नवरात्र षष्ठी तिथि / देवी कात्यायनी की पूजा से दूर होते हैं रोग, शोक, संताप और भय



worship method of goddess katyayani mata at shashti tithi
X
worship method of goddess katyayani mata at shashti tithi

Dainik Bhaskar

Apr 10, 2019, 04:02 PM IST

रिलिजन डेस्क. नवरात्र की षष्ठी तिथि (15 अक्टूबर, सोमवार) की प्रमुख देवी मां कात्यायनी हैं। महर्षि कात्यायन की तपस्या से प्रसन्न होकर आदिशक्ति ने उनके यहां पुत्री के रूप में जन्म लिया था। इनकी चार भुजाएं हैं। माताजी की दाहिनी ओर ऊपर वाला हाथ अभयमुद्रा में है तथा नीचे वाला हाथ वर मुद्रा में है। बाएं तरफ के ऊपर वाले हाथ में तलवार है और नीचे वाले हाथ में कमल का फूल है। इनकी पूजा से रोग, शोक, संताप, भय आदि नष्ट हो जाते हैं।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना