राशिफल / 17 फरवरी बुध रहेगा वक्री, इसकी टेढ़ी चाल से 6 राशियों को मिल सकता है फायदा

February 17 will be retrograde, 6 zodiac signs can benefit from its crooked movement
X
February 17 will be retrograde, 6 zodiac signs can benefit from its crooked movement

  • 17 फरवरी से 10 मार्च तक बुध के कारण कुछ लोगों को मिल सकते हैं तरक्की के मौके

Dainik Bhaskar

Feb 15, 2020, 03:14 PM IST

जीवन मंत्र डेस्क. वर्तमान में बुध कुंभ राशि में है और 7 अप्रैल तक इसी राशि में रहेगा। ज्योतिष में बुध को वाणी, बुद्धि, बिजनेस और लेन-देन का कारक ग्रह माना जाता है। बुध कुंभ राशि में 17 फरवरी, सोमवार से वक्री गति यानी टेढ़ी चाल से चलना शुरू करेगा और 10 मार्च को मार्गी यानी सीधा हो जाएगा। इसके बाद 7 अप्रैल को बुध राशि बदलकर मीन में आ जाएगा। इस तरह बुध की स्थिति में लगातार बदलाव होता रहेगा। ऐसे में बुध के इस वक्री गति से गोचर करने का प्रभाव सभी राशियों पर पड़ेगा।

  • बुध का वक्री होना काफी महत्वपूर्ण माना जाता है क्योंकि बुध संचार व्यवस्था, वाणी, कम्युनिकेशन, लेखन, गणित तथा तार्किक कार्यों का संचालन करता है। बुध के वक्री हो जाने से बात का बतंगड़ बन जाता है। लड़ाई झगड़े, विवाद तथा गलतफ़हमियां भी बुध की वजह से पैदा होती हैं। जो लोग दिमाग का प्रयोग अधिक करते हैं उन्हें समस्या आती है और निर्णय लेने में परेशानी भी होती है। 
  • वक्री बुध केवल अशुभ ही नहीं बल्कि शुभ फल भी देता है। वक्री बुध के प्रभाव से व्यापार में लाभ और धन प्राप्ति होती है। इनकम सोर्स भी बढ़ते हैं। विवादों में विजय मिलती है। 

17 फरवरी से 10 मार्च तक बुध के वक्री होने से आपकी राशि के लिए कुछ ऐसा रहेगा समय 

मेष

बुध के वक्री होने से आपकी आर्थिक स्थिति में सुधार हो सकता है। धन लाभ हो सकता है एवं पुरानी चली आ रही परेशानियां भी दूर हो सकती है। ननिहाल या मामा पक्ष से आपको धन लाभ होने की संभावना है। इन दिनों में आपका कर्जा भी खत्म हो सकता है। लेकिन आपको वाहन सावधानी से चलाना होगा। चोट लगने की संभावना है। 

वृष

बुध के प्रभाव से आपको शेयर मार्केट में फायदा हो सकता है। आपकी योजनाएं पूरी होंगी। आगे बढ़ने के मौके मिलेंगे। कार्यक्षैत्र में आपको नई पहचान मिलेगी। आपके काम की तारीफ हो सकती है, लेकिन आपके खर्चे भी बढ़ सकते हैं। पारिवारिक मामलों के लिए समय शुभ रहेगा। वहीं आपको सेहत को लेकर सावधान भी रहना होगा।

मिथुन

बुध के वक्री होने से आपके लिए समय शुभ कहा जा सकता है। इन दिनों में आपको यात्राएं करनी पड़ सकती है। जिनसे आपको फायदा भी मिलेगा। आपके मान-सम्मान में बढ़ोत्तरी हो सकती है। इस दौरान आपको फायदा भी मिल सकता है। आपकी इनकम बढ़ सकती है। आगे बढ़ने के नए मौके भी मिल सकते हैं। इस दौरान आपको किस्मत का साथ मिल सकता है। 

कर्क

बुध के वक्री होने से आपको सोच-समझकर बोलना होगा। आसपास या साथ के लोग आपकी बातों का गलत मतलब निकाल सकते हैं। इन दिनों में आपकी बचत खत्म हो सकती है। खर्चा भी बढ सकता है। आपको वाहन सावधानी से चलाने होंगे। लेन-देन के मामालों में भी संभलकर रहना होगा। कागजी कामों में किसी पर भी बहुत ज्यादा विश्वास न करें।

सिंह

बुध के प्रभाव से आपको सोचे हुए काम पूरे हो सकते हैं। रोजमर्रा के कामकाज समय पर पूरे हो जाएंगे। आपकी सुख-सुविधाएं भी बढ़ सकती है। बुध के प्रभाव से कार्यक्षैत्र में आपको तरक्की मिल सकती है। कोई नया वाहन या अचल संपत्ति भी आप खरीद सकते हैं। दांपत्य जीवन के लिए भी समय अच्छा रहेगा।

कन्या

बुध के वक्री होने से आपको सेहत संबंधी परेशानी हो सकती है। आपके कामकाज में रुकावटें भी आ सकती हैं। दूर स्थान की यात्राएं हो सकती हैं। इन दिनों में कर्जा बढ़ सकता है। लेन-देन से जुड़ी समस्या भी हो सकती है। बुध के प्रभाव से आपकी बात का गलत मतलब भी निकाला जा सकता है। इसलिए आपको संभलकर रहना होगा।

तुला

बुध के वक्री होने से आपकी योजनाएं अधूरी रह सकती हैं। संतान संबंधी चिंता होने से आप परेशान रहेंगे। कामकाज में रुकावटें आ सकती हैं। अनचाही यात्राओं के योग भी बन सकते हैं। हालांकि लव लाइफ के लिए समय अच्छा रहेगा लेकिन आपको दो तरफा बातें करने से बचना चाहिए। वाणी पर संयम रखें, वरना आपकी बातों से किसी को गलतफहमी हो सकती है।

वृश्चिक

बुध के वक्री होने से आपके सामने प्रॉपर्टी संबंधी परेशानियां आ सकती हैं। वाहन में खराबी आ सकती है और खर्चा भी करना पड़ सकता है। सुख में कमी आएगी। माता की सेहत को लेकर चिंता रहेगी। कार्यक्षेत्र में कामकाज को लेकर तनाव बढ़ने की संभावना है। बुध के कारण आपको लेन-देन में सावधानी रखनी होगी।

धनु

बुध के वक्री होने से आपका पराक्रम बढ़ सकता है। छोटे भाई-बहन या दोस्तों की मदद से आपके काम पूरे हो सकते हैं। छोटी दूरी की यात्राओं का योग भी बनेगा। आपका साहस बढ़ सकता है। मेहनत भी बढ़ेगी और इसके अनुसार इनकम में वृद्धि होने की भी संभावना है। प्रतियोगिता परीक्षा में सफलता मिलने के योग हैं। कई मामलाें में किस्मत का साथ भी मिल सकता है।

मकर

बुध के वक्री होने से आपकी सेहत में उतार-चढ़ाव आ सकते हैं। चोट लगने की संभावना है। परिवार में गलतफहमी हो सकती है। आपकी कही गई बात का बतंगड़ भी बढ़ सकता है। बुध के प्रभाव से धन हानि हो सकती है। इसके अलावा आपको कोई अच्छी खबर भी मिल सकती है। ननिहाल पक्ष में पैसा खर्चा करना पड़ सकता है। यात्राओं के योग भी बनेंगे।

कुंभ

आपकी ही राशि में बुध के वक्री हो जाने से कुछ कामों में देरी होगी और कुछ कामों से फायदा भी हो सकता है। बुध के प्रभाव से आप रोजमर्रा के कामों से जुड़ी योजनाएं बना सकते हैं और उन पर काम भी शुरू कर सकते हैं। लेकिन उन कामों में देरी हो सकती है। दांपत्य जीवन में उतार-चढ़ाव आ सकते हैं। संतान संबंधी चिंता बनी रहेगी। आपकी सेहत में भी उतार-चढ़ाव आ सकते हैं। चोट लगने की संभावना बन रही है। लेन-देन और निवेश में आपको फायदा मिल सकता है। 

मीन

बुध के प्रभाव से आपको धन लाभ हो सकता है तो खर्चा भी बढ़ने की संभावना बन रही है। अचानक यात्राएं हो सकती हैं। बिजनेस से जुड़ी या कार्यक्षेत्र संबंधी यात्राओं के योग बन रहे हैं। सेहत का ध्यान रखना होगा। किसी से विवाद भी हो सकता है। आपकी बातों का गलत मतलब निकाला जा सकता है। इन दिनों में नौकरीपेशा लोग स्थान परिवर्तन की कोशिश भी कर सकते हैं।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना