Gemini

मिथुन राशि

 

1 से 10 नवंबर - शनि, चंद्र एवं केतु की दृष्टि राशि पर रहेगी। राहु का गोचर है। आय अच्छी रहेगी। निजता भंग हो सकती है। समस्याओं को निपटाने में अतिरिक्त प्रयास करने होंगे। पुराने मित्रों से मुलाकात होगी। कार्य समय पर होंगे एवं सहयोग भी मिलेगा। कारोबार में अनजानों से सावधान रहें एवं नौकरी में टूर बन सकता है। गुरु के धनु प्रवेश से दृष्टि प्राप्त होगी। 

11 से 20 नवंबर - गुरु, शनि एवं केतु की दृष्टि प्राप्त होंगी। कार्य में गति आएगी। योजनाएं सफल होंगी एवं सहयोग प्राप्त होगा। व्यापार में तरक्की होगी। नौकरी में स्थान परिवर्तन का योग बना हुआ है। स्वास्थ्य कमजोर रह सकता है। बेकार की बातों में समय नष्ट होगा। 18 के बाद समय पुन: पक्ष का हो जाएगा। कार्यों में सफलता मिलना आरंभ होगी। 

21 से 31 नवंबर - आय में वृद्धि होगी एवं संतान सहयोग प्राप्त होगा। कारोबार में नए संपर्क स्थापित होंगे एवं परिवार से सहयोग प्राप्त होगा। यात्रा सुखद होगी एवं नए क्षेत्र में प्रवेश का अवसर प्राप्त होगा। 24-25 नवंबर को कार्य स्थान पर विवाद हो सकता है। 27 को वाहन से कष्ट एवं चोट का भय रहेगा। प्रेम में सफलता प्राप्त होगी एवं वैवाहिक जीवन सुखमय रहेगा। माहांत में छ: ग्रहों का प्रभाव राशि पर रहेगा।


नौकरी - जॉब में समय ठीक गुजरेगा। आप अपने टारगेट को पूरा करने में अतिरिक्त समय और शक्ति लगाएंगे। अधिकारियों की अपेक्षाओं का दबाव और तनाव आप पर रह सकता है। 


व्यापार - व्यापार में अच्छे मौके मिलने के योग हैं। किसी नए व्यक्ति या कंपनी के संपर्क में आ सकते हैं। लाभ के मौके मिलेंगे। व्यापार के सिलसिले में कोई यात्रा भी हो सकती है। 


परिवार - परिवार के लिए समय उत्तम रहेगा। पुराने मित्रों से भी सहयोग मिलेगा। भाइयों से मतभेद दूर होंगे। माता के स्वास्थ्य में सुधार होगा। संतान से अपेक्षाएं रहेंगी। 


सेहत - पेट से संबंधित कोई परेशानी सामने आ सकती है। शरीर में थोड़ा दर्द और स्ट्रेस रह सकता है। आपको जीवनशैली में थोड़ बदलाव करने का समय है। 


दाम्पत्य - दाम्पत्य मधुर रहेगा। कोई अच्छी सूचना आपके बीच का प्रेम बढ़ाएगी। प्रेमियों के लिए समय अच्छा रहेगा। किसी नजदीकी आदमी से आपको सावधान रहना पड़ सकता है। 


सम्पत्ति - सम्पत्ति के लिए समय सामान्य रहेगा। कोई बड़ा सौदा इस माह सामने नहीं आएगा। आपको कानूनी मामलों पर अनुभवी लोगों से सलाह लेने की जरुरत पड़ सकती है। 

 

उपाय -

 

  • गणपति के मंदिर में नारियल और दुर्वा अर्पित करें। 

  • बच्चों को मोदक बांटें।