हिंदू वर्ष का दूसरा महीना वैशाख 20 अप्रैल से, इस महीने में है भगवान शिव और विष्णु की पूजा का विशेष महत्व  

इस बार वैशाख मास में 9-9 सर्वार्थ सिद्धि और रवि योग, एक अमृत सिद्धि भी

Dainik Bhaskar

Apr 17, 2019, 08:00 PM IST
Vaishakh Month 2019, Importance of Vaisakh Month, Vaishakh Month in Religious Studies, What to Do in Vaisakh Month

रिलिजन डेस्क। इस बार 20 अप्रैल शुक्रवार से वैशाख मास शुरू होगा। हिंदू नववर्ष का यह दूसरा महीना है। इस महीने में भगवान विष्णु और शिव का पूजन, तीर्थ में स्नान, पितरों को तर्पण तथा फलों का दान करने का विशेष महत्व है।
उज्जैन के ज्योतिषाचार्य पं. अमर डिब्बावाला के अनुसार, वैशाख में विष्णु भगवान की पूजा और पीपल को सींचने का महत्व है। भगवान विष्णु की तुलसी पत्र से पूजा की जाती है। भगवान विष्णु को सुबह, दोपहर और शाम को राम व श्याम तुलसी चढ़ाने से पापों से मुक्ति मिलने की मान्यता है। इस महीने में तीर्थ स्नान के बाद पीपल को जल, कच्चा दूध व जल चढ़ाकर दीपक लगाने की शास्त्रोक्त परंपरा है।

शिवलिंग पर बांधी जाती है गलंतिका
वैशाख मास में शिवलिंग के ऊपर गलंतिका (एक मटकी जिसमें से बूंद-बूंद पानी टपकता रहता है) बांधी जाती है। इसके पीछे मान्यता है कि भगवान शिव के गले में जो विष है, उसके कारण उनके शरीर की गर्मी बहुत बढ़ जाती है। इसी को शांत करने के लिए शिवलिंग पर गलंतिका बांधी जाती है।

ये हैं वैशाख मास के मुख्य व्रत, त्योहार
30 अप्रैल- वरुथिनी एकादशी, वल्लभाचार्य जयंती
2 मई- प्रदोष व्रत
4 मई- शनिश्चरी अमावस्या
7 मई- अक्षय तृतीया, परशुराम जयंती
9 मई- शंकराचार्य जयंती
10 मई- रामानुजाचार्य जयंती
13 मई- सीता नवमी
15 मई- मोहिनी एकादशी
16 मई- प्रदोष
17 मई- नृसिंह जयंती
18 मई- बुद्ध जयंती, कुर्म जयंती, वैशाख पूर्णिमा

वैशाख मास में बनेंगे ये योग
सर्वार्थ सिद्धि योग

20 अप्रैल- सुबह 6.10 से शाम 6.02
22 अप्रैल- सुबह 6.10 से शाम 4.40 तक
26 अप्रैल- सूर्यास्त से पूरी रात
02 मई - दोपहर 1 से अगली सुबह तक
06 मई- शाम 4.40 से पूरी रात
09 मई- दोपहर 3.19 से 10 मई- दोपहर 2.21
15 मई- सुबह 7.18 से पूरी रात

रवि योग
24 अप्रैल- शाम 6.40 से 25 अप्रैल- शाम 8.40 तक
05 मई- सूर्योदय से शाम 4 बजे तक
07 मई- शाम 4.30 बजे से रात 12 बजे तक
09 मई- दोपहर 3.22 से 10 मई- सुबह 7.40 तक
13 मई- सुबह 10.40 से सूर्यास्त तक
16 मई - मध्य रात्रि से 17 मई मध्य रात्रि तक

अमृत सिद्धि योग
03 मई - सूर्योदय से दोपहर 3 बजे तक


X
Vaishakh Month 2019, Importance of Vaisakh Month, Vaishakh Month in Religious Studies, What to Do in Vaisakh Month
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना