• Hindi News
  • Jeevan mantra
  • Shani Sadesati 2020, Shani In Capricorn, Shani In Makar, Shani Ka Rashi Parivartan 23 Jan 2020, Effects Of Shani, Kumbh, Makar, Dhanu, Mithun, Tula, Shani Transit In Makar

23 जनवरी 2020 को शनि बदलेगा राशि, वृश्चिक राशि की साढ़ेसाती खत्म होगी और कुंभ की शुरू होगी

2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

जीवन मंत्र डेस्क। ज्योतिष में बताए गए नौ ग्रहों में शनि को न्यायाधीश माना गया है। शनि ही हमारे कर्मों का शुभ-अशुभ फल प्रदान करता है। उज्जैन के ज्योतिषाचार्य पं. मनीष शर्मा के अनुसार शनि गुरुवार, 23 जनवरी को धनु राशि से मकर राशि में प्रवेश करेगा। ये ग्रह एक राशि में करीब ढाई साल रुकता है। कई बार शनि वक्री होकर भी राशि बदलता है, लेकिन इस साल ऐसा नहीं होगा। 2020 में शनि वक्री होगा, लेकिन राशि नहीं बदलेगा यानी पूरे साल ये ग्रह मकर राशि में ही रहेगा। शनि सोमवार, 11 मई को वक्री होगा। मंगलवार, 29 सितंबर को शनि फिर से मार्गी हो जाएगा। 
शनि के राशि बदलने से 23 जनवरी के बाद वृश्चिक राशि की साढ़ेसाती खत्म हो जाएगी। वृषभ और कन्या राशि का ढय्या उतर जाएगा। मकर राशि में शनि का प्रवेश होने से कुंभ राशि पर साढ़ेसाती शुरू हो जाएगी। इस राशि पर साढ़ेसाती का पहला ढय्या रहेगा। मकर राशि पर दूसरा और धनु राशि पर अंतिम ढय्या रहेगा। मिथुन और तुला राशि पर शनि का ढय्या शुरू हो जाएगा।

  • धनु राशि- इस राशि साढ़ेसाती का अंतिम ढय्या रहेगा। उतरती हुई साढ़ेसाती धनु राशि के लिए लाभदायक रहेगी। हालांकि इन लोगों मेहनत ज्यादा करनी होगी, लेकिन मेहनत का फल भी मिलेगा। धन-संपत्ति में बढ़ोतरी हो सकती है।
  • मकर राशि- इस राशि पर शनि की साढ़ेसाती का दूसरा ढय्या रहेगा। इन लोगों को कड़ी मेहनत करनी होगी, तभी सफलता मिल पाएगी। खर्चों में बढ़ोतरी हो सकती है। परिवार में वाद-विवाद हो सकता है, धैर्य बनाए रखें। जल्दबाजी में कोई काम न करें।
  • कुंभ राशि- इस राशि पर शनि की साढ़ेसाती शुरू हो रही है। इस वजह से इन लोगों को विशेष सावधानी रखने की जरूरत है। इन लोगों के लिए शनि लाभदायक रहेगा। परिश्रम करते जाएंगे तो सफलता भी मिलती जाएगी। लंबी दूरी की यात्रा के योग भी बन रहे हैं।
  • मिथुन राशि- 23 जनवरी के बाद इस राशि पर शनि का ढय्या शुरू हो रहा है। इन लोगों के लिए शनि कठिन परिश्रम कराने वाला रहेगा। खर्च की अधिकता, वाद-विवाद, नौकरी में बाधाओं का सामना करना पड़ सकता है। अभी धैर्य बनाए रखने का समय है।
  • तुला राशि- इस राशि पर भी शनि का ढय्या शुरू होगा। इन लोगों के लिए शनि की ये स्थिति लाभदायक रहेगी। नौकरी में सफलता मिल सकती है। व्यापारियों के लिए लाभ के अवसर बन सकते हैं। अविवाहितों की शादी हो सकती है। भूमि-भवन से संबंधित कामों में लाभ मिलने के योग हैं।
  • यहां बताई गई 5 राशियों के अतिरिक्त शेष 7 राशियों के लिए शनि का असर अलग-अलग रहेगा। मेष, वृष, कर्क, कन्या, वृश्चिक के लिए शनि की स्थिति शुभ रहेगी। इन लोगों को शनि की वजह से लाभ मिल सकता है। सिंह और मीन राशि के लोगों को सावधान होकर काम करना होगा। अन्यथा हानि हो सकती है।
  • शनि के अशुभ असर से बचने के लिए हर शनिवार तेल का दान करने की परंपरा है। हनुमानजी की पूजा करें। हनुमान चालीसा का पाठ करें। शनि के मंत्र ऊँ शं शनैश्चराय नम: मंत्र का जाप करें। मंत्र जाप हर शनिवार कम से कम 108 बार करें।
खबरें और भी हैं...