Capricorn

मकर राशि

 

1 से 10 नवंबर - चंद्र द्वादश है। आरंभ में कुछ दिक्कतें आ सकती हैं। 3 तारीख से वर्चस्व बढ़ेगा एवं नए कार्य की प्राप्ति होगी। आय भी अच्छी बनी रहेगी। विरोधी का स्वर नीचे होगा। कार्यक्षेत्र का विस्तार होगा। स्वयं की सूझ-बूझ से सभी कार्य करने में सफल होंगे। वरिष्ठ सहयोग प्रदान करेंगे एवं व्यापार में वृद्धि होगी। 

11 से 20 नवंबर - मंगल की दृष्टि प्राप्त होगी। गुरु द्वादश हो चुका है। चंद्रमा चतुर्थ होने से 13 तक स्थितियां पक्ष की नहीं रहेंगी। कार्य में बाधाएं आएंगी। उसके बाद से समय पक्ष का हो जाएगा। प्रतिष्ठित लोगों सें मिलने का अवसर प्राप्त होगा एवं कार्य स्थान पर प्रभाव बना रहेगा। नौकरी में कनिष्ठ अनुकूल बने रहेंगे एवं कारोबार की गति बनी रहेगी। 19-20 को चिंता रहेगी। 

21 से 30 नवंबर - चंद्रमा नवम रहेगा। आय अच्छी बनी रहेगी एवं कार्य समय पर संपन्न होंगे। संतान से सुख मिलेगा एवं विरोधी नियंत्रण में रहेंगे। योजनाएं सफल होंगी। माहांत के समय विपरीत परिणाम दे सकता है। निवेश करने से पूर्व विचार करें एवं किसी को उधार नहीं दें। विवाद की स्थितियां भी बन सकती है। वाहन से कष्ट होगा।


नौकरी - इस महीने कार्य क्षेत्र में आपका वर्चस्व बढ़ेगा। कोई बड़ी टास्क आप समय से पहले पूरी कर पाएंगे। अधिकारियों का आपके प्रति रवैया सहयोगात्मक रहेगा। 


व्यापार - व्यापार में इस महीने अच्छा-खासा प्रॉफिट मिल सकता है। आपकी योजनाएं एकदम सटीक तरह से पूरी होंगी। कर्मचारियों और साझेदारों का भी सहयोग मिलेगा। 


परिवार - परिवार के लिए समय अच्छा है। माता-पिता के स्वास्थ्य से जुड़ी चिंताएं कम होंगी। आपको सहयोग मिलेगा। संतान से सुख प्राप्त होगा। कोई सुखद सूचना आपको मिल सकती है। 


सेहत - सेहत ठीक है लेकिन शनि की साढ़ेसाती का पूर्ण प्रभाव आप पर रहेगा। इस कारण वाहन चलाने में काफी सावधानी बरतें, चोट लगने की आशंका बनी हुई रहेगी। 


दाम्पत्य - दाम्पत्य में सहयोग और समर्पण का माहौल रहेगा। जीवनसाथी आपके मन की बात और आपकी परिस्थितियों को बेहतर तरीके से समझेगा। प्रेम संबंधों में भी सफलता मिलेगी। 


सम्पत्ति - सम्पत्ति में लाभ के अवसर हैं। आप पुराना मकान या दुकान बेचने का मन बना सकते हैं। किसी भी तरह से आपको एक लाभदायक अवसर मिल सकता है। 


उपाय - 

 

  • हर मंगलवार और शनिवार घर में सुंदरकांड का पाठ करें। 

  • अपने गुरु मंत्र का जितना हो सकते उतना अधिक जाप करें।