पूर्ण होगा। ट्रांसपोर्ट और आयात निर्यात वालों को फायदा होगा। आज आप पीले या केशरी रंग के वस्त्र धारण करें। 
शुभ रंग- केशरी, शुभ अंक- 9
  • वृषभ
मकर संक्रांति धर्म-कर्म के साथ मनाएंगे। धार्मिक कार्यों में सम्मिलित होंगे। व्यापार व्यवसाय में तरक्की होगी। शुभ समाचारों की प्राप्ति होगी। संतान के लिए सोचे गए कार्य पूर्ण होंगे। संक्राति पर आप नीले अथवा आसमानी वस्त्रों को धारण करें। 
शुभ रंग- नीला, शुभ अंक- 10
  • मिथुन
मकर संक्रांति पर आपको सचेत रहना होगा। अनजानों पर विश्वास न करें। जोखिम पूर्ण कार्यों को टालने का प्रयास करें। संक्रांति पर आप नीले या काले वस्त्रों को धारण करें। 
शुभ रंग- काला, शुभ अंक- 11
  • कर्क
मकर संक्राति आपके कार्यों के लिए सम्मान दिलाने वाला होगा। नए लोगों से संपर्क होगा। कार्यक्षेत्र का विकास होगा। संक्रांति पर आपको पीले या गुलाबी वस्त्र को धारण करना चाहिए। व्यापार शुभ होगा। 
शुभ रंग- गुलाबी, अंक- 12
  • सिंह
मकर संक्राति का पर्व आपके लिए चिंताजनक हो सकता है। अज्ञात भय रहेगा। जोखिम भरे कार्यों को टालने का प्रयास करें। संक्राति पर लाल वस्त्र धारण करें। 
शुभ रंग - लाल, अंक- 1
  • कन्या
मकर संक्रांति आपके लिए खुशियां बढ़ाने वाली होगी। विशेषकर विद्यार्थिर्यों को बहुत लाभ होगा। हर क्षेत्र में सफलता प्राप्त होगी। व्यापार में तरक्की होगी। संक्रांति पर आपको सफेद वस्त्र धारण करना चाहिए। 
शुभ रंग- सफेद, अंक- 2
  • तुला
बुधवार और मकर संक्रांति के योग की वजह से आपकी परेशानियां बढ़ सकती हैं। ज्यादा चिंता की आवश्यकता नहीं है। कुछ समय बाद प्रसन्नता प्राप्त हो सकती है। सफेद वस्त्र धारण करना श्रेष्ठ होगा। 
शुभ रंग- हरा, अंक- 3
  • वृश्चिक
मकर संक्रांति पर आपको व्यापार में लाभ हो सकता है और परिवार में खुशियां बनी रहेंगी।  नुकसान की भरपाई होगी। अटके धन की प्राप्ति होगी। समस्याओं का समाधान होगा। केशरी वस्त्र धारण करना उचित होगा। 
शुभ रंग- सफेद, अंक- 4
  • धनु
इस पर्व पर आपको संतोष और सुख का अहसास होगा। नए कार्य करने के अवसर मिलेंगे। मान-सम्मान और प्रसिद्धि में वृद्धि होगी। नए संपर्कों की प्राप्ति होगी। संक्राति पर आप पीले वस्त्र का धारण करें।
शुभ रंग- केशरी, अंक- 5
  • मकर
ये पर्व आपके लिए विशेष खुशियां लेकर आ रहा हैं। व्यापार और व्यवसाय आर्थिक लाभ प्राप्त करेंगे। परिवार में आ रहा दबाव समाप्त होगा। सम्मानित लोगों से मिलना होगा। संक्रांति पर नीले वस्त्र धारण करना श्रेष्ठ होगा।
शुभ रंग- हरा, अंक- 6
  • कुंभ
मकर संक्रांति पर आपको सावधान रहना होगा। किसी अनजान व्यक्ति की बातों पर विश्वास न करें। निवेश आदि से बचने का प्रयास करें। संतान पर ध्यान दें। संक्रांति पर सफेद वस्त्र धारण करें। 
शुभ रंग- सफेद, अंक- 7
  • मीन
मकर संक्रांति का यह पर्व लाभ और हर्षदायक समाचार दे सकता है। व्यापार और व्यवसाय में लाभ होगा। संबंधियों और सहयोगियों से सहायता प्राप्त होगी। संक्रांति पर लाल वस्त्र धारण करें। 
शुभ रंग- लाल, अंक- 9
  • क्यों मनाते हैं मकर संक्रांति

पं. शर्मा के अनुसार जब सूर्य एक राशि से दूसरी में प्रवेश करता है तो उसे संक्रांति कहते हैं। सूर्य जब मकर राशि में प्रवेश करता है तो उसे मकर संक्रांति कहा जाता है। इस दिन सूर्य दक्षिणायन से उत्तरायन हो जाता है। इस संबंध में मान्यता है कि सूर्य के उत्तरायन होने से देवताओं के दिन की शुरुआत हो जाती है। इस वजह से इस पर्व का विशेष महत्व है। मकर संक्रांति पर सूर्य पूजन और पवित्र नदियों में स्नान करने और दान-पुण्य करने की प्राचीन परंपरा है। इस बार मकर संक्राति गंधर्व पर सवार होकर आएगी। अपवाहन मेष होगा। 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना